Home /News /uttar-pradesh /

गांव के तालाब में दिखा कुछ ऐसा कि चौंक गए लोग, अब लग रहे कयास, मच रहा बवाल

गांव के तालाब में दिखा कुछ ऐसा कि चौंक गए लोग, अब लग रहे कयास, मच रहा बवाल

गोवंशों के शव मिलने के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया.

गोवंशों के शव मिलने के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया.

बस्ती गांव के एक तालाब में 11 गौवंशों के शव मिलने से गांव में हड़कंप मच गया. इतनी बड़ी संख्या में मवेशियों का मरना सबके लिए चिंता का विषय बन गया. इसके अलावा जब गांव वालों ने इसकी सूचना प्रशासन को दी तो वह भी समय से नहीं पहुंचे, जिससे ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

बस्ती. बस्ती जिले के छावनी थाना के लखना पाठक गांव के पास तालाब में 11 मवेशियों के शव मिलने से हड़कंप मच गया. इतनी संख्या में एक साथ मवेशियों के मर जाने की खबर पूरे गांव में फैल गई और लोग इसे लेकर विभिन्न बातें बनाने लगे. लोगों के बीच यह चर्चा का विषय रहा कि आखिर इतने मवेशियों की मौत कैसे हुई. शव मिलने की सूचना पर डीएम सौम्या अग्रवाल व एसपी आशीष श्रीवस्तव मौके पर पहुंचे. तालाब में मिले मवेशियों के शवों को निकाला गया और पोस्टमार्टम करके उनको दफन किया गया

मवेशियों पर चोट के निशान नहीं, डूबने से हुई मौत

डीएम सौम्या अग्रवाल के अनुसार मवेशियों पर चोट के निशान नहीं मिले हैं. तालाब में जलकुंभी ज्यादा है. ऐसे में हो सकता है कि जलकुंभी में फंस कर डूब कर इनकी मौत हो गई.

इससे पहले पशुओं की मौत की सूचना देने के बाद भी जब पुलिस समय पर नहीं पहुंची तो ग्रामीण आक्रोशित हो गए. स्थानीय लोग धरने पर बैठ गए, जिसके बाद प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची. समाजसेवी चंद्रमणि पांडेय ने बताया कि कल ही जिला प्रशासन को इस कि सूचना दे दी गई थी. सोशल मीडिया पर वीडियो चल रही थी. लेकिन सूचना के बाद भी जिला प्रशासन का कोई अधिकारी मौके पर नहीं आया, जिसके बाद ग्रामीण धरने पर बैठ गए.

गौवंशों की मौत पर खुली प्रशासन की नींद

माना जा रहा है कि तालाब में जलकुंभी होने के कारण मवेशियों की मौत हुई. ऐसे में इस हादसे के बाद जिला प्रशासन की नींद टूटी. आनन फानन में तालाब के सौंदर्यीकरण का प्रस्ताव पास किया गया. तालाब से जलकुंभी निकलने का एसडीएम ने आदेश दिया. साथ ही आसपास की जगह चिन्हित कर गौशाला बनाए जाने का भी प्रस्ताव किया गया ताकि छुट्टा पशुओं को गौशाला में रखा जा सके.

प्रशासनिक उदासीनता बन रही परेशानी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार गौवंशों के संरक्षण के लिए बड़ी संख्या में गौ आश्रय स्थल बना रही है, ताकि गौवंशों का संरक्षण हो सके. लेकिन प्रशासनिक उदासीनता की वजह से ज्यादातर गौशाला बदहाल हैं. छुट्टा पशुओं को पकड़ कर गौशाला नहीं ले जाया जा रहा. जिसकी वजह से उनकी जान जा रही है. फसलों को नुकसान हो रहा और हाइवे पर आए दिन इन पशुओं के कारण एक्सीडेंट हो रहे हैं.

Tags: Basti news, Cattle death, CM Yogi Aditya Nath, Cow

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर