Home /News /uttar-pradesh /

यूपी में 800 लीटर कच्ची शराब पीकर झूमते रहे चूहे, पुलिस देखती रही तमाशा

यूपी में 800 लीटर कच्ची शराब पीकर झूमते रहे चूहे, पुलिस देखती रही तमाशा

यूपी के बरेली से खबर आ रही है कि यहां कैंट थाने के गोदाम में 800 सौ लीटर कच्ची शराब गयाब मिली. पुलिस का कहना है कि यो काम चूहों का है. चूहों ने शराब के साथ-साथ गांजा, अफीम जैसे मादक पदार्थों के डिब्बे भी कुतर दिए हैं.

    यूपी के बरेली से खबर आ रही है कि यहां कैंट थाने के गोदाम में  800 सौ लीटर कच्ची शराब गयाब मिली. पुलिस का कहना है कि ये काम चूहों का है. चूहों ने शराब के साथ-साथ गांजा, अफीम जैसे मादक पदार्थों के डिब्बे भी कुतर दिए हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या चूहे 800 लीटर शराब पी गए, या फिर यूं कहा जाए कि बरेली के चूहे शराबी हो गए है.

    पुलिस को चूहों की इस करतूत का पता तब चला जब कैंट थाने के गोदाम की सफाई की गई. सफाई के दौरान पुलिसवालों को कच्चे शराब की कई कैन खाली मिली. पुलिसवालों का कहना है कि इनमें से अधिकांश कैन कुतरी मिली थीं. गोदाम के अंधेरे कमरे में काफी सीलन थी इसका फायदा उठाकर चूहों ने शराब की कैंन के अलावा कई और सामानों के सील कुतर दिए. थाने में लोग दबी जुबान में बता कर रहे थे कि चूहे शराब पी गए, या फिर शराब बहकर नष्ट हो गई.

    वैसे आपको बता दें कि पुलिस थाने ही नहीं पूरा शाहमतगंज इलाका ही चूहों से खासा प्रभावित है. शाहमतगंज पुलिस चौकी में रखी कच्ची शराब की कई कैन पिछले दिनों भी कुतरी हुई मिलीं थीं. इनमें रखी शराब गायब थी, तो वहीं कुछ कैन में जरा सी शराब मिली थी. हालांकि कैंट थाना प्रभारी ने बताया कि जिले के थानों के मुकाबले हमारे यहां सबसे कम माल 258 ही थे. अधिकांश पुलिस का कहना है कि थाने में रखा ज्यादातर माल सुरक्षित है. साथ ही पुलिस ये भी कह रही है कि जिन कैन से शराब गायब है उसे चूहों ने ही कुतरा है.

    OMG! इस दरबार में होती है शैतानी ताकतों की पेशी, बुरे सायों को मिलती है सज़ा

    Tags: Bareilly news, Illegal liquor, UP police, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर