Home /News /uttar-pradesh /

जो किसान हित की बात करेगा 2019 में उसको मिलेगा समर्थन: वीएम सिंह

जो किसान हित की बात करेगा 2019 में उसको मिलेगा समर्थन: वीएम सिंह

वीएम सिंह ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों का कर्ज माफ करते हैं तो लोकसभा चुनाव में सभी किसान बीजेपी को सपोर्ट करेंगे.

    बरेली में किसान नेता सरदार वीएम सिंह ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पांच राज्यों के चुनाव नतीजों से सरकार को सबक ले लेना चाहिए. अगर किसानों की बात नहीं मानी गई तो सरकार का इससे भी ज्यादा बुरा हाल हो सकता है. उन्होंने कहा कि जो किसान हित की बात करेगा 2019 में किसान उसी का समर्थन करेंगे.

    जिले की बहेड़ी तहसील पहुंचे किसान नेता वीएम सिंह ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों का कर्ज माफ करते हैं तो लोकसभा चुनाव में सभी किसान बीजेपी को सपोर्ट करेंगे. अन्यथा हमारे सामने विकल्प और भी हैं.

    उन्होंने ने कहा कि 2014  के चुनाव में पीएम मोदी ने किसानों के 13 लाख करोड़ कर्ज माफी का वादा किया था जो आज तक पूरा नहीं हुआ है. जब मोदी रात मे सत्र बुलाकर जीएसटी बिल पास करा सकते हैं तो किसानों का कर्ज माफ क्यों नहीं कर सकते. अभी उनके पास साढ़े तीन महीने का समय है. प्रधानमंत्री चाहें तो किसानों का एक महीने में 13 लाख करोड़ रुपये माफ कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- छात्र के हत्यारोपी ने पुलिस कार्रवाई के डर से फांसी लगाकर दी जान

    सरकार को आड़े हाथों लेते हुए वीएम सिंह ने कहा कि पांच राज्यों के चुनावों से केंद्र को सबक मिल गया होगा. अगर ऐसा नहीं हुआ तो मोदी सरकार को इससे भी बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. उन्होंने कहा कि जो किसान हित की बात करेगा 2019 में हम उसी का सपोर्ट करेंगे, फिर चाहे बीजेपी हो या कांग्रेस.

    ये भी पढ़ें-

     BJP विधायक की SDM को धमकी, 'मैं MLA हूं, तुम्हे मेरी ताकत का अहसास नहीं'

    धोखाधड़ी के मामले में BJP सांसद साक्षी महाराज के खिलाफ जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट

    Tags: Bareilly news, BJP, Congress, Farmer Agitation, Pm narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर