होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Gyanpur Election Result: ज्ञानपुर सीट से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की हुई हार, विपुल दुबे की हुई जीत

Gyanpur Election Result: ज्ञानपुर सीट से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की हुई हार, विपुल दुबे की हुई जीत

ज्ञानपुर विधानसभा सीट पर बाहुबली विधायक विजय मिश्रा चुनाव हार गए हैं, उन्होंने जेल से ही ताल ठोकी थी.

ज्ञानपुर विधानसभा सीट पर बाहुबली विधायक विजय मिश्रा चुनाव हार गए हैं, उन्होंने जेल से ही ताल ठोकी थी.

UP Assembly Election Result 2022: पूर्वांचल (Purvanchal) की सबसे चर्चित सीटों में से एक भदोही जनपद की ज्ञानपुर विधानसभा ...अधिक पढ़ें

भदोही. पूर्वांचल (Purvanchal) की सबसे चर्चित सीटों में एक भदोही जनपद की ज्ञानपुर विधानसभा सीट (Gyanpur Assembly seat Result 2022) पर लोगों की पैनी नजर रही. इस सीट से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा चुनाव हार गए हैं. वो लगातार इस सीट से चार बार विधायक थे, लेकिन अब 2022 के चुनाव में इस सीट से निर्बल इंडियन शोशित हमारा आम दल (Nirbal Indian Shoshit Hamara Aam Dal) के विपुल दुबे ने जीत दर्ज की है.

ज्ञानपुर विधानसभा सीट से विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) शुरुआती रुझानों में पीछे चल रहे थे. इस सीट से अगर वो चुनाव जीतते तो पांचवी बार विधायक बनते. उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनाव में जेल से ताल ठोकी थी. उनके सामने निषाद भाजपा-गठबंधन, समाजवादी पार्टी, बसपा और कांग्रेस के प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे.

किसको मिले कितने वोट?

निषाद पार्टी के विपुल दुबे ने ज्ञानपुर विधानसभा सीट से जीत दर्ज की है और उन्हें कुल 73446 वोट मिले हैं वहीं, उनकी कड़ी टक्कर सपा के राम किशोर बिंद (RAM KISHORE BIND) से रही है. उन्हें कुल 67215 वोट मिले हैं. वहीं, बसपा के उम्मीदवार उपेंद्र कुमार सिंह (UPENDRA KUMAR SINGH) को 30753 वोट मिले हैं. ऐसे में देखने के लिए मिल रहा है कि इन पार्टियों के बीच इस सीट को जीतने के लिए कड़ी टक्कर रही है.

आपको बता दें कि 2002 में पहली बार सपा के टिकट पर विजय मिश्रा ने ज्ञानपुर से चुनाव जीता था. उसके बाद 2007 और 2012 में समाजवादी पार्टी की टिकट पर वह विधायक बने. 2017 में सपा ने जब उनका टिकट काट दिया तो निषाद पार्टी के टिकट पर वह चुनाव जीत गए. इस बार वह जेल से चुनाव लड़ रहे हैं. रिश्तेदार की प्रॉपर्टी पर कब्जा और रेप के आरोप में विधायक विजय मिश्रा वर्तमान में आगरा जेल में बंद हैं और इस बार वह प्रगतिशील मानव समाज पार्टी की टिकट पर पांचवी बार चुनावी मैदान में उतरे हैं. विजय मिश्रा की बेटी और उनकी पत्नी के हाथ में उनके प्रचार की कमान है. वह विधायक के द्वारा किए गए विकास कार्यों के मुद्दों पर चुनाव प्रचार में जुटी हैं.

ज्ञानपुर विधानसभा सीट पर दिख रहा कड़ा मुकाबला

ज्ञानपुर विधानसभा सीट पर निषाद-भाजपा गठबंधन, सपा, प्रगतिशील मानव समाज पार्टी और बसपा के प्रत्याशियों के बीच टक्कर देखने को मिल रही है. निषाद-भाजपा गठबंधन से विपुल दुबे, सपा से रामकिशोर बिंद और गतिशील मानव समाज पार्टी से विजय मिश्रा, कांग्रेस से सुरेश चंद्र मिश्रा और बसपा से उपेंद्र सिंह चुनावी मैदान में हैं. सभी प्रत्याशी विभिन्न मुद्दों को लेकर जनता के बीच पहुंच रहे हैं. कोई विजय मिश्रा के आपराधिक मामलों को बता कर उन्हें वोट न देने की अपील कर रहा है तो कोई विकास के मुद्दों को लेकर जनता के बीच पहुंच रहा है.

ज्ञानपुर विधानसभा सीट का राजनैतिक इतिहास

प्रगतिशील मानव समाज पार्टी से एक बार फिर बाहुबली विधायक विजय मिश्रा चुनावी मैदान में हैं. अब देखना है कि ज्ञानपुर विधानसभा सीट की जनता क्या पांचवीं बार उन पर भरोसा करती है या फिर किसी अन्य प्रत्याशी पर अपना भरोसा जताती है. 1962 से अगर 2017 तक की बात की जाए तो ज्ञानपुर विधानसभा सीट पर 1962, 1969, 1977, 1980, 1985 में कांग्रेस, 1967 में बीजेएस, 1974 में बीकेडी, 1989 में जेडी, 1991 और 1996 में भाजपा, 1993 में बसपा, 1991 और 1996 में भाजपा, 2002, 2007 और 2012 में सपा और 2017 में निषाद पार्टी का कब्जा सीट पर रहा है.

Tags: Bhadohi News, Gyanpur Assembly seat, Uttar Pradesh Assembly Election Result 2022, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें