अटल के अस्थि विसर्जन के दौरान पलटी नाव, बीजेपी सांसद और मंत्री नदी में गिरे

क्षमता से ज्यादा लोगों के नाव पर चढ़ने से नाव नदी में पलट गई. नाव पलटने से अफरा-तफरी का माहौल हो गया. नदीं में एसपी दिलीप कुमार डूबने लगे, रेस्क्यू कर किसी तरह से उन की जान बचाई गई.

HIFZUR RAHMAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2018, 4:01 PM IST
HIFZUR RAHMAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2018, 4:01 PM IST
उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में कुआनो नदी के अमहट घाट पर अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि विसर्जन के दौरान अचानक नाव पलट गई. नाव पलटने से एसपी, डीएम, सांसद विधायक नदी में गिर गए. अचानक नाव पलटने से हड़कम्प मच गया. आपदा प्रबंधन की टीम ने नदी में कूद कर रेस्क्यू कर किसी तरह सभी की जान बचाई.

दरअसल कुआनो नदी में अस्थि कलश के विसर्जन के दौरान नदी में एक नाव लगाई गई थी. इसी नाव पर बैठकर अस्थि का विसर्जन होना था. नाव पर बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति त्रिपाठी, राज्यमंत्री सुरेश पासी, एसपी दिलीप कुमार, डीएम राजशेखर, सांसद हरीश दिवेदी, बीजेपी विधायक दयाराम चौधरी, अजय सिंह, रवी सोनकर, संजय जायसवाल समेत बड़ी संख्या में बीजेपी नेता नाव पर सवार हो गए.

इस दौरान क्षमता से ज्यादा लोगों के नाव पर चढ़ने से नाव नदी में पलट गई. नाव पलटने से अफरा-तफरी का माहौल हो गया. नदीं में एसपी दिलीप कुमार डूबने लगे, रेस्क्यू कर किसी तरह से उन की जान बचाई गई. साथ ही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमापति त्रिपाठी, सांसद हरीश द्विवेदी समेत सभी विधायकों को रेस्क्यू कर नदी से निकाला गया, इस वक्त नदी का जल स्तर भी काफी बढ़ा हुआ है. गनीमत रही की नाव नदी के बीच में नहीं पलटी वरना बड़ा हादसा हो जाता.

आपदा विशेषज्ञ रंजीत रंजन ने बताया कि नाव की क्षमता महज 8 लोगों की थी लेकिन इस पर ज्यादा लोग सवार हो गए. ये नाव के एक तरफ हुए, जिससे नाव पलट गई. इसमें कुछ लोगों को हल्की चोटें आई हैं.

ये भी पढ़ें: 

प्रयाग कुंभ से पहले यूपी में 5 वैचारिक कुंभ आयोजित करेगा RSS

मुलायम के दर्द पर बीजेपी का तंज- जो बोया पेड़ बबूल का, तो आम कहां से होए
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर