UP Panchayat Elections: 15 मार्च को आएगी आरक्षण की फाइनल लिस्ट, फिर होगा तारीखों का ऐलान

15 मार्च तक आएगी आरक्षण की फाइनल लिस्ट (सांकेतिक तस्वीर)

15 मार्च तक आएगी आरक्षण की फाइनल लिस्ट (सांकेतिक तस्वीर)

UP Panchayat Chunav, Bareilly News: जिलो में प्रधान के पदों के लिए और क्षेत्र पंचायत के सदस्यों के साथ जिला पंचायत के सदस्यों के आरक्षण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. जिसका प्रकाशन 2 व 3 मार्च को होगा. उसके बाद आपत्तियों को मांगा जाएगा. सीटों के आरक्षण की फाइनल लिस्ट 15 मार्च को जारी की जाएगी

  • Share this:
बरेली. इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) के आदेश बाद यूपी में पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav) की सरगर्मी तेजी से शुरू हो गई है. बरेली में भी चुनाव की तैयारी में पंचायत राज विभाग जुट गया है. शासन से जारी जिला पंचायत अध्यक्ष की आरक्षण सूची में बरेली जिला पंचायत की सीट पिछड़े वर्ग की महिला के लिए आरक्षित की गई है. बरेली में 1193 ग्राम पंचायतो में ग्राम प्रधान चुने जाएंगे, जबकि बरेली में ब्लॉक प्रमुख के 15 पद है. इसी तरह जिला पंचायत के 60 सदस्य चुने जाएंगे जो जिला पंचायत के अध्यक्ष को चुनेंगे. जिलो में प्रधान के पदों के लिए और क्षेत्र पंचायत के सदस्यों के साथ जिला पंचायत के सदस्यों के आरक्षण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. जिसका प्रकाशन 2 व 3 मार्च को होगा. उसके बाद आपत्तियों को मांगा जाएगा. सीटों के आरक्षण की फाइनल लिस्ट 15 मार्च को जारी की जाएगी. इसके बाद किसी भी दिन चुनाव के तारीखों की घोषणा हो जाएगी.

जिला पंचायत राज अधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने न्यूज़18 से बातचीत में बताया कि पंचायत चुनाव में आरक्षण को लेकर जो शासनादेश है वो आ चुका है. 16 फ़रवरी से  जिला पंचायत राज अधिकारियों  होगी. उन्होंने बताया कि वे खुद 18 से 19 फ़रवरी के बीच ट्रेनिंग में जाएंगे. इसके बाद 20 से 28 फरवरी के बीच ग्राम पंचायतों व पंचायत सदस्यों का आरक्षण तय किया जाएगा. इसके बाद उनका प्रकाशन कर लोगों से आपत्तियां मांगी जाएगी. उन्होंने बताया कि 15 मार्च तक आरक्षण की फाइनल लिस्ट का प्रकाशन कर देना है.

जिला स्तर से होगा ग्राम पंचायतों का आरक्षण 

डीपीआरओ ने बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष का आरक्षण शासन की तरफ से पहले किया जा चुका है. उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत और पंचायत सदस्यों के आरक्षण के आवंटन को लेकर भी शासनादेश प्राप्त हो चुका है कितनी सीटें किसके लिए आरक्षित होंगी. अब यह काम हमारे स्तर से होना है कि किस सीट को किस वर्ग के लिए आरक्षित करना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज