Home /News /uttar-pradesh /

जेल हो या हिरासत बाहुबली विधायक विजय मिश्र की मुश्किल घड़ी में मोर्चा सभालती हैं बेटियां

जेल हो या हिरासत बाहुबली विधायक विजय मिश्र की मुश्किल घड़ी में मोर्चा सभालती हैं बेटियां

(बाएं से) सीमा मिश्रा, विधायक विजय मिश्रा और रीमा पांडेय

(बाएं से) सीमा मिश्रा, विधायक विजय मिश्रा और रीमा पांडेय

भदोही (Bhadohi) के ज्ञानपुर सीट से विधायक विजय मिश्रा मुश्किलों में हैं. भदोही में एक एफआईआर के संबंध में उन्हें मध्यप्रदेश में हिरासत में ले लिया गया और अब यूपी पुलिस उन्हें लेकर भदोही आ रही है. विजय मिश्रा को लेकर ज्ञानपुर में चर्चाओं का बाजार गर्म है.

अधिक पढ़ें ...
भदोही. ज्ञानपुर विधानसभा सीट से लगातार चौथी बार जीत दर्ज करने वाले विधायक विजय मिश्र (MLA Vijay Mishra) को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में पुलिस ने हिरासत में ले लिया था, जिसके बाद अब यूपी पुलिस उनको भदोही (Bhadohi) लेकर आ रही है. वैसे ये कोई पहला मामला नहीं है, जब विधायक मुश्किल में हैं. इसके पहले भी विधायक विजय मिश्र की मुश्किलें कई बार बढ़ चुकी हैं. इस बीच एक बात की चर्चा पूरे ज्ञानपुर में है कि जब भी विधायक विजय मिश्रा किसी मुसीबत में होते हैं तो उनकी बेटियां मदद के लिए सामने आती हैं. वह पूरा मोर्चा संभालते हुए विधायक की हर संभव मदद का प्रयास करती हैं

जेल से चुनाव लड़ने पर MLA की सबसे बड़ी बेटी ने संभाला था मोर्चा

2011 में विधायक विजय मिश्रा ने दिल्ली स्थित हौज खास थाने में समर्पण किया था. इसके बाद विधायक लंबे समय तक जेल में रहे. लेकिन जेल में रहते हुए विजय मिश्र ने तीसरी बार ज्ञानपुर सीट से जीत हासिल कर ली. उस समय विधायक विजय मिश्र की बड़ी बेटी सीमा मिश्रा का आगमन भदोही जनपद में हुआ और उन्होंने विधायक विजय मिश्र के पूरे चुनाव की जिम्मेदारी संभाली थी.

सपा के टिकट पर लड़ा लोकसभा चुनाव, हारीं

सीमा मिश्रा उस समय तक राजनीति में नई थीं लेकिन उसके बाद भी उन्होंने विजय मिश्रा की पूरी चुनाव कैंपेनिंग अपने हाथ में ले ली और विधायक विजय मिश्र चुनाव जीते. उसके बाद जरूर सीमा मिश्रा ने ने खुद राजनीतिक में उतरने का फैसला किया और भदोही लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी से उन्हें टिकट मिला. लेकिन उनको हार का सामना करना पड़ा.

मुकदमा दर्ज होने के बाद अब विधायक की तीसरी बेटी ने संभाला मोर्चा

बीती 4 अगस्त को गोपीगंज थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद विधायक विजय मिश्रा मध्य प्रदेश में जैसे ही हिरासत में लिए गए. उसके बाद विधायक की तीसरे नंबर की बेटी रीमा पांडेय भदोही पहुंच गईं. रीमा पेशे से अधिवक्ता भी हैं और उन्होंने इस संबंध में पुलिस अधिकारियों से मुलाकात कर विधायक को सही सलामत भदोही लाने की मांग की. यही नहीं वह मीडिया के भी सामने पहली बार आईं और अपने पिता को सही सलामत लाने की मांग की मांग करने के साथ पुलिस की कार्रवाई पर कई सवाल खड़े किए.

आपको बता दें कि विधायक विजय मिश्रा की 5 बेटियां और एक बेटा है. सभी बेटियों की शादी हो चुकी है. विधायक विजय मिश्र की एक बेटी सीमा मिश्रा के अलावा किसी भी अन्य बेटी का राजनीति से कोई संबंध नहीं है.

Tags: Bhadohi, Up news in hindi, UP news updates, UP police, Uttarpradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर