बरेली: तीन तलाक के बाद ससुर के साथ हलाला, फिर शौहर ने किया रेप

सुल्ताना को शादी के बाद महज 24 दिनों तक ही ससुराल में रखा गया और उसके बाद उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया. बाद में सुल्ताना को उसके पति ने तीन तलाक दे दिया.

HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 2:01 PM IST
बरेली: तीन तलाक के बाद ससुर के साथ हलाला, फिर शौहर ने किया रेप
हलाला पीड़िता सुल्ताना
HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 2:01 PM IST
हलाला की आड़ में महिलाओं के यौन शोषण का एक और मामला सामने आया है. संभल की रहने वाली महिला का आरोप है कि उसके शौहर ने उसे तीन तलाक देने के बाद अपने पिता के साथ हलाला करने पर मजबूर किया. ससुर के तलाक देने के बाद जब वह इद्दत का वक्त गुजार रही थी, इसी दौरान उसके पति ने उसके साथ कई बार जबरन रेप किया. इस बीच जब वह गर्भवती हो गई तो जबरन गर्भपात कराने की कोशिश की गई. किसी तरह पुलिस की मदद से अपने शौहर के चंगुल से छूटी इस महिला ने बरेली के 'मेरा हक़' फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी से मिलकर इंसाफ की गुहार लगाई है.

संभल जिले की रहने वाली सुल्ताना (बदला हुआ नाम) का भी नाम उस लिस्ट में जुड़ गया है, जिनके साथ शरियत की आड़ में घिनौना खेल खेला गया. सुल्ताना को शादी के बाद महज 24 दिनों तक ही ससुराल में रखा गया और उसके बाद उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया. बाद में सुल्ताना को उसके पति ने तीन तलाक दे दिया. सुल्ताना ने जब अपने ससुराल वालों पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया तो उसके पति ने उसे अपने साथ रखने का वादा करके मामले में समझौता करवा लिया. फिर अपने ही पिता से उसके पति ने सुल्ताना का हलाला करवाया. इतना ही नहीं इद्दत के दिन बीत भी नहीं पाए थे कि सुल्ताना के पति ने उसके साथ जबरन रेप किया.

पति की इस घिनौनी हरकत के बाद जब सुल्ताना गर्भवती हो गई तो उससे गर्भपात कराने का दबाव बनाया गया. जब वह नहीं मानी तो 15 दिनों तक उसे भूखा प्यासा घर मे कैद रखा गया. लेकिन इस बीच सुल्ताना ने किसी तरह पुलिस को सूचना दे दी, जिसके बाद पुलिस ने उसे पति के कैदखाने से मुक्त करवाया. सुल्ताना अब एक बच्चे की मां बन गई है, लेकिन उसे नहीं मालूम कि बच्चे का पिता कौन है.

जब पुलिस में भी सुल्ताना के मामले की सुनवाई नहीं हुई तो उसने केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन और 'मेरा हक़' फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नक़वी से मदद की गुहार लगाई है. इस मामले में फरहत नक़वी का कहना है कि वो अल्पसंख्यक आयोग में इस मामले की शिकायत करेंगी और जरूरत पड़ी तो सुल्ताना का केस सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचाएंगी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर