लाइव टीवी

बरेली में ऑनलाइन ठगी के इंटरनेशनल गैंग का खुलासा, ऐसे निकाल रहे थे लोगों के अकाउंट से पैसे
Bareilly News in Hindi

HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 21, 2020, 7:25 AM IST
बरेली में ऑनलाइन ठगी के इंटरनेशनल गैंग का खुलासा, ऐसे निकाल रहे थे लोगों के अकाउंट से पैसे
बरेली में ऑनलाइन ठगी के अंतरराष्ट्रीय गैंग का खुलासा

एसएसपी (SSP) के मुताबिक गैंग के लोग इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के जरिए सबसे पहले लोगों को फोन करते थे, फिर बैंक और विभिन्न कंपनियों का जिक्र करते हुए उनके बैंक खाते तक पहुंच जाते थे.

  • Share this:
बरेली. महामारी कोरोना वायरस (Pandemic coronavirus) को लेकर देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) है. ऐसे समय में भी नाइजीरियन ठग भारतीय लोगों से ऑनलाइन ठगी करने में लगे हुए है. बरेली पुलिस ने बुधवार को ऐसे ही 3 अंतरराष्ट्रीय नाइजीरियन ठगों को गिरफ्तार कर उनके पास से 10 लाख रुपये नगद और 48 एटीएम कार्ड बरामद किये है. फिलहाल पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है.

एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि पुलिस टीम को ये बड़ी कामयाबी मिली है. एसएसपी के मुताबिक गैंग के लोग इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के जरिए सबसे पहले लोगों को फोन करते थे, फिर बैंक और विभिन्न कंपनियों का जिक्र करते हुए उनके बैंक खाते तक पहुंच जाते थे. ओटीपी या बैंक डिटेल लेकर आम जनता के साथ लाखों की ठगी कर लिया करते थे. इतना ही नहीं यह गैंग हवाला के जरिये करोड़ों रुपये नाइजीरिया तक पहुंचाते है.

एसएसपी ने बताया कि गरीब लोगों को लालच देकर उनका खाता खुलवाते है और उनके एटीएम और चेक बुक अपने पास रख लेते है. फिर नाइजीरिया में बैठे ठग दूसरे लोगों के बैंक खातों से रुपये उन खातों में ट्रांसफर करते थे. ठगी करते समय भारत के अलग-अलग जिलों में तैनात इस अंतरराष्ट्रीय गैंग के सदस्य एटीएम के पास खड़े रहते है और रुपये खाते से ट्रांसफर होते ही ये लोग एटीएम या चेक से फौरन रुपये निकाल लेते है. जब तक लोगों को ठगी का अहसास होता ये ठग एकाउंट खाली कर देते थे.



इस मामले में पुलिस ने बिथरी चैनपुर के उडला जागीर गांव निवासी रियासत ख़ा, बदायू के बिसौली थाना क्षेत्र के संग्रामपुर निवासी इमरान और फरीदपुर के मोहल्ला मिर्धान निवासी दिलशाद को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से 10 लाख 3 हजार 8 सौ रुपये बरामद किये है. इतना ही नही ठगों के पास से 48 अलग अलग बैंकों के डेबिट कार्ड और एटीएम कार्ड भी बरामद हुए है. एक दिल्ली नम्बर की जाइलो कार भी बरामद की है. जबकि नजीरियन व्यक्ति सैम और पीलीभीत निवासी मोहम्मद उमर की पुलिस को तलाश है. ये लोग पिछले 2-3 सालो से ऑनलाइन ठगी करते आ रहे है.



ये भी पढ़ें:

बाराबंकी में एक साथ आए 95 कोरोना संक्रमित, यूपी में 127 मौतों के साथ आंकड़ा पहुंचा 1982

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 6:42 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading