बरेली : साक्षी मिश्रा के बाद अब एक और लव मैरिज चर्चा में, Video Viral होते ही विरोध शुरू

मामला सामने आने के बाद हिंदू संगठन भी लामबंद होते नजर आ रहे हैं.
मामला सामने आने के बाद हिंदू संगठन भी लामबंद होते नजर आ रहे हैं.

Bareilly News: पुलिस के अनुसार युवती का वीडियो वायरल हाेने से पहले ही इस संबंध में मामला दर्ज है. वहीं अब हिंदू संगठनों ने मामले का विरोध करना शुरू कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 4:12 PM IST
  • Share this:
बरेली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बरेली (Bareilly) में साक्षी मिश्रा (Sakshi Mishra) लव मैरिज प्रकरण के बाद एक ऐसा ही और मामला सामने आया है. यहां के किला थाना क्षेत्र की रहने वाली एक युवती ने गैर समुदाय के लड़के के साथ भागकर प्रेम विवाह (Love Marriage) कर लिया. अब उसने वीडियो वायरल कर जिले के एसएसपी से पति के परिवार को छोड़ने की गुहार लगाई है. वायरल वीडियो में युवती खुद को बालिग़ बताते हुए अपने माता-पिता से केस वापस लेने की भी बात कह रही है. उधर वीडियो सामने आते ही हिंदू संगठनों का विरोध भी शुरू हो गया है.

वीडियो में लड़की खुद को बालिग़ बता रही है और कह रही है कि उसने बिलाल से शादी कर ली है. वह अपने पति के परिजनों को निर्दोष बताते हुए किसी भी तरह की कानूनी कार्रवाई न करने की बात कह रही है. उधर मामला दो समुदायों से जुड़ा होने की वजह से पुलिस भी अलर्ट है.

मामले में पहले ही दर्ज है मुकदमा
मामले में एसपी रवींद्र कुमार ने कहा कि 17 अक्टूबर को किला थाने में एक तहरीर प्राप्त हुई. जिसके आधार पर धारा 363 और 366 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया. चूंकि मामला महिला से जुड़ा था, लिहाज सर्वोच्च प्राथमिकता से लेते हुए चार टीमों को युवती की बरामदगी के लिए लगाया गया है. अभी तक टीमों को सफलता नहीं मिली है. इस बीच सोशल मीडिया के माध्यम से युवती का एक वीडियो सामने आया है. जिसमें युवती खुद को बालिग़ बताते हुए शादी करने की बात कह रही है. इस वीडियो का संज्ञान लिया गया है. पुलिस का कहना है कि हमारी प्राथमिकता युवती की बरामदगी और फिर कोर्ट में 164 के तहत कलमबंद बयान दर्ज करवाने की है.




हिंदू संगठनों का थाने पर बवाल
उधर मामला सामने आने के बाद हिंदू संगठन भी लामबंद होते नजर आ रहे हैं. हिन्दू संगठन इसे लव जिहाद का नाम देकर आरोपी की गिरफ़्तारी की मांग कर रहे हैं. हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने थाने में पहुंचकर जमकर हंगामा किया और कुर्सियां भी तोड़ दी. उधर परिजनों का आरोप है कि उनकी लड़की नाबालिग है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज