होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Bareilly News: 1700 करोड़ से तैयार होगा ग्रेटर बरेली, मिलेंगी ये सुविधाएं, जानें BDA का प्लान

Bareilly News: 1700 करोड़ से तैयार होगा ग्रेटर बरेली, मिलेंगी ये सुविधाएं, जानें BDA का प्लान

ग्रेटर बरेली प्‍लान पर 1700 करोड़ रुपए खर्च होंगे.

ग्रेटर बरेली प्‍लान पर 1700 करोड़ रुपए खर्च होंगे.

Greater Bareilly : बरेली विकास प्राधिकरण ने 1700 करोड़ रुपये की मदद से ग्रेटर बरेली बसाने की योजना शुरू की है. ग्रेटर ब ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – अंश कुमार माथुर

बरेली. बीडीए ने ग्रेटर बरेली बसाने के लिए अपना खजाना खोल दिया है. इसके अंतर्गत किसानों को जमीन के बदले 1200 करोड़ रुपए दिए जाएंगे. इस समय बरेली विकास प्राधिकरण के खजाने में 500 करोड़ रुपए हैं.वहीं, बाकी पैसे का इंतजाम करने के लिए बीडीए जुट गया है. बरेली विकास प्राधिकरण का दावा है कि बरेली में ग्रेटर बरेली के जरिए उसे 2000 करोड़ से अधिक की कमाई होगी.

ग्रेटर बरेली में झील, जिम, स्टेडियम, साइकिल ट्रैक, आधुनिक टॉयलेट, 200 सीट वाला पुस्तकालय, छोटी कैंटीन के साथ स्कूल, 4 हेक्टेयर में पार्क, योग केंद्र, इलेक्ट्रॉनिक चार्जिंग प्‍वाइंट के साथ उच्च सुविधा वाला अस्पताल भी होगा. साथ ही एक संग्रहालय भी बनाया जाएगा. इसमें रुहेलखंड के जिलों के ऐतिहासिक स्थल और घटनाओं की झलक दिखाई जाएगी. रामगंगा आवासीय योजना से बीडीए का खजाना भी भरा है और पिछले काफी समय से 17 करोड़ के बैंक कर्ज में डूबा बरेली विकास प्राधिकरण उभरा भी और अब तक 500 करोड़ की बैंक एफडी का मालिक भी बन गया है. अब बरेली विकास प्राधिकरण इसी से विकास के पथ पर आगे बढ़ते हुए ग्रेटर बरेली कॉलोनी बसाने की कवायद शुरू कर रहा है.

सीएम योगी ने की थी ग्रेटर बरेली प्‍लान की तारीफ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित दो दिवसीय नेशनल अर्बन प्लानिंग मैनेजमेंट कॉन्क्लेव-2022 में लगे बरेली विकास प्राधिकरण के स्टाल का भ्रमण किया. इस दौरान सीएम ने बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह के ग्रेटर बरेली मॉडल की सराहना की. अब बरेली विकास प्राधिकरण इस प्रोजेक्ट को अमली जामा पहनाने की शुरुआत करने जा रहा है.

किसानों से किया जा रहा है संपर्क
ग्रेटर बरेली सात गांव की 225 हेक्टेयर भूमि पर विकसित होगा. बीडीए ने ग्रेटर बरेली के लिए पूरा प्लान तैयार कर लिया है और अब संबंधित गांवों का निरीक्षण कर बरेली विकास प्राधिकरण के अधिकारी किसानों से संपर्क भी साध रहे हैं. बरेली में अभी 7 गांव की 225 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण होगा. इनमें गांव मोहनपुरिया (रामनगर), अहरौला, कचौली, कंथरी, इटौवा बेनीराम, बलीपुर, नवदिया झादा शामिल हैं. इससे गांव के लगभग 800 किसानों को लाभ मिलेगा. बीडीए के मुताबिक, अब तक 65 से अधिक किसानों ने अपनी जमीन देने के लिए सहमति पत्र भर दिए हैं. ऐसे किसानों से दिवाली के बाद जमीनों के बैनामें की प्रक्रिया शुरू होगी. जैसे ही किसान बैनामा करेंगे उन्हें तुरंत ही बीडीए की तरफ से चेक भी प्रदान कर दिए जाएंगे.

भुगतान किसानों को दिया जाएगा
किसानों को उनकी भूमि एंव नलकूपों का भी मुआवजा मिलेगा. बीडीए द्वारा अधिग्रहित भूमि के बदले सर्किल रेट से 4 गुना ज्यादा कीमत का भुगतान किसानों को दिया जाएगा. बीडीए जमीन अधिग्रहण के नियमों के तहत गांव में सामाजिक सर्वेक्षण भी कर रहा है. ग्रेटर बरेली कॉलोनी के बनने से लोगों को भी क्या-क्या लाभ मिलेगा यह भी सर्वे में बताया जा रहा है. इसी के साथ ही किसानों की ओर से खेतों में लगाए गए नलकूप आदि पर खर्च की गई रकम का आकलन भी किया जाएगा.

बरेलीवासियों को मिलेगा नया हाईटेक बरेली
बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह ने बताया कि ग्रेटर बरेली प्रोजेक्ट की प्रकिया लगभग पूरी हो चुकी है. बहुत जल्द बरेली वासियों के लिए हाईटेक सुविधा के साथ एक नया बरेली ग्रेटर बरेली के रूप में नजर आएगा.

Tags: Bareilly news, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें