CAA Protest: हिंसा के बीच बरेली में मुस्लिम समाज ने पेश किया अमन-चैन का पैगाम
Bareilly News in Hindi

CAA Protest: हिंसा के बीच बरेली में मुस्लिम समाज ने पेश किया अमन-चैन का पैगाम
बरेली में मुस्लिम समाज ने पेश किया अमन-चैन का पैगाम

नागरिकता कानून को लेकर उत्तर प्रदेश के अधिकांश जनपद जहां आगजनी और पथराव झेल रहे हैं वहीं बरेली में जिला प्रशासन की सतर्कता के चलते जुमे की नमाज के बाद हजारों की संख्या में जुटी भीड़ सकुशल अपने-अपने घर वापस लौट गई

  • Share this:
बरेली. नागरिकता कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) को लेकर उत्तर प्रदेश झुलस रहा है. जहां हर ओर से हिंसा और तोड़फोड़ की खबरें आ रही हैं वहीं बरेली (Bareilly) में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद अमन और चैन का पैगाम पेश किया गया. यहां के मुस्लिम समुदाय ने इंसानियत के साथ-साथ अमन-चैन का भी पैगाम दिया है. दरअसल जुमे की नमाज के दौरान हजारों की संख्या में लोग यहां विरोध-प्रदर्शन करने के लिए इकट्ठा हुए थे, लेकिन सबने जुमे की नमाज के बाद जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा और शांतिपूर्ण तरीके से अपने-अपने घर वापस लौट गए. जिला प्रशासन की सतर्कता के चलते यहां हजारों की इकट्ठा हुई भीड़ सकुशल घर वापस लौट गई.

हालांकि बरेली में संभावना थी कि जिस प्रकार से भीड़ एकत्र हो रही है उससे कोई बवाल और उपद्रव ना हो जाए. लेकिन जिलाधिकारी (डीएम) नीतीश कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) शैलेष पांडेय ने सभी मुस्लिम धर्मगुरुओं से संपर्क बनाए रखा जिस कारण सभी प्रदर्शनकारियों ने लोगों से बवाल न करने की अपील की. इससे पहले बरेली में मौलाना तौकीर रजा ने अपनी गिरफ्तारी देने का ऐलान किया था, लेकिन पुलिस की सतर्कता के चलते वो बवाल भी आराम से निपट गया.

भारी संख्या में पुलिस बल तैनात
भारी संख्या में पुलिस बल तैनात




इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बीते तीन दिन से हो रहे हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए लोगों से संयम बरतने की अपील की थी. उन्होंने कहा कि किसी को भी कानून-व्यवस्था से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए. सीएम योगी ने दंगाइयों और हिंसा करने वालों से सख्ती से निपटने की चेतावनी दी. वहीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी प्रदर्शनकारियों से हिंसा का रास्ता छोड़कर शांतिपूर्वक विरोध करने की अपील की थी.
ये भी पढ़ें:

UP के कई शहरों में इंटरनेट बैन पर हाईकोर्ट सख्त, योगी सरकार से मांगा जवाब
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज