बरेली में ऑनर किलिंग का सनसनीखेज मामला, बेटी को यातनाएं देकर मारा

नदेली गांव की रहने वाली किशोरी का गांव के ही एक युवक से अफेयर चल रहा था. अफेयर दूसरे मजहब के युवक से था इसलिए परिजन इसका विरोध कर रहे थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 16, 2018, 7:30 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 16, 2018, 7:30 PM IST
बरेली की बहेड़ी कोतवाली क्षेत्र  के नदेली गांव में झूठी शान की खातिर नाबालिग बेटी की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है. मृतक किशोरी के परिजनों पर आरोप है कि उन्होने उसे यातनाएं देने के बाद मार डाला और फिर गांव के श्मशान भूमि में शव को जलाने लगे. हालांकि हत्या की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और चिता से अधजला शव निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

वारदात के बाद से किशोरी के परिजन घर से फरार हो गए हैं वहीं जिले के पुलिस अफसरों ने गांव में डेरा डाल दिया है. पुलिस फिलहाल इसे ऑनर किलिंग का मामला मान रही है. सूचना मिलते ही आईजी रेंज डीके ठाकुर और एसएसपी जोगेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली.

दरअसल, नदेली गांव की रहने वाली किशोरी का गांव के ही एक युवक से अफेयर चल रहा था. अफेयर गैर मजहब था, लिहाजा परिजन इसका विरोध कर रहे थे. होली के अगले दिन युवक किशोरी को भगाकर ले गया था. इसके बाद किशोरी के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर किशोरी को बरामद कर आरोपी युवक को जेल भेज दिया था.

गांव वालों के अनुसार जल्द ही कोर्ट में किशोरी के बयान दर्ज होने थे. परिजन चाहते थे कि किशोरी आरोपी युवक के खिलाफ बयान दे लेकिन वह युवक से शादी करने की जिद पर अड़ी थी. युवती के परिजनों को ये सब मंजूर नहीं था इसलिए रविवार रात परिजनों ने लड़की को खूब समझाया लेकिन जब वह नहीं मानी तो उसे टॉर्चर करते-करते मार दिया.

आशंका जताई जा रही है कि परिजनों ने किशोरी की हठ से तंग आकर रविवार रात उसका गला दबाकर हत्या कर दी. हत्या के के बाद गांव के कुछ लोग श्मशान भूमि में शव जलाने लगे. पुलिस ने मौके पर पहुंच अधजला शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए बरेली भेज दिया है.

पुलिस ने फिलहाल किशोरी की मां को गिरफ्तार कर लिया है जबकि बाकी परिजन फरार है. मामला दो समुदायों से जुड़ा होने की वजह से गांव में पहले से तनाव की स्थिति है. बता दें इससे पहले किशोरी के परिजन युवक का घर जला चुके हैं जिसके बाद पुलिस ने घर जलाने वालों को जेल भेजा था.
First published: April 16, 2018, 7:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...