लाइव टीवी

बसपा के पूर्व सांसद लालमणि प्रसाद ने भेजा मायावती को इस्तीफा, सपा में जाने की अटकलें

HIFZUR RAHMAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 19, 2019, 7:06 PM IST
बसपा के पूर्व सांसद लालमणि प्रसाद ने भेजा मायावती को इस्तीफा, सपा में जाने की अटकलें
पूर्व सांसद लालमणि प्रसाद का इस्तीफा बसपा के लिए झटका माना जा रहा है. (फाइल फोटो)

अपने इस्तीफे में लालमणि प्रसाद ने आरोप लगाया है कि वर्तमान बसपा की रीतियों और नीतियों से वह सहमत नहीं हैं. उन्हें लगता है कि बाबा साहेब भीमराव आम्बेडकर और काशीराम का मूवमेंट पीछे जा रही है, इसलिए बहुजन समाज में आक्रोश है.

  • Share this:
बस्ती. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की बस्ती (Basti) लोकसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी (BSP) के पूर्व सांसद लालमणि प्रसाद (Former MP Lalmani Prasad) ने पार्टी से इस्तीफा (Resign) दे दिया है. पूर्व सांसद ने बसपा सुप्रीमो मायावती को भेजे अपने पत्र में बसपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने की बात कही है. बसपा के लिए यह करारा झटका माना जा रहा है. लालमणि वर्तमान में सिद्धार्थनगर के जिला को-ऑर्डिनेटर थे. अपने इस्तीफे में लालमणि प्रसाद ने आरोप लगाया है कि वर्तमान बसपा की रीतियों और नीतियों से वह सहमत नहीं हैं. उन्हें लगता है कि बाबा साहेब भीमराव आम्बेडकर और काशीराम का मूवमेंट पीछे जा रही है, इसलिए बहुजन समाज में आक्रोश है. वैसे लालमणि प्रसाद के इस्तीफे की पेशकश के साथ ही उनके समाजवादी पार्टी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं. हालांकि खुद लालमणि प्रसाद ने इस पर अभी कुछ नहीं कहा है.

1993 पहली बार सपा-बसपा गठबंधन में जीते चुनाव
बता दें लालमणि पहली बार 1993 में सपा-बसपा गठबंधन में विधान सभा चुनाव लड़े और विजयी घोषित हुए. वर्ष 1996 के मध्यावधि चुनाव में जनता ने दोबारा क्षेत्र का विधायक चुना. वर्ष 2004 के लोकसभा चुनाव में पार्टी ने बस्ती से प्रत्याशी बनाया और एक बार फिर निर्वाचित हुए. वर्ष 2009 के चुनाव में पार्टी ने चेहरा बदल दिया. तभी से लालमणि लगातार बसपा के संगठनात्मक कार्यों में ही लगे रहे.

BSP lalmani
बसपा के पूर्व सांसद लालमणि प्रसाद का इस्तीफा


दो बार MLA, एक बार मंत्री और एक बार रहे सांसद
लालमणि प्रसाद बचपन में ही आंबेडकर की नीतियों से प्रभावित थे और समाज सेवा से जुड़ गए. कांशीराम के साथ मिलकर वह बसपा के लिए काम करते रहे. दो बार विधायक, एक बार मंत्री और एक बार सांसद रहे लालमणि पिछले चुनाव में बिहार के प्रभारी भी रहे.

ये भी पढ़ें: योगी सरकार के ढाई साल को मायावती ने बताया निराशाजनक
Loading...

योगी के मंत्री बोले- फरार आजम खान से बोलें अखिलेश, जनता का करें सामना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बस्ती से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 19, 2019, 6:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...