होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP: क्‍या यूपी रोडवेज का बढ़ेगा किराया? परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने दिया ये जवाब

UP: क्‍या यूपी रोडवेज का बढ़ेगा किराया? परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने दिया ये जवाब

दयाशंकर सिंह के पास परिवहन विभाग की जिम्‍मेदारी है.

दयाशंकर सिंह के पास परिवहन विभाग की जिम्‍मेदारी है.

UP Roadways News: यूपी रोडवेज की बसों में किराया बढ़ने की चर्चा के बीच परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि जब डीजल का ...अधिक पढ़ें

बस्‍ती. यूपी रोडवेज की बसों में किराया बढ़ने की चर्चा के बीच परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि जब डीजल का दाम 60 रुपये प्रति लीटर था तब से बसों का किराया नहीं बढ़ाया गया है. साथ ही कहा कि अभी तक परिवहन निगम ने किराया नहीं बढ़ाया है. मंत्री ने कहा कि डीजल महंगा हुआ है, तो वहीं परिवहन निगम स्वशासी संस्था है. साफ है कि वह खुद अपना खर्च निकालती है और सरकार से कोई अनुदान नहीं मिलता है. साथ ही कहा कि यूपी रोडवेज की बसों में किराया बढ़ाने का एक प्रपोजल हो सकता है, लेकिन अभी तक कोई किराया नहीं बढ़ाया गया है. वह बाबा साहब भीमराव आंबेडकर जयंती पर मनाए जा रहे सामाजिक समरसता दिवस में मुख्य अतिथि रूप में शामिल होने के लिए बस्‍ती आए थे.

इसके साथ परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 25 करोड़ की आबादी है और संसाधन कम हैं. हमें सबको देखना है. इसके साथ कहा कि बहुत सुंदर बस बना दें, एसी कोच बना दें, लेकिन लोगों को उनकी मंजिल तक न पहुंचा पाएं तो यह भी सम्भव नहीं हैं. यूपी में 12 हजार ग्राम सभाएं अब भी ऐसी हैं जहां पर अभी तक कोई बस नहीं जाती. हमारे यहां एक नियम है कि 10 साल बाद रोड पर बसें नहीं चलेंगी, लेकिन मैं कह रहा हूं 10 साल बाद भी बसें चलेंगी. पुरानी बसों को 5 से 10 किलोमीटर के ग्रामीण रूट पर चलवाएंगे, जहां पर आज भी कोई संसाधन नहीं है.

परिवहन विभाग घाटे में है फिर भी दे रहा वेतन
इसके साथ मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि यूपी परिवहन विभाग सरकार के अनुदान पर नहीं चलता है बल्कि अपने संसाधन खुद जनरेट करता है. इस विभाग में 50 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिला हुआ है. यही नहीं, घाटे में रहने के बाद भी वेतन समय पर दे रहा है.

आपके शहर से (लखनऊ)

परमिट व्‍यवस्‍था को बनाएंगे आसान
मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि यूपी में परमिट व्यवस्था का सरलीकरण करने जा रहे हैं. गाड़ियों का परमिट आसान किया जाएगा. हम कोशिश करेंगे कि लोग डग्गामारी न करें. साथ ही कहा कि आप लीगल तरीके से आइए और गाड़ि‍यों को चलाइए. किसी को कोई परेशानी नहीं होगी. मंत्री ने कहा कि आप को जानकर आश्चर्य होगा, सिर्फ 7 प्रतिशत मार्गों पर परिवहन निगम की बसों का रूट है. वहीं, 93 प्रतिशत रूट पर प्राइवेट बसें चल रही हैं.

Tags: BJP MLA Dayashankar Singh, UP Roadways, Yogi adityanath

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें