होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Basti News: बस्ती जिला और महिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंड जांच बंद, जानें बड़ी वजह

Basti News: बस्ती जिला और महिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंड जांच बंद, जानें बड़ी वजह

Basti District Hospital News: कार्यकारी डीएम व सीडीओ बस्ती राजेश प्रजापति ने बताया कि जिला और महिला हॉस्पिटल में अल्ट्र ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : कृष्ण गोपाल द्विवेदी

बस्ती. बस्ती में जिला और महिला हॉस्पिटल दोनों में लगभग छह माह से अल्ट्रासाउंड जांच पूरी तरह से ठप पड़ा है. जिसके कारण मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. खास तौर पर गर्भवती महिलाओं को. दरअसल यहां तैनात रेडियोलॉजिस्ट का मई माह में तबादल हो गया था और नए रेडियोलॉजिस्ट की तैनाती नहीं हो सकी. इसके कारण यहां पर अल्ट्रासाउंड जांच पूरी तरह से बंद हो गया. जिससे मरीजों को भारी भरकम पैसा देकर जांच करवाना पड़ रहा है.

आपको बता दें कि बस्ती के जिला और महिला हॉस्पिटल में कई वर्षों से रेडियोलॉजिस्ट का पद रिक्त है. जिम्मदारों द्वारा शासन से इसके लिए पत्राचार भी किया गया. लेकिन उसका कोई रिजल्ट नहीं निकल सका. नतीजतन दोनों हॉस्पिटल में महीनों से अल्ट्रासाउंड सेंटर में ताला लटका पड़ा है.

800 रुपया देकर मरीज करा रहे जांच
जिला और महिला हॉस्पिटल में अल्ट्रासाउंड जांच निःशुल्क होता है. वहीं बाहर निजी सेंटरों में इसके लिए 800 रूपये का चार्ज लिया जा रहा है.अपने मरीज का इलाज कराने आई तिमारदार पल्लवी तिवारी ने बताया कि यहां चिकित्सीय उपचार फ्री होने के कारण गरीब तबके के मरीज अधिक आते हैं. जिससे उनको यहां फ्री में इलाज मिल सके. लेकिन 6 महीनों से अल्ट्रासाउंड जांच ठप होने से हम लोगों को बाहर जाकर जांच करवाना पड़ रहा है. जिसका निजी केंद्र वाले मनमानी कीमत वसूल रहे हैं और मरीजों को बाहर तक ले जाने में भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

मरीजों का बाहर हो रहा अल्ट्रासाउंड
गर्भवती महिला शान्ति देवी ने बताया कि हम लोग पहली बार यहां आए हैं और हमने सुना था कि यहां इलाज में पैसा नही देना पड़ेगा. हॉस्पिटल के अंदर ही सारा उपचार मिल जायेगा. लेकिन अभी मुझे अल्ट्रासाउंड कराने के लिए बाहर जाना पड़ा. जहां तक चलने में मुझे काफी परेशानी उठानी पड़ी. मैं चलने की स्थिति में नही हूं. लेकिन अल्ट्रासाउंड जांच कराने के लिए मुझे मजबूरी में जाना पड़ा.

शासन से कई बार हो चुका है पत्राचार-CMS
सीएमएस महिला हॉस्पिटल डॉ कृष्ण दत्त पाण्डेय ने बताया कि हमनें कई बार शासन से रेडियोलॉजिस्ट को लेकर पत्राचार किया. लेकिन अभी तक रेडियोलॉजिस्ट की नियुक्ति नहीं की गई. मरीजों को कैली में जाकर अल्ट्रासाउंड कराने को बोला जाता है. लेकिन दूरी की वजह से मरीज बाहर निजी सेंटरों से ही जांच करवा लेते हैं.

कार्यकारी डीएम व सीडीओ बस्ती राजेश प्रजापति ने बताया कि जिला और महिला हॉस्पिटल में अल्ट्रासाउंड बंद है. इसको लेकर शासन से पत्राचार भी किया गया है. अल्ट्रासाउंड ठप होने से मरीजों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है. इसको लेकर हम लोग विकल्प ढूंढ रहे हैं. हमारी कोशिश है कि कैली के रेडियोलॉजिस्ट को अल्टरनेटिव तौर पर तीन दिन महिला और जिला हॉस्पिटल में तैनात किया जाएगा.

Tags: Basti district hospital, Basti news, Deputy CM Brajesh Pathak, Pregnant woman, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें