पति ने दिया तलाक तो पत्नी ने सिलबट्टे से पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट

बबली ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल भी कर लिया है. एसपी सिटी का कहना है की चार दिन पहले बबली के पति ने दूसरी महिला से कोर्ट मैरिज की थी जिस वजह से दोनों में विवाद हुआ था और पत्नी ने अपने पति की हत्या कर दी.

Harish Mishra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 12, 2018, 12:29 PM IST
Harish Mishra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 12, 2018, 12:29 PM IST
तीन तलाक़ के कानून को लेकर छिड़ी बहस के बीच यूपी के बरेली में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां एक पति ने शरीयत का फायदा उठाते हुए पहली पत्नी को तलाक़ दिए बगैर दूसरा निकाह कर लिया. जिस वजह से पहली पत्नी ने सिलबट्टा से पीट-पीट कर अपने पति की हत्या कर दी. अपने पति की हत्या करने वाला बबली पुलिस की गिरफ्त में है.

बबली का आरोप है की उसके पति ने एक दो नहीं बल्कि चार-चार शादिया की और जब भी किसी ने विरोध किया तो उसकी हत्या कर दी. दस दिन पहले ही पचास साल के वसीम ने एक महिला से निकाह किया और अपने साथ घर पर ले आया जिसका पहली पत्नी ने विरोध किया.

बबली के मुताबिक उसके पति वसीम ने कहा की अब उसे अपनी सौतन के साथ ही रहना पड़ेगा. जिस पर बबली ने साफ़ इंकार कर दिया. जिस वजह से वसीम दूसरी पत्नी को किसी दूसरी जगह किराए का कमरा लेकर रख दिया. बीती रात वसीम ने फिर अपनी पत्नी से उसे साथ रखने को कहा जिस पर बबली ने फिर से मना कर दिया.

बबली के इंकार करने पर उसके पति वसीम ने उसकी गला दबाकर हत्या करने का प्रयास किया. जिस वजह से उसने सेल्फ डिफेन्स में सिलबट्टा से अपने पति के सिर पर कई वार कर दिए. जिससे उसका पति लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा और उसकी कुछ देर में ही मौत हो गई.

बबली ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल भी कर लिया है. वहीं पुलिस का कहना है की किला के बाकरगंज में बीती रात एक पत्नी ने अपने पति की हत्या की है. एसपी सिटी का कहना है की चार दिन पहले बबली के पति ने दूसरी महिला से कोर्ट मैरिज की थी जिस वजह से दोनों में विवाद हुआ था और पत्नी ने अपने पति की हत्या कर दी.

पुलिस ने आरोपी पत्नी बबली को गिरफ्तार कर लिया है और मेडिकल कराने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया. जहां से उसे चौदह दिन की न्यायिक हिरासत में जले भेजा गया है. वसीम ने शरीयत का फायदा उठाते हुए दूसरा निकाह किया और अपनी पहली पत्नी को तलाक़ भी नहीं दिया.

पचास साल की उम्र में वसीम के जब जवान बच्चे है उस उम्र में उसने दूसरा निकाह किया ऐसे में सरकार को तीन तलाक़ के साथ-साथ पहली पत्नी को तलाक़ दिए बगैर दूसरी शादी करने वाले के खिलाफ सख्त कानून बनाए जाने की जरूरत है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...