Assembly Banner 2021

लोहा चोरी करने के आरोप में युवक को पेड़ से बांधा, भीड़ ने पीट-पीटकर ले ली जान

मुस्लिम युवक को पीट-पीटकर मार डाला

मुस्लिम युवक को पीट-पीटकर मार डाला

परिजनों के मुताबिक अगर पुलिस (Police) वासित को थाने ले जाने की जगह समय पर अस्पताल (Hospital) ले जाती तो शायद उसकी जान बच जाती.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 5, 2020, 8:36 AM IST
  • Share this:
बरेली. देश में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. जिसमें अब उत्तर प्रदेश के बरेली से भी एक घटना सामने आई है. आरोप है कि चोरी के शक में गांववालों की भीड़ ने 20 साल के एक मुस्लिम युवक को बुरी तरह से घंटों पीटा. अस्पताल में मरणासन्न हालत में पहुंचे युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई. मामला दो समुदाय का होने की वजह से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. मौके पर 5 थानों की पुलिस के साथ एसपी ग्रामीण घटना स्थल पर पहुंच गए. फिलहाल पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी है.

जानकारी के मुताबिक आंवला के सिंचाई विभाग की नलकूप कालोनी निवासी वासित अली पर आरोप है कि उसने नलकूप कार्यालय से कुछ लोहा चोरी किया है. और वहां के चौकीदारों ने इसे चोरी का सामान ले जाते देख लिया. जिसके बाद वहां पर भीड़ इकठ्ठी हो गई और वासित को नीम के पेड़ से बांधकर लोगो ने उसे खूब मारा पीटा और 100 नम्बर पर फोन करके पुलिस को चोरी की सूचना दे दी. वहीं इस मामले में मृतक की मां, मौसी और सपा नेता और स्थानीय सभासद का आरोप है की वासित को लोगों ने पेड़ से बांधकर पीट- पीटकर मार डाला.

ये भी पढे़ं- CM योगी बोले- विकास का नया मॉडल बनेगा बुंदेलखंड, 'जैविक खेती' का बनेगा हब



परिजनों के मुताबिक अगर पुलिस वासित को थाने ले जाने की जगह समय पर अस्पताल ले जाती तो शायद उसकी जान बच जाती. लेकिन पुलिस की लापरवाही से उसकी जान चली गई. इस मामले में पुलिस ने 30 गांववालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. पुलिस आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज