वायरल वीडियो में रिश्वतखोरी के बंटवारे का खुलासा, आरोपी 10 पुलिसकर्मी सस्पेंड, FIR दर्ज

वायरल वीडियो में क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मी रिश्वत के रूप में वसूले गए पैसों के बंटवारे की बात कह रहे हैं (न्यूज़ 18 यूपी/यूके चैनल से ग्रैब)
वायरल वीडियो में क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मी रिश्वत के रूप में वसूले गए पैसों के बंटवारे की बात कह रहे हैं (न्यूज़ 18 यूपी/यूके चैनल से ग्रैब)

मामला सामने आने के बाद क्राइम ब्रांच बरेली में तैनात दो दरोगा और आठ स‍िपाह‍ियों को एसएसपी ने तत्‍काल प्रभाव से सस्‍पेंड कर द‍िया है. साथ ही वीडियो में दिख रहे सभी पुलिसकर्मियों के ख‍िलाफ कोतवाली में भ्रष्‍टाचार न‍िवारण अध‍िन‍ियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 7:18 PM IST
  • Share this:
बरेली. उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) के भ्रष्‍टाचार की खबर न्यूज़ 18 पर दिखाए जाने के बाद महकमे में हड़कंप मच गया है. इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) रोहित सिंह सजवाण ने कार्रवाई करते हुए पूरी टीम को सस्पेंड कर दिया है. आरोपी सभी दस पुलिसकर्मियों पर भ्रष्‍टाचार अधिनियम के तहत शहर कोतवाली में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई गई है. दरअसल कुछ द‍िन पहले क्राइम ब्रांच में तैनात पुल‍िसकर्म‍ियों का एक वीड‍ियो वायरल (Video Viral) हुआ था. इसमें पुल‍िसकर्मी अवैध तरीके (Corruption) से वसूले गए रुपयों का आपस में बंटवारा करते नजर आ रहे थे. एसएसपी रोह‍ित स‍िंह सजवाण ने वायरल वीड‍ियो से गंभीरता से लेते हुए इस मामले के तत्‍काल जांच के आदेश दिए थे. प्रारंभ‍िक रूप में यह मामला भ्रष्‍टाचार का नजर आया है.

न्यूज़ 18 ने पुलिसकर्मियों की रिश्वतखोरी और अवैध कमाई को आपस में बंटवारा करते हुए दिखाया था. मामला सामने आने के बाद क्राइम ब्रांच बरेली में तैनात दो दरोगा और आठ स‍िपाह‍ियों को एसएसपी ने तत्‍काल प्रभाव से सस्‍पेंड कर द‍िया है. साथ ही वीडियो में दिख रहे सभी पुलिसकर्मियों के ख‍िलाफ कोतवाली में भ्रष्‍टाचार न‍िवारण अध‍िन‍ियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.






एसएसपी सजवाण ने बताया क‍ि अंतर‍िम जांच र‍िपोर्ट में यह वायरल वीड‍ियो अप्रैल-मई का होना पाया गया है. आरोपी पुल‍िसकर्म‍ियों की इस करतूत जनता में पुल‍िस विभाग की काफी किरकिरी हो रही है. जांच र‍िपोर्ट के आधार पर इन सभी पुल‍िसकर्म‍ियों को सस्‍पेंड कर उनके ख‍िलाफ भ्रष्‍टाचार न‍िवारण अध‍िन‍ियम के तहत केस दर्ज किया गया है. इन सभी के ख‍िलाफ व‍िभागीय कार्रवाई जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज