लाइव टीवी

बरेली सेंट्रल जेल में 3 कैदियों की मौत से मचा हड़कंप, प्रशासन बोला- लंबे वक्त से थे बीमार

HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 10, 2020, 12:26 PM IST
बरेली सेंट्रल जेल में 3 कैदियों की मौत से मचा हड़कंप, प्रशासन बोला- लंबे वक्त से थे बीमार
बरेली सेंट्रल जेल में 3 कैदियों की मौत से मचा हड़कंप (file photo)

पीलीभीत निवासी रामचंद्र वर्ष 2001 में पांच लोगों की हत्या के मामले में सेंट्रल जेल में बंद था. जेल प्रशासन की मानें तो तीनों कैदी बीमार थे.

  • Share this:
बरेली. सेंट्रल जेल और जिला जेल में तीन कैदियों (Prisoner) की बीमारी के चलते अचानक मौत हो जाने से हड़कंप मच गया. तीनों कैदी हत्या के अलग अलग मामले में आजीवन कारावास की सज़ा काट रहे थे. लेकिन, बीमारी के चलते आज इनकी मौत हो गई. पुलिस ने डॉक्टर्स का पैनल बनवा कर तीनों का पोस्टमार्टम कराया फिर शवों को परिजनों को सौंप दिया है. बरेली जेल प्रशासन के मुताबिक, तीनों कैदी लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. उनका इलाज काफी दिनों से चल रहा था.

बता दें कि पीलीभीत निवासी रामचंद्र वर्ष 2001 में पांच लोगों की हत्या के मामले में सेंट्रल जेल में बंद थे. कोर्ट ने उन्हें आजीवन कारावास सजा सुनाई था. लेकिन पिछले कुछ माह से वह बीमार चल रहा था. उसका लखनऊ में भी इलाज कराया लेकिन देर शाम उनकी मौत हो गई. वहीं सुभाष नगर निवासी (55) वर्षीय राम अवतार की जिला जेल में बीमारी के चलते मौत हो गई. रामावतार सुभाष नगर इलाके में हुए मर्डर के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था.

तीसरी मौत हरिद्वारी लाल की हुई है. वह भी जिला जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे थे. बीमारी के समय मे हालत बिगड़ने पर उन्हें जिला अस्पताल लाया गया, लेकिन डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. एक ही दिन में सेंट्रल जेल और जिला जेल के 3 कैदियों की मौत के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. जिसके बाद जिला प्रशासन ने डॉक्टर का पैनल बनाकर तीनों कैदियों का पोस्टमार्टम कराया. उसके बाद शव को परिजनों को सौंप दिया है. वहीं तीनों के परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया है.

ये भी पढ़ें:

मैनपुरी DM की मुहीम लाई रंग, साफ होने लगी ईशन नदी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 11:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर