Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बरेली के इस गांव में हैं दो दर्जन से अधिक अपराधियों का आशियाना, धरपकड़ के लिए पुलिस ने कराई मुनादी

    बरेली पुलिस ने अपराधियों के गांव में कराई मुनादी
    बरेली पुलिस ने अपराधियों के गांव में कराई मुनादी

    बरेली (Bareilly) का एक ऐसा गांव जो अपराध और अपराधियों का गढ़ बन गया है जिस गांव में अधिकांश लोग मादक पदार्थों की तस्करी का काम करते हैं. जिसमे चरस, अफीम और स्मैक की तस्करी बड़े पैमाने पर की जाती है.

    • Share this:
    बरेली. अपराधियों (Criminals) के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान को लेकर बरेली (Bareilly) पुलिस (Police) ने सोमवार को एक लाख के इनामी तस्कर तैमूर (Smuggler Taimur) के घर भारी पुलिस बल के साथ दबिश दी. दबिश के दौरान इनामी तैमूर मौके से फरार हो गया. जिसके बाद पुलिस ने तैमूर का फार्म हाउस गिरा दिया. इसके बाद पुलिस ने इसी गांव के 26 अपराधियों के घर के बाहर नोटिस चस्पा कर चेतावनी दी कि यदि सेंडर नहीं किया तो सख्त कार्रवाई होगी.

    मादक पदार्थों की होती है तस्करी

    बरेली का एक ऐसा गांव जो अपराध और अपराधियों का गढ़ बन गया है जिस गांव में अधिकांश लोग मादक पदार्थों की तस्करी का काम करते हैं. जिसमे चरस, अफीम और स्मैक की तस्करी बड़े पैमाने पर की जाती है. ऐसे तस्करी गैंग से जुड़े गांव के लगभग 26 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एसपी देहात ने ढोल लेकर गांव में मुनादी कराई और अपराध की दुनिया से जुड़े लोगों को न्यायालय या पुलिस में सरेंडर करने की चेतावनी भी दी.



    अपराधियों के घर चस्पा की गई नोटिस
    एसपी देहात डॉ. संसार सिंह ने बताया कि फरीदपुर थाना क्षेत्र का बहरा गांव अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मादक पदार्थों की तस्करी के लिए चर्चित है. इसके अलावा मोहनपुर में भी स्मैक का धंधा बड़े स्तर पर किया जाता है. बहरा गांव के तस्कर तैमूर उर्फ भोला पर दिल्ली पुलिस ने 1 लाख का इनाम घोषित कर रखा है. तैमूर के तस्करी का जाल दिल्ली, महाराष्ट्र, बिहार, झारखण्ड समेत कई राज्यों में फैला हुआ है. मादक पदार्थों की तस्करी करते हुए तैमूर उर्फ भोला ने अपराध की कमाई से करोड़ों रुपए की संपत्ति बना ली है. बरेली से लेकर दिल्ली तक तैमूर ने कई फार्म हाउस और गेस्ट हाउस बनाए हैं. आज एसपी देहात और सीओ ने आधा दर्जन थानेदारों के साथ भारी पुलिस बल लेकर बहरा गांव के 26 अपराधियों के घर दबिश दी मौके पर न मिलने वाले अपराधियों के घर नोटिस चस्पा कर दिए. इतना ही नहीं एसपी देहात ने गांव में मुनादी कराते हुए ग्रामीणों से कहा कि अपराधियों को शरण देना बन्द कर दें और उन्हें समझा कर अपराध छोड़ने की सलाह दें.

    गांव में दहशत का माहौल

    पुलिस ने तस्करी गैंग के इन अपराधियों के घर के बाहर नोटिस चस्पा करते हुए चेतावनी दी है कि खुद वे कोर्ट या पुलिस में आत्मसमर्पण कर दें. बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने के लिए की गई मुनादी से ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है. अब देखने वाली बात होगी कि पुलिस की इस सख्त कार्रवाई का अपराधियों पर कितना असर दिखाई देता है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज