बस्ती में आई पोस्ट से डाक विभाग परेशान, नहीं मिल रहे भगवान शंकर और हनुमान
Basti News in Hindi

बस्ती में आई पोस्ट से डाक विभाग परेशान, नहीं मिल रहे भगवान शंकर और हनुमान
बस्ती में आई पोस्ट से डाक विभाग परेशान, नहीं मिल रहे भगवान शंकर और हनुमान

पुजारी इसे किसी की साजिश मान रहे हैं. मंदिर के पुजारी कन्हैया दास ने कहा कि यहां पर कमला प्रसाद नाम का कोई शख्स नहीं रहता है. ऐसे में हो सकता है कि किसी साजिश के तहत रजिस्ट्री भेजी गई हो.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बस्ती में एक अजीब मामला सामने आया है. बस्ती के दुबौलिया बाजार में भगवान शंकर और भगवान हनुमान के नाम से आई एक रजिस्ट्री ने क्षेत्र के डाकिए को परेशान कर रखा है. डाकिए को न तो दोनों भगवान मिल रहे हैं और न ही रजिस्ट्री लेने को कोई तैयार है. इस रजिस्ट्री पर प्रेषक का नाम पर न्यायालय एफटीसी लिखा है.

दरअसल दुबौलिया पोस्ट ऑफिस से शनिवार को एक रजिस्ट्री लेकर डाकिया बाजार के ही हनुमान मंदिर पर पहुंचा और पुजारी से स्पीड पोस्ट लेने को कहा. लिफाफे पर प्रेषक का नाम कमला प्रसाद निवासी दुबौलिया बाजार बनाम हनुमानगढ़ी लिखा हुआ है. पुजारी ने इस रजिस्ट्री को रिसीव करने से साफ मना कर दिया. दुबौलिया बाजार में हनुमानगढ़ी मंदिर तो है लेकिन इन दोनों नाम से कोई न तो पुजारी पहले रहा और न ही बाजार में कोई व्यक्ति ही रहता है.

पुजारी इसे किसी की साजिश मान रहे हैं. मंदिर के पुजारी कन्हैया दास ने कहा कि यहां पर कमला प्रसाद नाम का कोई शख्स नहीं रहता है. ऐसे में हो सकता है कि किसी साजिश के तहत रजिस्ट्री भेजी गई हो.



भगवान हनुमान और शंकर के लिए आई रजिस्ट्री

वहीं पोस्टमास्टर ने कहा कि हमारे पोस्ट ऑफिस में भगवान हनुमान और शंकर भगवान के नाम से रजिस्ट्री आई है. इस नाम का कोई आदमी नहीं मिला. हेड पोस्ट मास्टर देवेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि जिस नास से रजिस्ट्री आई है उस नाम के शख्स को दो दिन और खोजा जाएगा. उसके बाद प्रक्रिया के तहत इस रजिस्ट्री को वापस भेज दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें--

Analysis: क्या 'गंगा की बेटी' बनकर प्रियंका गांधी लगा पाएंगी कांग्रेस की नैया पार

प्रियंका के बयान पर BJP का पलटवार, कहा- जनता समझती है देश संकट में है या पार्टी

टिकट बदलने पर छलका गिरिराज का दर्द, '200 से ज्यादा बार की पार्टी आलाकमान से बात'

ड्राई फ्रूट बेच रहे कश्मीरी युवकों को भगवाधारी लोगों ने डंडे से पीटा, दी गालियां


इंदौर से सलमान खान को चुनाव क्यों लड़वाना चाहती है कांग्रेस, जानें- इसके पीछे के 5 कारण


लोकसभा चुनाव 2019: मुलायम की बहू डिंपल-अपर्णा के नाम है ये अनचाहा रिकॉर्ड


लोकसभा चुनाव से पहले घर वापसी कर सकते हैं लालू यादव


भीम आर्मी चीफ से मुलाकात के बाद बोलीं प्रियंका, 'चंद्रशेखर की हर लड़ाई में उनके साथ हूं'



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज