नहीं निकाली जा सकी कांवड़ यात्रा, दूसरे दिन भी भाजपा विधायक ‘नजरबंद’

जिलाधिकारी ने बताया कि भाजपा नेताओं के नहीं पहुंचने पर कांवड़ियों ने सोमवार को यात्रा का कार्यक्रम स्थगित कर दिया. कांवड़िये अपने-अपने घर चले गए.

भाषा
Updated: August 20, 2018, 11:08 PM IST
नहीं निकाली जा सकी कांवड़ यात्रा, दूसरे दिन भी भाजपा विधायक ‘नजरबंद’
सांकेतिक तस्वीर
भाषा
Updated: August 20, 2018, 11:08 PM IST
बरेली जिले के बिथरी चैनपुर क्षेत्र में नई परम्परा डालते हुए खजुरिया गांव से कांवड़ यात्रा निकलवाने जा रहे क्षेत्रीय भाजपा विधायक राजेश मिश्र को जिला प्रशासन द्वारा ‘नजरबंद’ कर दिया. जिस वजह से कांवड़ यात्रा दूसरे दिन भी नहीं निकल सकी.

जिलाधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि खजुरिया ब्रह्मनान गांव से कांवड़ यात्रा निकाले जाने का समर्थन कर रहे बिथरी चैनपुर से भाजपा विधायक मिश्र को सोमवार को भी उनके कार्यालय में नजरबंद रखा गया. इस गांव से पूर्व में कभी कांवड़ यात्रा नहीं निकली है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसी कोई भी नई परंपरा नहीं डालने देने को कहा है.

उन्होंने बताया कि भाजपा नेताओं के नहीं पहुंचने पर कांवड़ियों ने सोमवार को यात्रा का कार्यक्रम स्थगित कर दिया. कांवड़िये अपने-अपने घर चले गए.

दरअसल, कांवड़िये खजुरिया होते हुए कांवर यात्रा निकालने की जिद कर रहे थे. जबकि प्रशासन चाहता था कि वे परम्परागत रास्ते यानी बीसलपुर होते हुए जाएं. कांवड़िए जिद पर अड़े तो पुलिस-प्रशासन ने उनको सख्ती से रोक लिया. तनाव के मद्देनजर मौके पर बड़े पैमाने पर पुलिस और पीएसी के जवान तैनात कर दिया गया था.

ये भी पढ़ें-
योगी के खिलाफ केस वापस लेने के विरोध में याचिका, SC ने सरकार से मांगा जवाब

भावनाओं की 'अटल लहर' को यूपी के 80 लोकसभा क्षेत्रों तक पहुंचाएगी योगी सरकार
Loading...
बेवफा निकली बंदूक की गोली, कंधे के बजाय छाती में धंसकर ले गई जान
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर