बरेली में सपाइयों ने किया अनोखा प्रदर्शन, खून से लथपथ पहुंचे अस्पताल
Bareilly News in Hindi

बरेली में सपाइयों ने किया अनोखा प्रदर्शन, खून से लथपथ पहुंचे अस्पताल
बरेली में सपाइयों ने किया अनोखा प्रदर्शन

इस दौरान सपा के निवर्तमान जिला सचिव प्रमोद यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में स्वास्थ्य सेवाएं लगातार बदहाल होती जा रही हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि यदि शीघ्र मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल का संचालन नहीं कराया गया तो वे आंदोलन करने को बाध्य होंगे.

  • Share this:
बरेली. बरेली (Bareilly) में नवनिर्मित मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल को लेकर गुरुवार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अनोखा प्रदर्शन किया. सपा कार्यकर्ताओं ने हाथ पैर और सिर पर पट्टी बांधी और खून से लथपथ हालत में हॉस्पिटल पहुंच गए. यहां पर इन लोगों ने योगी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. दरअसल बरेली में सपा की अखिलेश सरकार के दौरान 300 बेड का मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल बनाया गया था जो लगभग अखिलेश सरकार में ही बनकर तैयार हो चुका था. छोटे-मोटे कामों की वजह से यह हॉस्पिटल आज तक चालू नहीं हो सका.

इस दौरान सपा के निवर्तमान जिला सचिव प्रमोद यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में स्वास्थ्य सेवाएं लगातार बदहाल होती जा रही हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि यदि शीघ्र मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल का संचालन नहीं कराया गया तो वे आंदोलन करने को बाध्य होंगे.

हाथ पैरों में पट्टी बांधकर सपा कार्यकर्ताओं ने किया अनोखा प्रदर्शन
हाथ पैरों में पट्टी बांधकर सपा कार्यकर्ताओं ने किया अनोखा प्रदर्शन




इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने बरेली के नवनिर्मित मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल में टूटे-फूटे हाथ, पैर और सिर में पट्टी बांधे और खून से लथपथ होकर यूपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. बता दें कि यह किसी एक्सीडेंट में या किसी मारपीट में घायल नहीं हुए, न ही पुलिस ने इनके साथ मारपीट की. आप सोच रहे होंगे तो फिर ऐसा क्या हुआ कि यह लोग इस तरीके से पट्टी बांधे हुए हैं. दरअसल, बरेली में अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री रहते ही अस्पताल बनकर तैयार हो गया था. बाद में बीजेपी की सरकार बन गई. बताया जा रहा है कि अस्पताल में छोटा-मोटा काम बाकी हैं, जिसकी वजह से चालू नहीं हो पाया है.
ये भी पढ़ें:

अयोध्या: राम मंदिर के लिए भक्त दान करेंगे 51 हजार ईंट, खास मिट्टी से किया जा रहा है तैयार

डेंगू से मौत के मामले में HC सख्त, पीड़ित परिवार को 25 लाख मुआवजे का दिया आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज