Home /News /uttar-pradesh /

Noida News: शहर का कूड़ा शहर में ही होगा इस्तेमाल, यह है पूरा प्लान

Noida News: शहर का कूड़ा शहर में ही होगा इस्तेमाल, यह है पूरा प्लान

4 से ज्यादा तरीकों से अब शहर का कूड़ा शहर में ही इस्तेमाल होगा.

4 से ज्यादा तरीकों से अब शहर का कूड़ा शहर में ही इस्तेमाल होगा.

नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने इसकी पहल शुरु की है. ब्राजील (Brazil) और भारतीय कंपनी के सहयोग से नोएडा के लखनावली में एक प्लांट लगाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नोएडा. किसी भी शहर के रखरखाव में सबसे ज्यादा परेशानी कूड़े को लेकर आती है. शहर से कूड़ा (Garbage) उठाना तो आसान होता है, लेकिन उसे कहां डंप करें और उसका इस्तेमाल कैसे करें, इसे लेकर हर वक्त माथापच्ची चलती रहती है. लेकिन अब कूड़े की परेशानी से छुटकारा मिलने जा रहा है. नए प्लान के मुताबिक अब शहर का कूड़ा शहर में ही इस्तेमाल होगा. नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने इसकी पहल शुरु की है. ब्राजील (Brazil) और भारतीय कंपनी के सहयोग से नोएडा के लखनावली में एक प्लांट लगाया गया है. इसी जगह पर नोएडा का डंप यार्ड भी है. यहां 3 लाख टन से ज्यादा कूड़ा जमा हो चुका है. एक आंकड़े के मुताबिक नोएडा (Noida) से हर रोज 250 टन कूड़ा निकलता है.

    ऐसे होगा कूड़े का इस्तेमाल  

    नोएडा अथॉरिटी से जुड़े अफसरों की मानें तो लखनावली प्लांट में डंप 3 लाख टन से ज्यादा कूड़े में से किचन वेस्ट को अलग किया जाएगा. किचिन से निकले कूड़े से खाद बनाई जाएगी. इस खाद का इस्तेमाल नोएडा अथॉरिटी अपने यहां बागवानी में करेगी. इस तरह से करीब 50 फीसद कूड़ा निपट जाएगा. बाकी जो 50 फीसद कूड़ा बचेगा उसमे से प्लास्टिक वेस्ट को अलग कर रीसाइकिलिंग प्लांट को भेजा जाएगा.

    वहां प्लास्टिक वेस्ट) से फ्यूल या मल्टी लेयर बोर्ड बनाए जाएंगे. यह वो बोर्ड होंगे जिनसे कुर्सी, बेंच, ट्री गार्ड बनाए जा सकेंगे. इतना ही नहीं कंस्ट्रक्शन साइट से निकले कूड़े का इस्तेमाल सड़क बनाने और गड्ढे भरने के लिए किया जाएगा. इस प्लांट को रेमेडिएशन नाम दिया गया है.

    Noida-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर अब नहीं लगेगा जाम, जानिए अथॉरिटी का प्लान

    प्लांट से हर रोज निकलेगी 10 ट्रक मिट्टी, लगेंगे सीसीटीवी  

    जानकारों का कहना है कि लखनावली में हर रोज नोएडा शहर का करीब 250 टन कूड़ा आता है. इस कूड़े में करीब 10 ट्रक मिट्टी होती है. लेकिन अब प्लांट शुरु होने के बाद से इस मिट्टी का इस्तेमाल शहर की सड़क बनाने में हो सकेगा. वहीं शहर के बाग-बगीचों में भी इस मिट्टी का इस्तेमाल किया जाएगा. शहर में जिस जगह अथॉरिटी की जमीन सड़क से नीची है वहां इस मिट्टी को भराव के रूप में डाला जाएगा. लैंडफिल साइट पर काम कैसा हो रहा है. कूड़े को अच्छी तरह से प्रोसेस किया जा रहा है या नहीं यह देखने के लिए नोएडा अथॉरिटी वहां सीसीटीवी कैमरे लगा रही है. इन कैमरों को आम पब्लिक भी अथॉरिटी की साइट पर जाकर लाइव देख सकती है.

    एवियन एमरो ने लगाया है प्लांट

    इस प्लांट का सेटअप ब्राजील की कंपनी ने तैयार किया है. यहां पर पावर स्कैनर, ट्रॉमेल और वेइंग ब्रिज आदि मशीने लगाई गई हैं. ब्राजील की कंपनी को मदद करने के लिए भारतीय एवियन एमरो कंपनी भी उसके साथ है. हालांकि रेमेडिएशन प्लांट लगाने के लिए टेंडर के जरिए ब्राजील की कंपनी लारा का चयन किया गया था. लेकिन इस कंपनी ने भारतीय कंपनी एवियन एमरो के साथ मिलकर कूड़ा निस्तारित करने के लिए अनुबंध साइन किया है. दोनों कंपनियों ने मिलकर लखनावली में प्लांट तैयार किया है. यह प्लांट मंगलवार से शुरू हो गया है.

    Tags: Garbage, Noida Authority, Road broken

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर