बरेली: बच्‍चों को क्‍लास में बंद कर घंटोंं गायब रही टीचर

ये पूरा मामला शहर के नवाबगंज थाना क्षेत्र के रिछोला गांव का है. यहां के रिछोला चौधरी विद्यालय में पढ़ाने वाली शिक्षिका बच्‍चों को क्‍लास में बंद करके अपने घर चली गई.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 28, 2018, 2:20 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 28, 2018, 2:20 PM IST
यूपी के बरेली में एक स्कूल में टीचर की बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां मासूम बच्चों को स्कूल में बंद कर टीचर  गायब हो गई, जब घंटों बीतने के बावजूद कोई स्‍कूल नहीं पहुंचा तो मासूम बच्चे रोने लगे. स्‍कूल से बच्चों की रोने की आवाज सुनकर ग्रामीणों ने फोन कर पुलिस को  बुलाया. पुलिस ने  विद्यालय के गेट का ताला तोड़कर बच्चों को बाहर निकाला.

ये पूरा मामला शहर के नवाबगंज थाना क्षेत्र के रिछोला गांव का है. यहां के रिछोला चौधरी विद्यालय में प्राथमिक और उच्च प्राथमिक कक्षाएं एक ही कैंपस में चलती हैं. एक में प्रधानाध्यापक महेश चंद्र दिवाकर तो दूसरे में सुजाता हैं. दोनों का कहना है कि वे सरकारी कार्य से सुबह  एबीएसए के दफ्तर गए थे, तब स्कूल में शिक्षिका ऋतु गंगवार और शिक्षा मित्र किरन बेबी मौजूद थीं.

ऋतु गंगवार बीएलओ के काम में व्‍यस्‍त थीं, तो वहीं विद्यालय के नजदीक ही शिक्षामित्र का बच्चा घर पर ही रोने लगा तो पड़ोसी महिला ने उन्हें बता दिया. खुद के बच्चे को शांत कराने के लिए वह स्कूल के दर्जन भर बच्चों को ताला लगाकर छोड़ कर अपने घर चली गईं. एक के बाद दूसरा घंटा भी गुजर गया लेकिन कोई वापस नहीं लौटा तो पढ़ने आए बच्चे अंदर बंद होकर चिल्लाने लगे. बच्‍चों की आवाज सुनकर ग्रामीणों ने आनन-फानन में डायल 100 को फोन कर दिया. तब पुलिस ने ताला तोड़कर बच्‍चों को बाहर निकाला गया. काफी देर तक बच्‍चें नहीं लौटे तो छात्रों के परिजन भी स्कूल पहुंच गए. इसके बाद ग्रामीणों ने एसडीएम कार्यालय में  लिखित शिकायत सौंपकर शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान: 15 एकड़ में ट्रेनिंग सेंटर बना रहा जैश-ए-मोहम्‍मद, बच्‍चों को सिखाएगा जिहाद 

यह भी पढ़ें: यूपी दौरे पर पीएम मोदी, लखनऊ को देंगे सैकड़ों सौगात 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर