बरेली की लव स्टोरी: साक्षी के विधायक पिता का आपराधिक रहा है रिकॉर्ड, दर्ज हैं कई केस

पहली बार बिथरी चैनपुर से 2017 में विधायक बने राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की छवि एक दबंग नेता की है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 15, 2019, 12:31 PM IST
बरेली की लव स्टोरी: साक्षी के विधायक पिता का आपराधिक रहा है रिकॉर्ड, दर्ज हैं कई केस
बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 15, 2019, 12:31 PM IST
बरेली के बिथरी चैनपुर सीट से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल इन दिनों अपनी बेटी साक्षी के दलित युवक अजितेश से लव मैरिज करने की वजह से सुर्ख़ियों में हैं. उन पर उन्हीं के बेटी ने जान को खतरा बताते हुए इलाहबाद हाई कोर्ट में अपील भी की है. जिसकी सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सोमवार को साक्षी और अजितेश की शादी वैध ठहराते हुए विधायक राजेश मिश्रा को फटकार भी लगाई और सरकार से दोनों को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश भी दिया.

दरअसल, सवाल यह भी उठ रहा है कि विधायक राजेश मिश्रा के लिखित आश्वासन के बाद भी आखिर साक्षी और अजितेश को उनसे डर क्यों लग रहा है. अगर राजेश मिश्रा की पॉलिटिकल हिस्ट्री देखें तो उनकी छवि एक दबंग नेता की है. उनके ऊपर कई गंभीर धाराओं में आपराधिक मामले भी दर्ज हैं. नेशनल इलेक्शन वॉच के मुताबिक 2017 के विधानसभा चुनाव में उनके द्वारा दाखिल हलफनामे के अनुसार उन पर रंगदारी, डकैती, धोखाधड़ी समेत कई आपराधिक मामले दर्ज हैं.

विधायक राजेश मिश्रा की पुत्री साक्षी मिश्रा


प्रधान को 56 मुकदमों में फंसाने का वीडियो भी हुआ था वायरल

पहली बार बिथरी चैनपुर से 2017 में विधायक बने राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल का पिछले साल एक वीडियो भी वायरल हुआ था. जिसमें वो एक पूर्व प्रधान को गालियां देते हुए 56 मुकदमों में फंसाने की खुलेआम धमकी दे रहे थे. यह धमकी वाला वीडियो भी खूब वायरल हुआ था. इस वीडियो में विधायक कह रहे थे कि पूर्व प्रधान ने गांव में पैसे बांट दिए, जिससे साढ़े आठ सौ वोट हाथी को चले गए. पप्पू भरतौल के यहां माफ़ी का मतलब नहीं. जो बोया है वही काटोगे. बरेली में 28 थाने हैं. हर थाने में दो-दो मुकदमा दर्ज करवाएंगे.

भड़काऊ भाषण देने का भी केस है दर्ज
पिछले साल मुहर्रम जुलूस के दौरान बरेली में हंगामा, विरोध, बवाल और हाईवे जाम देखने को मिला था. इस मामले में भी एक दो नहीं, ताबड़तोड़ पांच मुकदमे दर्ज किए थे. जनता तो छोड़िए बिथरी से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल व उनके बेटे विक्की मिश्रा को भी नामजद किया गया था. उनके खिलाफ असलहा लहराने, भड़काऊ भाषण देने, पुलिस पर हमलावर होने और सरकारी काम में बाधा डालने समेत अन्य गंभीर आरोपों में रिपोर्ट दर्ज है.
Loading...

विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल


कांवड़ यात्रा के दौरान किए गए थे नजरबंद
2018 में बरेली में कांवड़ यात्रा निकालने को लेकर डीएम और विधायक पप्पू भरतौल आमने-सामने आ गए थे. विधायक ने डीएम को तानाशाह बता डाला था. दरअसल सावन के आखिरी सोमवार से पहले कांवड़ यात्रा को लेकर बिथरी चैनपुर इलाके में विवाद बढ़ गया. खजुरिया गांव के कांवड़िए कछला से गंगा जल लाकर गांव के मंदिर में जलाभिषेक करते हैं. कांवड़िए मुस्लिम बहुल उमरिया गांव के रास्ते से निकलना चाहते थे. लेकिन प्रशासन का कहना था कि पहले कभी इस रास्ते से कांवड़ नहीं निकली है इसलिए नई परंपरा नहीं पड़ने दी जाएगी और कांवड़ यात्रा को उमरिया गांव से नहीं निकलने दिया जाएगा. वहीं स्थानीय विधायक पप्पू इसी रास्ते से कांवड़ यात्रा को ले जाने का समर्थन कर रहे थे. जिसके बाद विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल को उनके कार्यालय में नजरबंद कर दिया गया.

डिप्टी सीएम के सामने ही भिड़े थे केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार से
लोकसभा चुनाव से पहले फ़रवरी में उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत गौतम के सामने ही केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार और बिथरी चैनपुर के विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल में सीधी-सीधी रार छिड़ गई थी. लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए मंडलीय बैठक में जिस वक्त संतोष गंगवार बरेली सीट के जातिगत आंकड़े डिप्टी सीएम के सामने पेश कर रहे थे, उसी बीच पप्पू भरतौल ने उन्हें टोक दिया. उन्होंने गंगवारों के मुकाबले ब्राह्मण और वैश्य वोटरों की संख्या कम बताने पर आपत्ति की तो नोकझोंक शुरू हो गई. बात यहां तक बढ़ी कि संतोष गंगवार को कहना पड़ा कि बैठक से पप्पू भरतौल को उठाया जाए या फिर वह चले जाएं. आखिरकार डिप्टी सीएम को खुद हस्तक्षेप कर पप्पू भरतौल को शांत करना पड़ा.

ये भी पढ़ें - NEWS18 Exclusive: साक्षी मिश्रा बोलीं- फेसबुक तक चलाने से मना करते थे पापा

VIDEO: बेटी के दलित लड़के से शादी पर BJP विधायक ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 15, 2019, 11:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...