फर्स्ट डिवीजन से पास होने के बाद भी छात्रा ने लगाई खुद को आग

चचेरी बहन की तुलना में नंबर कम आने की वजह से छात्रा को आत्मग्लानि महसूस हुई और उसने खुद पर केरोसीन छिड़कर आग लगा दी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 30, 2018, 11:21 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 30, 2018, 11:21 AM IST
रविवार को उत्तर प्रदेश में 10वीं व 12वीं के परीक्षा परिणाम घोषित हुए. परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद कहीं खुशी की लहर देखने को मिली तो कहीं गम का पहाड़ टूट पड़ा. बरेली के फरीदपुर में दो चचेरी बहनें फर्स्ट डिवीजन से पास हुई लेकिन परिवार पर उस वक्त दुखों का पहाड़ टूट पड़ा जब एक बहन ने कम परसेंट आने की वजह से केरोसीन डालकर खुद को आग लगा ली. लड़की को इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया था जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि मृतक लड़की प्रिन्सी बरेली के किशोर चन्द्र इंटर कॉलेज में 10वीं की छात्रा थी. छात्रा की चचेरी बहन भी उसी के साथ पढ़ती थी. रविवार को जब रिजल्ट घोषित हुआ तो प्रिन्सी को 67 परसेंट नंबर प्राप्त हुए जबकि उसकी चचेरी बहन 70 परसेंट नंबरों के साथ पास हुई. चचेरी बहन की तुलना में नंबर कम आने की वजह से छात्रा को आत्मग्लानि महसूस हुई और उसने खुद पर केरोसीन छिड़कर आग लगा दी.

जब घरवालों ने छात्रा को जलते हुए देखा तो किसी तरह आग पर काबू पाया लेकिन तब तक वह 90 परसेंट से अधिक जल चुकी थी. फौरन उसे जिला अस्पताल लाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. लड़की की मौत के बाद उसकी मां का रो-रोकर बुरा हाल है. लड़की पिता आर्मी मे हैं और वह मुंबई में तैनात हैं.

ये भी पढ़ें

12वीं में सेकेंड डिवीजन से पास होने पर छात्रा ने ट्रेन के आगे कूद की खुदकुशी
First published: April 30, 2018, 8:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...