Bhadohi news

भदोही

अपना जिला चुनें

COVID19: भदोही के DM का अनोखा फरमान, PM केयर फंड के लिए BSA को दिया टारगेट

PM केयर फंड चंदे के लिए BSA को दिया टारगेट (file photo)

PM केयर फंड चंदे के लिए BSA को दिया टारगेट (file photo)

पूरे मामले को देखते हुए बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने भी स्पष्ट कर दिया है पीएम केयर फंड में जनता से स्वैच्छिक दान करने के लिए अपील की जाएगी, धनराशि जो भी हो वह जनता तय करेगी या जो दान देने वाला तय करेगा.

SHARE THIS:
भदोही. पूरा देश कोरोना (Coronavirus) के खात्मे की लड़ाई में जुटा हुआ है. आम हो या खास, सभी लोग अपने-अपने तरीके से इस जंग में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं. इसी कड़ी में भदोही के जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) ने अनोखा तरीका निकाला है. भदोही के बेसिक शिक्षा अधिकारी अब जनपद के 6 खंड शिक्षा अधिकारियों से 24 हज़ार आरोग्य सेतु ऐप जनपदवासियों से डाउनलोड करा उन्हें 100 रुपये जबरन PM केयर फंड में देने के लिए बाध्य भी करेंगे.

जिलाधिकारी भदोही के आदेश पर...

जिलाधिकारी भदोही के आदेश के बाद मंगलवार को बेसिक शिक्षा अधिकारी अमित कुमार ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह अपने विकास खंड के हर व्यक्ति को आरोग्य ऐप डाउनलोड कराने के साथ ही 100 रूपये पीएम केयर फंड के लिए सहयोग राशि भी देना सुनिश्चित करे.आदेश की एक प्रतिलिपि जिलाधिकारी भदोही को भी प्रेषित की गई है.

इससे पहले बेसिक शिक्षा विभाग ने दिए 76 करोड़ रुपये

इससे पहले कोरोना महामारी को लेकर बेसिक शिक्षा विभाग ने 76 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करा चुका है. दूसरी ओर भदोही के बीएसए पीएम केयर फंड के लिए लोगों से 100-100 रुपये चंदा इकट्ठा कराकर विभाग की किरकिरी करने में लगे हैं. यही नहीं, सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि यह सब भदोही के जिलाधिकारी के आदेश के अनुसार हो रहा है.

बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा जारी किए आदेश की कॉपी
बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा जारी किए आदेश की कॉपी


हर 4 हजार व्यक्तियों से 4 लाख रुपये का मिला टारगेट
बेसिक शिक्षा अधिकारी अमित कुमार के जारी आदेश के अनुसार खंड शिक्षा अधिकारियों को अपने विकास खंड में 4 हजार लोगों को आरोग्य सेतु ऐप उनके फोन में डाउनलोड कराना होगा. इसके साथ ही उन्हीं लोगों से पीएम केयर फंड 100 रुपये चंदा इकट्ठा करना होगा. आदेश में इस अभियान की तारीख भी दी गई हैं. खंड शिक्षा अधिकारियों को 28 अप्रैल 1 मई तक पूरा कर लेना है. उन्हें एक प्रारूप भी भेजा गया है जिसमें प्रतिदिन की सूचनाएं भरकर कार्यालय के वाट्स एप नंबर 9453004199 पर उपलब्ध करानी होगी.

क्या कहते है बेसिक शिक्षा मंत्री 
पूरे मामले को देखते हुए बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने भी स्पष्ट कर दिया है पीएम केयर फंड में जनता से स्वैच्छिक दान करने के लिए अपील की जाएगी, धनराशि जो भी हो वह जनता तय करेगी या जो दान देने वाला तय करेगा. उन्होंने कहा कि अपील से धनराशि तय होगी आदेश से नहीं.यह गलत है अधिकारी धनराशि फिक्स कर जनता को दान देने के लिए बाध्य नहीं कर सकते और न ही अधिकारियों को धनराशि जमा कराने के लिए टारगेट दे सकते है.

ये भी पढे़ं:

संतकबीरनगर Lockdown 2.0: ठेले पर बुजुर्ग बाबा को लादकर दर-दर भटकती बेटियां!

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Bhadohi News: MLA विजय मिश्र के भगोड़े बेटे ने जारी किया वीडियो, कहा- STF की कार्रवाई फर्जी

ज्ञानपुर विधायक विजय मिश्रा के फरार बेटे ने STF की कार्रवाई को बताया फर्जी

Bhadohi News: विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्णु मिश्रा ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि जिस दिन एसटीएफ ने छापेमारी कर मुझे पिस्टल छोड़कर फरार दिखाया, उस दिन मैं मुंबई के एक होटल में था.

SHARE THIS:

भदोही.  ज्ञानपुर से विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) के फरार चल रहे बेटे विष्णु मिश्रा (Vishnu Mishra) ने अपना एक वीडियो बयान जारी किया है, जिसमे उन्होंने पुलिस पर फर्जी कार्रवाई करने का आरोप लगाया है. विष्णु मिश्रा ने कहा कि जिस दिन एसटीएफ ने भदोही में छापेमारी कर मुझे पिस्टल छोड़कर फरार दिखाया, उस दिन मैं मुंबई में था. विधायक के बेटे ने कहा कि जो आरोप लगाए गए हैं वह पूरी तरह गलत है.

बता दें कि गत 7 सितंबर को एसटीएफ ने भदोही जनपद के गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के आनापुर गांव में विधायक विजय मिश्रा के करीबी ग्राम प्रधान चंदन तिवारी के घर छापेमारी कर ग्राम प्रधान को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने दावा किया था कि ग्राम प्रधान ने फरार चल रहे विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्णु मिश्र को शरण दी थी. दावा किया गया था कि विधायक का फरार बेटा विष्णु मिश्रा ग्राम प्रधान के घर छिपकर रह रहा था और वह एक पिस्टल मौके पर छोड़कर फरार हो गया.

विधायक के बेटे ने वीडियो जारी कर दी सफाई
विधायक विजय मिश्रा के बेटे विष्णु मिश्रा ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि जिस दिन एसटीएफ ने छापेमारी कर मुझे पिस्टल छोड़कर फरार दिखाया, उस दिन मैं मुंबई के एक होटल में था. उन्होंने कहा कि 7 सितम्बर को मुंबई के होटल में रुके और 9 सितंबर को होटल से चेक आउट किया. जिसका बिल भी वायरल किया है. विधायक के बेटे का कहना है कि पुलिस गिरफ्तार कर अवैध हथियारों के साथ मुझे फंसाना चाहती है.

रेप और रिश्तेदार की प्रॉपर्टी पर कब्जे के आरोप में फरार है विष्णु मिश्र
विष्णु मिश्रा अपने विधायक पिता के साथ कई मामलों में आरोपी हैं. बीते कई महीनों से विधायक विजय मिश्र जेल में है. गौरलतब है कि विधायक के बेटे पर एक युवती ने रेप का आरोप लगाया था और उनके एक रिश्तेदार ने प्रॉपर्टी पर कब्जा करने का भी आरोप लगाया था. करीब एक साल से विधायक का बेटा इन मामलों में फरार चल रहा है. वहीं विधायक के बेटे के द्वारा जो आरोप पुलिस पर लगाये गए है, इस पर पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह का कहना है कि मामला न्यायालय में विचाराधीन है, उन्हें उचित फोरम में आकर अपनी बात करनी चाहिए.

जेल में बंद MLA विजय मिश्र के बेटे की गिरफ्तारी के लिए STF ने की छापेमारी, पिस्टल छोड़ फरार हुआ विष्णु मिश्र

फिर पुलिस को चकमा देकर फरार हुआ विधायक विजय मिश्रा का बेटा विष्णु

Lucknow STF in Bhadohi: गोपीगंज कोतवाली में रिश्तेदार की प्रॉपर्टी पर कब्जा और एक युवती से रेप के मामले में विधायक और विधायक के बेटे विष्णु मिश्र पर मुकदमा दर्ज है. इस मामले में विधायक विजय मिश्रा का बेटा फरार चल रहा है.

SHARE THIS:

भदोही. यूपी के भदोही (Bhadohi) जनपद के ज्ञानपुर विधानसभा सीट (Gyanpur Assembly Seat) से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) के फरार चल रहे बेटे विष्णु मिश्रा (Vishnu Mishra) की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ (STF) और गोपीगंज कोतवाली पुलिस (Police) की टीम ने छापेमारी की. आरोप है कि छापे के दौरान पिस्टल छोड़कर विधायक का बेटा फरार हो गया. पुलिस ने संरक्षणकर्ता एक ग्राम प्रधान को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक दो पिस्टल बरामद की गई है.

आपको बता दें कि गोपीगंज कोतवाली में रिश्तेदार की प्रॉपर्टी पर कब्जा और एक युवती से रेप के मामले में विधायक और विधायक के बेटे विष्णु मिश्र पर मुकदमा दर्ज है. इस मामले में विधायक विजय मिश्रा का बेटा फरार चल रहा है. मामले की विवेचना एसटीएफ को सौंपी गई है. गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के आनापुर गांव में विधायक के बेटे की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ और गोपीगंज कोतवाली पुलिस की टीम ने ग्राम प्रधान चंदन तिवारी के घर छापेमारी की. पुलिस के मुताबिक विधायक का बेटा एक पिस्टल छोड़कर फरार हो गया. पुलिस ने दो पिस्टल वहां से बरामद किए है. इस मामले में संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है.

करीबी ग्राम प्रधान गिरफ्तार
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि विधायक के बेटे को संरक्षण देने वाले ग्राम प्रधान चंदन तिवारी को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि पकड़ा गया ग्राम प्रधान विधायक के बेटे का करीबी है. गौरतलब है कि इसी मामले में बाहुबली विधायक विजय मिश्र जेल में बंद है. जबकि बेटा विजय मिश्रा काफी लंबे समय से पुलिस को चकमा दे रहा है.

रंग और नाम बदलने के अलावा और कोई काम नहीं योगी सरकार के पास : अखिलेश यादव

भदोही की जनसभा में लोगों का अभिनंदन करते सपा प्रमुख अखिलेश यादव.

SP Strategy : अखिलेश यादव ने इस सभा के माध्यम से साफ कर दिया है कि वह आने वाले 2022 का विधानसभा चुनाव सपा सरकार में किए गए विकास कार्यों के बल पर लड़ेंगे. उन्होंने सपा सरकार में कराए गए कई विकास कार्यों को गिनाया.

SHARE THIS:

भदोही. सीएम योगी आदित्यनाथ ने हमारे कराए विकास कार्यों का उद्घाटन के बाद भी उद्घाटन किया. इस सरकार के पास सिर्फ रंग बदलने, नाम बदलने और दूसरे के काम को अपना काम बताने के अलावा कोई काम नहीं है. ये बातें समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भदोही में कहीं. वे शिक्षक सम्मेलन कार्यक्रम में शिरकत करने भदोही आए थे. इस दौरान उन्होंने सपा सरकार में कराए गए विकास कार्यों का ब्यौरा दिया और भाजपा पर जमकर निशाना साधा.

भदोही में शिक्षक सम्मेलन के मौके पर आए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बड़ी जनसभा को संबोधित किया. उनके भाषण के अंदाज से दिखा कि उन्होंने चुनाव प्रचार का आगाज कर दिया है. अखिलेश यादव ने इस सभा के माध्यम से साफ कर दिया है कि वह आने वाले 2022 का विधानसभा चुनाव सपा सरकार में किए गए विकास कार्यों के बल पर लड़ेंगे. उन्होंने सपा सरकार में कराए गए कई विकास कार्यों को गिनाया.

इसे भी पढ़ें : UP में BJP विकास, कानून व्यवस्था व राष्ट्रवाद के नाम पर लड़ेगी चुनाव : स्वतंत्र देव सिंह

कार्पेट एक्सपो मार्ट का दोबारा उद्घाटन

अखिलेश यादव ने कहा कि हमने भदोही में कालीन उद्योग से जुड़े निर्यातक और बुनकरों की बेहतरी के लिए एक दो नहीं, बल्कि कई काम किए. हमने यहां कार्पेट एक्सपो मार्ट बनाया. भदोही से बाबतपुर तक फोरलेन सड़क दी. हमने भदोही के कार्पेट एक्सपो मार्ट का उद्घाटन कर दिया था, लेकिन हमारे जो मुख्यमंत्री हैं, वह बहुत कमाल के मुख्यमंत्री हैं, उन्होंने उद्घाटन किए गए मार्ट का दोबारा उद्घाटन कर दिया. उन्होंने कहा कि यह पहली सरकार है जिसके पास रंग बदलने, नाम बदलने और दूसरे के काम को अपना काम बताने के अलावा कोई काम नहीं है.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ छोटे दलों के साथ गठबंधन करेगी कांग्रेस – प्रदेश अध्यक्ष

सीएम को लैपटॉप चलाना नहीं आता : अखिलेश यादव

अखिलेश ने सीएम योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि हम समाजवादियों ने गरीब बच्चों के भविष्य को देखते हुए लैपटॉप बांटा. अभी सुनने में आया है कि यह सरकार स्मार्टफोन देने जा रही है. नौजवानों के पास स्मार्टफोन तो पहुंच ही गए हैं, लेकिन मुख्यमंत्री जी ने लैपटॉप इसलिए नहीं दिया कि उनको लैपटॉप चलाना खुद नहीं आता है.

भदोही में बर्खास्त हुए 6 शिक्षकों से की जायेगी वेतन की रिकवरी

UP: भदोही में बर्खास्त 6 शिक्षकों की वेतन रिकवरी के आदेश हुए हैं.

UP News: जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निर्देश दिए हैं कि बर्खास्त शिक्षकों के वेतन का आकलन किया जाए और वेतन रिकवरी की कार्रवाई की जाए.

SHARE THIS:

भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही (Bhadohi) जिले के विभिन्न स्कूलों में फर्जी प्रमाण पत्रों और अन्य जनपद से फेक ट्रांसफर पर नौकरी कर रहे छह शिक्षक बर्खास्त किए गए थे. अब इन शिक्षकों पर विभाग और भी शिकंजा कसने की तैयारी में जुट गया है. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सभी 6 शिक्षकों को दिए गए वेतन के आकलन के निर्देश दिए हैं. इन सभी से वेतन की रिकवरी की तैयारी विभागीय स्तर से की जा रही है. जल्द ही वेतन की रिकवरी सभी से होगी.

फर्जी प्रमाण पत्र और फेक ट्रांसफर के सहारे नौकरी कर रहे शिक्षकों की सेवा समाप्ति के बाद अब इन छह शिक्षकों की मुश्किलें और ज्यादा बढ़ने वाली है. भदोही जनपद के छह प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक विद्यालय में यह 6 शिक्षक तैनात थे. जांच के बाद इन सभी की सेवा समाप्त कर दी गई थी और सभी पर एफआईआर दर्ज हुई थी और इनकी सेवा समाप्ति की कार्रवाई विभागीय स्तर से की गई थी इन शिक्षकों में प्रेमलता त्रिपाठी, आशुतोष, ओम प्रकाश, अखिलेश चंद्र, उमाशंकर यादव और श्याम कुमारी शामिल है.

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निर्देश दिए हैं कि इन सभी के वेतन का आकलन किया जाए और वेतन रिकवरी की कार्रवाई की जाए. बीएसए भूपेंद्र नारायण सिंह ने बताया है कि वेतन की धनराशि के आकलन के बाद इन सभी से रिकवरी की जो कार्रवाई है, वह की जाएगी. उन्होंने कहा कि नोटिस जारी किया जायेगा और फिर अग्रिम कार्रवाही की जायेगी.

Viral Video: विधायक विजय मिश्रा पर रेप का आरोप लगाने वाली गायिका ने शेयर किया वीडियो, आत्मदाह की चेतावनी

Bhadohi: ज्ञानपुर से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता ने आत्मदाह की चेतावनी दी है.

UP Viral  Video: एक साल पहले वाराणसी की एक गायिका ने बाहुबली विधायक विजय मिश्रा, उनके बेटे सहित तीन पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था. अब पीड़िता ने सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट कर लगाई न्याय की गुहार लगाई है.

SHARE THIS:

भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही (Bhadohi) में विधायक विजय मिश्र (MLA Vijay Mishra) पर रेप (Rape) का मुकदमा दर्ज कराने वाली गायिका ने बड़े आरोप लगाए हैं. दुष्कर्म पीड़िता ने विधायक पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. उसने कहा है कि विधायक के आदमी लगातार टॉर्चर कर रहे हैं. यही नहीं उसके भाई के ऊपर भी रेप का फर्जी मुकदमा कराया गया है और उसे भी फर्जी फंसाने की धमकी दी जा रही है. पीड़िता का कहना है कि उसकी महिला आयोग, मानवाधिकार आयोग से लेकर योगी सरकार से अपील है कि उसे इंसाफ दिलाएं. इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्मदाह कर लेगी.

पीड़िता ने सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट कर लगाई न्याय की गुहार लगाई है. बता दें एक साल पहले वाराणसी की एक गायिका ने विधायक विजय मिश्रा, उनके बेटे सहित तीन पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था. विधायक पार 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान दुष्कर्म करने का आरोप है.

जिले के गोपीगंज थाने में ये मुकदमा दर्ज है. बता दें बाहुबली विजय मिश्रा इस समय रिश्तेदार की सम्पत्ति कब्जा करने सहित कई मामलों में आगरा जेल में बन्द है. वह ज्ञानपुर से विधायक है.

भदोही: NH-19 पर भीषण सड़क हादसा, ट्रक में आग लगने से चालक की जिंदा जलकर मौत

बताया जाता है कि ट्रक चालक और खलासी हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं और रिश्ते में दोनों चाचा भतीजे लगते हैं.  (सांकेतिक फोटो)

Bhadohi Accident News: घटना गोपीगंज कोतवाली इलाके के नेशनल हाईवे- 19 की है. हाईवे के किनारे ट्रॉली खड़ी थी. उसी दौरान तेज रफ्तार से अनियंत्रित ट्रक ने उसे पीछे से टक्कर मार दी.

SHARE THIS:

भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही जिले (Bhadohi District) में नेशनल हाईवे-19 पर एक भीषण सड़क हादसा (Horrific Road Accident) हो गया. कहा जा रहा है कि एक खड़ी ट्रॉली में तेज रफ्तार ट्रक (Truck) ने टक्कर मार दी और वह खुद पलट गया. इसके बाद ट्रक और ट्रॉली दोनों में भीषण आग लग गई. इस हादसे में ट्रक में सवार चालक की दर्दनाक मौत हो गई है, जबकि खलासी गंभीर रूप से घायल हुआ है. उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दमकल कर्मियों ने करीब एक घंटे की कड़ी मेहनत के बाद ट्रक और ट्रॉली में लगी भीषण आग पर काबू पाया है.

जानकारी के मुताबिक, घटना गोपीगंज कोतवाली इलाके के नेशनल हाईवे- 19 की है. हाईवे के किनारे ट्रॉली खड़ी थी उसी दौरान तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक ने उसमें पीछे से टक्कर मार दी. टक्कर इतनी भीषण थी कि ट्रक हाइवे पर ही पलट गया और ट्रक में भीषण आग लग गई. देखते ही देखते ट्रक धू- धू कर जलने लगा. किसी तरह ट्रक से खलासी तो निकल गया लेकिन तिलकराज नाम का चालक ट्रक में फंस गया और उसकी दर्दनाक मौत हो गई है.

दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाया
बताया जा रहा है कि ट्रक चालक और खलासी हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं और रिश्ते में दोनों चाचा भतीजे लगते हैं. इस एक्सीडेंट की वजह से वाराणसी– प्रयागराज रूट पर हाईवे पर जाम के हालात बन गए हैं. ट्रक में भीषण आग लगने की वजह से पुलिस ने हाईवे से यातायात रोक दिया था. डिप्टी एसपी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि करीब एक घंटे तक इस रूट पर यातायात बाधित रहा है. फिर एक घंटे की कड़ी मेहनत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया.

Bhadohi News: दो वफादार कुत्तों ने खुद की जान देकर जहरीले सांप से बचाई अपने मालिक की जान

Bhadohi News: वफादार कुत्तों ने जान देकर मिल्क की बचाई जान

Bhadohi Dog and Snake Fight: जयरामपुर गांव में डॉ राजन का आवास है. उन्होंने परिवार की सुरक्षा के लिए दो कुत्तों को पाला था, जिनका नाम कोको और शेरू था. कोको और शेरू ने मालिक की सच्ची सेवा करते हुए सांप के हमले से अपने मालिक को बचाया.

SHARE THIS:

भदोही. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के भदोही (Bhadohi) जनपद के औराई क्षेत्र के जयरामपुर गांव में दो कुत्तों ने अपनी वफादारी का परिचय दिया और जहरीले सांप से घंटों लड़ने के बाद सांप को कुत्तों ने मार दिया. उसके कुछ देर के बाद दोनों कुत्तों की भी मौत हो गई. दरअसल, मालिक के घर के अंदर सांप प्रवेश करना चाह रहा था और दोनों कुत्‍तों ने अपने मालिक की घर की पूरी वफादारी से रखवाली की.

जयरामपुर गांव में डॉ. राजन का आवास है. उन्होंने परिवार की सुरक्षा के लिए दो कुत्तों को पाला था, जिनका नाम कोको और शेरू था. कोको और शेरू ने मालिक की सच्ची सेवा करते हुए सांप के हमले से अपने मालिक को बचाया. इस दौरान दोनों ने अपनी जान गंवा दी. बताया जा रहा है कि घर के बाहर रखवाली कर रहे जर्मन शेफर्ड प्रजाति के कुत्ते शेरू और कोको ने रविवार देर रात घर में प्रवेश कर रहे सांप को गेट पर ही रोक लिया. इस दौरान दोनों कुत्तों की सांप से काफी देर तक भिड़ंत चली. जहरीले सांप को शेरू और कोको ने घर के अंदर नहीं घुसने दिया.

करीब घंटे तक चली लड़ाई में उन्होंने सर्प को दो हिस्से में कर दिया, लेकिन सांप के जहर का असर कुछ देर के बाद दोनों वफादार कुत्तों पर भी हुआ और दोनों ने दम तोड़ दिया. मालिक ने दोनों कुत्तों के शवों को सम्मान के साथ दफना दिया, लेकिन इस घटना के बाद दोनों कुत्तों की वफादारी की चर्चा पूरे इलाके में हो रही है.

Bhadohi News: शादी के 6 माह बाद सड़क हादसे में सिपाही की मौत, मचा कोहराम

Bhadohi News: शादी के 6 माह बाद सड़क हादसे में सिपाही की मौत (File photo)

एसपी (SP) रामबदन सिंह ने कहा कि आवश्यक कार्रवाही की जा रही है. मृतक सिपाही के विषय में साथी पुलिसकर्मियों ने बताया कि वह अपने कार्यों के प्रति हमेशा सजग रहते थे.

SHARE THIS:

भदोही. यूपी के भदोही (Bhadohi) जिले में उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) के एक सिपाही की सड़क हादसे (Road Accident) में मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक तेज रफ्तार कार ने बाइक सवार सिपाही को टक्कर मार दी. हादसे में सिपाही की मौके पर ही मौत हो गई. मृतक सिपाही झांसी जनपद का रहने वाला था. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. उधर, मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है.

बता दें कि 2019 बैच के सिपाही देवेंद्र यादव भदोही जनपद की औराई कोतवाली में तैनात थे. वह मूलरूप से झांसी जिले के निवासी थे. ड्यूटी के सिलसिले में वह औराई कोतवाली से बुलेट से पुलिस लाइन जा रहे थे. जहां ज्ञानपुर कोतवाली क्षेत्र के सिंहपुर के पास तेज रफ्तार कार ने सिपाही की बुलेट में टक्कर मार दी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए. घायल सिपाही को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई.

UP: योगी सरकार ने आधी रात को किए 14 IPS अफसरों के तबादले, गोरखपुर समेत कई जिलों के पुलिस कप्तान बदले

घटना के बाद कार चालक मौके से फरार हो गया है. जिसकी तलाश पुलिस कर रही है. बताया जाता है कि मृतक पुलिसकर्मी की शादी 6 महीने पूर्व हुई थी. जैसे ही यह खबर पुलिस के उच्चाधिकारियों को मिली तो पुलिस अधीक्षक समेत अन्य अधिकारी जिला अस्पताल पहुंचे. एसपी रामबदन सिंह ने कहा कि आवश्यक कार्रवाही की जा रही है. मृतक सिपाही के विषय में साथी पुलिसकर्मियों ने बताया कि वह अपने कार्यों के प्रति हमेशा सजग रहते थे और पूरी निष्ठा और ईमानदारी से जो कार्य उनको दिए जाते थे वह उनको पूरा करते थे.

Bhadohi News: बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को लगा झटका, जमानत अर्जी खारिज

Bhadohi News: बाहुबली विधायक विजय मिश्रा को लगा झटका (File photo)

विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) के अधिवक्ता ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि 4 मुकदमों में से अभी तक 2 मुकदमों में विधायक को जमानत मिल चुकी है.

SHARE THIS:

भदोही. उत्‍तर प्रदेश के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) को कोर्ट ने जालसाजी के एक मामले में उनकी जमानत अर्जी खारिज कर दी है, जबकि साजिश और धमकी के दूसरे प्रकरण में विधायक को सशर्त जमानत दी गई है. ज्ञानपुर विधानसभा सीट से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा जो वर्तमान में आगरा जेल में बंद है.

बता दें कि बाहुबली विधायक विजय मिश्रा अपने एक रिश्तेदार की फर्म और मकान पर कब्जे के मामले में आगरा जेल में बंद हैं. रिश्तेदार के द्वारा जब यह मुकदमा दर्ज कराया गया था तो उसके बाद तीन अन्य मुकदमे भी विधायक विजय मिश्रा पर दर्ज किए गए थे. जिसमें एक मुकदमा गैंगरेप, दूसरा ग्राम प्रधान के लेटर पैड के दुरुपयोग तीसरा सरकारी जमीन पर कब्जा और चौथा मुकदमा साजिश व धमकी देने के मामले में 120 बी में नामित किया गया था. दरअसल मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में 2 मामलों में विधायक विजय मिश्रा के अधिवक्ता ने जमानत प्रार्थना पत्र दिया था. जिसमें जालसाजी के मामले में कोर्ट ने जमानत अर्जी को खारिज कर दिया, जबकि साजिश और धमकी के दूसरे प्रकरण में सशर्त जमानत दी है.

UP Weather Update: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में अगले 2 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट

विधायक विजय मिश्रा के अधिवक्ता ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि 4 मुकदमों में से अभी तक 2 मुकदमों में विधायक को जमानत मिल चुकी है. उन्होंने बताया कि विधायक पर जो मुकदमे दर्ज किए गए थे. उनमें गैंगरेप और ग्राम प्रधान के लेटर पैड के दुरुपयोग के मामले में जमानत नहीं मिल सकी है. उन्होंने कहा कि अभी तक ऊंज थाने में दर्ज जमीन पर कब्जे से जुड़े मामले में जमानत मिली है और गोपीगंज थाने में 120 बी के तहत उनको नामित किया गया था, धमकाने के प्रकरण में उसमें कोर्ट ने जमानत दे दी है.

UP News: मनरेगा में काम करने वाली महिला मजदूर निर्विरोध चुनी गई ब्लॉक प्रमुख, BJP ने बनाया था प्रत्याशी

मनरेगा में काम करने वाली अनीता निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख चुनी गई हैं.

Bhadohi News: भारतीय जनता पार्टी में एक बहुत छोटी सी कार्यकर्ता अनीता को बीते दिनों पार्टी ने सुरियावा ब्लॉक से अपना प्रत्याशी घोषित किया और वह सुरियावां ब्लॉक से निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख निर्वाचित की गई.

SHARE THIS:
भदोही. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के भदोही (Bhadohi) जनपद के सुरियावां ब्लॉक से ब्लॉक प्रमुख (Block Head) पद की जिम्मेदारी मनरेगा में मजदूरी करने वाली महिला संभालेगी. बीजेपी (BJP) से ब्लॉक प्रमुख पद की प्रत्याशी अनीता गौतम (Anita Gautam) निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख चुनी गई है. उनके पति भी मनरेगा मजदूर हैं. शायद इसलिए ही कहते हैं कि लोकतंत्र की यही सबसे बड़ी खूबसूरती है कि यहां सभी को बराबर अवसर मिलता है. गरीब तबके की अनीता अब गरीबों तक विकास का उजाला लेकर पहुंचेंगी.

भदोही जनपद के सुरियावां ब्लॉक क्षेत्र के चौगुना गांव की रहने वाली अनीता गौतम और उनके पति पेशे से मनरेगा के मजदूर हैं, कड़ी मेहनत कर किसी तरह इनका गुजर-बसर चलता आया है. उन्होंने कभी भी सपने में नहीं सोचा था कि वह कभी ब्लॉक प्रमुख बन सकती हैं. भारतीय जनता पार्टी की एक बहुत छोटी सी कार्यकर्ता अनीता को बीते दिनों पार्टी ने सुरियावा ब्लॉक से अपना प्रत्याशी घोषित किया और वह सुरियावां ब्लॉक से निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख निर्वाचित की गई.

चौमुखी विकास है अनीता का सपना
अनीता का सपना है कि वह अपने क्षेत्र का चौमुखी विकास करें. उनका कहना है कि उन्होंने खुद मजदूरी कर गरीबी का एहसास किया है. गरीबों और जरूरतमंदों का दर्द वह समझती है.



निर्विरोध चुनी गईं अनीता
सुरियावां ब्लॉक प्रमुख के लिए अनुसूचित जाति की महिला पद को लेकर आरक्षण किया गया था. ऐसे में पार्टी ने बहुत छोटी सी कार्यकर्ता अनीता गौतम पर भरोसा जताते हुए उनको टिकट दिया था. लोकतंत्र की यही खूबसूरती है कि अनीता मनरेगा की मजदूर हैं, लेकिन अब उन्हें क्षेत्र पंचायत प्रमुख का ताज मिल गया है. धन, बल एवं बाहुबल के दौर में भी सुरियावां ब्लॉक क्षेत्र से क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने जिस अनीता को जनादेश दिया, वह पहली बार बीडीसी सदस्य निर्वाचित हुई हैं. भदोही से बीजेपी विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी ने कहा कि हमारे महापुरुषों का सपना था कि समाज के सबसे निचले व्यक्ति को भी अवसर मिले. उस सपने को आज भारतीय जनता पार्टी पूरा कर रही है. नरेंद्र मोदी और योगी आदित्य नाथ ‘सबका साथ सबका विकास’ के नारे को साकार कर रहे हैं.

UP: गठबंधन पर अनुप्रिया पटेल बोलीं- 2022 के चुनाव पर अब बीजेपी से होगी बात, इसके बाद लेंगे फैसला

गठबंधन पर अनुप्रिया पटेल बोलीं 2022 के चुनाव पर अब बीजेपी से होगी बात

अनुप्रिया पटेल (Anupriya Patel) ने कहा कि हमारा प्रदेश नेतृत्व और राष्ट्रीय नेतृत्व मिलकर समस्या का हल निकाल लेंगे. उन्होंने कहा कि छह हजार ओबीसी अभ्यर्थियों का नुकसान किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए.

SHARE THIS:
लखनऊ. यूपी में कुछ ही महीनों बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. वहीं, बीजेपी की गठबंधन सहयोगी अपना दल (एस) ने शुक्रवार को सोनेलाल पटेल की जयंती मनाई. अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल (Anupriya Patel) ने कहा कि बीजेपी के साथ मिलकर 3 चुनाव लड़े हैं. जिला पंचायत में भी हम उनका सहयोग कर रहे हैं, हमें 2 सीटें दी गई हैं. उन्होंने कहा कि 2022 के चुनाव को लेकर सीटों पर अभी कोई बात नहीं हुई है. लेकिन हम उन सीटों पर चुनाव लड़ेंगे जहां पर हम जितने की स्थिति में हो और जहां पर चुनाव नहीं लड़ रहे होंगे, वहां पर सहयोगी दल भाजपा को जिताने के लिए प्रयास करेंगे.

इसके अलावा अनुप्रिया पटेल ने पिछले दिनों अमित शाह से मुलाकात को लेकर भी कहा है कि उत्तर प्रदेश के 69000 हज़ार भर्ती समेत UP से जुड़े कई मुद्दों को अमित शाह के सामने रखा है. वहीं 2022 के चुनाव को लेकर अब बात होगी इसके बाद चुनाव में जाएंगे.

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में दो जगह से अपने उम्मीदवार लड़ा रहीं अनुप्रिया ने इन चुनावों में भी जीत का दावा किया. अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल ने यूपी में 69 हजार शिक्षकों की भर्ती पर भी सवाल उठाए और आरोप लगाया कि इस भर्ती में अन्य पिछड़ा वर्ग यानी ओबीसी के अभ्यर्थियों के साथ अन्याय हुआ है. उन्होंने दावा किया कि ये मुद्दा सीएम योगी के साथ ही देश के गृह मंत्री अमित शाह के सामने भी उठाने का दावा किया.

UP: प्रयागराज में चलती ट्रेन से गिरा यात्री, आरपीएफ जवान ने बचाई जान, VIDEO आया सामने

अनुप्रिया पटेल ने कहा कि हमारा प्रदेश नेतृत्व और राष्ट्रीय नेतृत्व मिलकर समस्या का हल निकाल लेंगे. उन्होंने कहा कि छह हजार ओबीसी अभ्यर्थियों का नुकसान किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि पिछड़े और वंचित तबके की हिस्सेदारी शासन-प्रशासन में होती जा रही है, लेकिन अभी गैर-बराबरी की खाई बहुत अधिक है और उसे दूर करने के लिए हमें बहुत संघर्ष करना है।

भदोही: पूर्व ग्राम प्रधान को दिनदहाड़े मारी गोली, 3 गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

भदोही पुलिस ने पूर्व ग्राम प्रधान को गोली मारने के मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है.

Bhadohi News: भदोही के सुरियावा थाना क्षेत्र के बनकट गांव में पूर्व ग्राम प्रधान संजय दुबे को कुछ लोगों ने गोली मार दी थी. संजय दुबे का इलाज इस समय वाराणसी के एक अस्पताल में चल रहा है.

SHARE THIS:
भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही (Bhadohi) में पूर्व ग्राम प्रधान को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस ने अवैध तमंचा के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पता चला है कि घायल पूर्व ग्राम प्रधान के बेटे का गांव के कुछ युवकों से विवाद चल रहा है. इसी को लेकर हुई मारपीट के दौरान पूर्व ग्राम प्रधान को गोली मारी गई थी. घायल पूर्व ग्राम प्रधान का इस समय वाराणसी के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है. क्राइम ब्रांच व सुरियावां थाना पुलिस की संयुक्त टीम ने ये गिरफ्तारी की है.

सुरियावा थाना क्षेत्र के बनकट गांव में पूर्व ग्राम प्रधान संजय दुबे के बेटे का गांव के कुछ लोगों से पुरानी रंजिश थी. बीते सोमवार को दोनो पक्षों में मारपीट हो गई थी. इसी दौरान संजय दुबे पर 315 बोर के तमंचे से फायर कर दिया गया. गोली लगने की वजह से पूर्व ग्राम प्रधान संजय दुबे घायल हो गया, जिसको इलाज के लिए वाराणसी के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक ने क्राइम ब्रांच समेत थाना पुलिस की टीम बनाई थी.



इस प्रकरण में पुलिस ने राहुल पांडे, अंकित दुबे और संदीप दुबे नाम के तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि राहुल पांडे द्वारा अवैध तमंचे से पूर्व ग्राम प्रधान पर फायर किया गया था. भदोही के डिप्टी एसपी प्रयांक जैन ने जानकारी दी है कि पूर्व ग्राम प्रधान संजय दुबे जो इस घटना में घायल हुआ है, वह हिस्ट्रीशीटर भी है. इन लोगों में काफी समय से विवाद चल रहा था. इसी बीच दोनों पक्षों में मामूली कहासुनी हुई और मारपीट के दौरान गोली चली थी. घटना में शामिल तीनों आरोपियों को एक अवैध तमंचा के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है.

भदोही में 4 साल की मासूम बच्ची से रेप, पुलिस की गंभीर लापरवाही आई सामने, आरोपी गिरफ्तार

UP: भदोही में एक 4 साल की मासूम बालिका के साथ रेप किया गया है. आरोपी गिरफ्तार हो गया है. (सांकेतिक तस्वीर) (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bhadohi News: भदोही के सुरियावा थाना इलाके में 4 साल की मासूम बच्ची के साथ युवक ने रेप किया. देर रात पुलिस को सूचना मिल गई, मौका मुआयना भी किया. लेकिन बच्ची का इलाज ही नहीं कराया. सुबह बच्ची की हालत खराब होने पर परिवार अस्पताल लेकर पहुंचा.

SHARE THIS:
भदोही. उत्तर प्रदेश के भदोही (Bhadohi) में एक 4 साल की मासूम बालिका के साथ रेप (Minor Girl Rape) किया गया है. इस पूरे प्रकरण में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है. सूचना के बाद भी पीड़िता को सही समय से इलाज नहीं मिला. देर रात की घटना थी और सुबह जब पीड़िता की तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो हाथ रिक्शे से पीड़िता के परिजन उसको अस्पताल लेकर गए. जबकि देर रात ही पुलिस को मामले की सूचना मिल चुकी थी. बाद में पुलिस ने मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

घटना सुरियावा थाना इलाके की है. बताया जाता है कि एक 4 साल की मासूम बच्ची को उसके गांव का ही रहने वाला एक 30 वर्षीय युवक जबरन उठा ले गया और मासूम के साथ रेप किया गया है. मासूम के प्राइवेट पार्ट और होठ पर चोट के निशान हैं. बताया जाता है कि करीब 2:30 बजे पुलिस को सूचना मिली थी. उसके बाद पुलिस मौके पर भी गई थी लेकिन जानकारी के बाद भी पीड़िता को समय पर इलाज मुहैया नहीं कराया गया. बहुत ही गरीब परिवार से यह बालिका है.



सुबह जब पीड़िता की तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो परिजन हाथ रिक्शे से लेकर पीड़िता को सुरियावा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक लेकर पहुंचे. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़िता को निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. उन्होंने पुलिस की लापरवाही को लेकर मामले में जांच की बात कही है.

आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

मासूम से रेप के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. चार साल की मासूम बच्ची की हालत गंभीर है. पीड़िता का इलाज कर रहे डॉक्टर एके गुप्ता के मुताबिक पीड़िता के प्राइवेट पार्ट और होठ पर चोट के निशान हैं. पीड़िता को ब्लीडिंग हुई है. उन्होंने कहा कि पीड़िता अभी खतरे से बाहर है. पीड़िता को चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है. एक छोटा ऑपरेशन भी पीड़िता का किया जाना है.

यूपी में निषाद पार्टी ने रखी मांग- BJP 2022 के लिए डॉ संजय को घोषित करे डिप्टी सीएम

यूपी में निषाद पार्टी ने रखी मांग- BJP 2022 के लिए डॉ संजय को घोषित करे डिप्टी सीएम

इससे पहले संजय निषाद (Sanjay Nishad) ने कहा कि, हमको अगर बीजेपी (BJP) खुश रखेगी तो उनको 2022 में खुशी मिलेगी अन्यथा हमको दुखी करके बीजेपी खुश नहीं हो सकती.

SHARE THIS:
भदोही. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 की शुरुआत में होने है, लेकिन सियासी तपिश अभी से महसूस की जा सकती है. जैसे जैसे चुनाव का वक़्त करीब आ रहे हैं, वैसे वैसे सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी रणनीति बना रहे हैं. इसी कड़ी में मंगलवार को निषाद पार्टी (Nishad Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद (Sanjay Nishad) भदोही पहुंचे. जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की है. इस मौके पर उन्होंने कहा कि 160 सीटों पर हम मजबूत स्थिति में हैं, उन्होंने कहा कि भाजपा को 2022 के लिए उपमुख्यमंत्री के लिए डॉक्टर संजय निषाद की घोषणा करनी चाहिए.

बीते दिनों निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद दिल्ली में बीजेपी के कई नेताओं से मिले थे. उसके बाद से ही लगातार वह विभिन्न जनपदों में पहुंचकर पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे हैं और 2022 के चुनाव की तैयारियों में जुटे हुए हैं. भदोही में उन्होंने बयान दिया है कि 2022 के चुनाव को लेकर पार्टी बूथ स्तर पर तैयारी कर रही है. उन्होंने कहा कि 160 सीटों पर हम मजबूत हैं यहां बड़ी संख्या में निषादों के वोट हैं. सरकार से उन्होंने निषादों के आरक्षण संबंधी जो मांगे हैं उनको पूरा करने की मांग की है. संजय निषाद ने कहा कि भाजपा निषादों को जितना खुश रखेगी उतनी ज्यादा सीटें जीतेगी.



बीजेपी हमे खुश रखेगी तो 2022 में उन्हें मिलेगी खुशी
इससे पहले संजय निषाद ने कहा कि, हमको अगर बीजेपी खुश रखेगी तो उनको 2022 में खुशी मिलेगी अन्यथा हमको दुखी करके बीजेपी खुश नहीं हो सकती. संजय निषाद ने बताया, उत्तर प्रदेश में हमारी पार्टी द्वारा कार्यक्रम शुरू किए जाएंगे. हम अब दौरे शुरू करेंगे और कार्यक्रम करेंगे. हमारे कार्यक्रम पहले से तय थे लेकिन बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने हमको दिल्ली मिलने के लिए बुलाया था जिस वजह से कार्यक्रम को आगे बढ़ाना पड़ा.

VIDEO: लाल जोड़े में दुल्हन बनकर प्रेमिका से मिलने पहुंचा प्रेमी, आवाज भी बदली; लेकिन...

पकड़े जाने के बाद भी युवक महिलाओं की आवाज निकालकर लोगों को भ्रमित करने का असफल प्रयास करता रहा.

Bhadohi Viral Video: युवक का वीडियो सुबह से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में युवक से लोग उसको घूंघट हटाने और पहचान बताने के लिए कह रहे हैं. हालांकि वहां पर मौजूद लोगों ने उसका घूंघट जबर्दस्ती हटा दिया. युवक लोगों से बार-बार कहता रहा कि उसे जाने दिया जाए.

SHARE THIS:
भदोही. भदोही जनपद में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जहां एक युवक महिला के भेष में एक घर में घुस गया. युवक के द्वारा महिलाओं की तरह पूरे श्रंगार किए गए थे. उसने लहंगा पहनकर नकली बाल लगाए थे. घर में मौजूद महिलाओं के बीच बैठे युवक पर जब घरवालों को शक हुआ तब उसको पकड़ा
गया. हालांकि पुलिस को सूचना देने के पहले ही वह लोगों को चकमा देकर बाइक सवारों के साथ भाग गया. पूरा मामला यह है कि गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के कस्बे का है जहां एक घर में कुछ दिन पहले विवाह समारोह संपन्न हुआ. उस घर में कई महिलाएं मौजूद थीं. उन्हीं महिलाओं के बीच में जाकर यह युवक भेष बदलकर बैठ गया. जब घर के लोगों को महिला पहचान में नहीं आई तब लोगों को शक हुआ.

किसी ने पीछे से उसके सिर पर हाथ रखा तो उसके नकली बाल निकल के बाहर आ गए. इस्के बाद करीब आधा घंटा तक हंगामा होता रहा. पकड़े जाने के बाद भी युवक महिलाओं की आवाज निकालकर लोगों को भ्रमित करने का असफल प्रयास करता रहा. स्थानीय लोग पुलिस को सूचना देने ही वाले थे कि तभी बाइक से दो युवक पहुंचे और दौड़कर बाइक पर बैठकर मौके से भाग गया. युवक का इस तरह से महिला के भेष में घर में घुसना पूरे शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है. हालांकि अभी तक यह नहीं पता चल सका है कि युवक का ऐसे भेष बदलकर आने का क्या मकसद था.







सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
युवक का वीडियो सुबह से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में युवक से लोग उसको घूंघट हटाने और पहचान बताने के लिए कह रहे हैं. हालांकि वहां पर मौजूद लोगों ने उसका घूंघट जबर्दस्ती हटा दिया. युवक लोगों से बार-बार कहता रहा कि उसे जाने दिया जाए.

भदोही: कोरोना काल में ऑक्सीजन सिलेंडर की ब्लैक मार्केटिंग करने वाले दो युवक गिरफ्तार

कोरोना काल में ऑक्सीजन सिलेंडर की ब्लैक मार्केटिंग करने वाले दो युवक गिरफ्तार

इससे पहले शनिवार को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अपने निर्देश में कहा है कि सभी जिलाधिकारी (DM) यह सुनिश्चित करें कि मरीज और उसके परिजनों का किसी भी प्रकार उत्पीड़न न हो.

SHARE THIS:
(रिपोर्ट- दिनेश पटेल) भदोही. यूपी के भदोही (Bhadohi) में ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) की कालाबाजारी हो रही है. भदोही जनपद की क्राइम ब्रांच और शहर कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने ऐसे ही ऑक्सीजन की कालाबाजारी करते 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. सबसे खास बात यह है कि L-2 हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की सप्लाई करने वाला एक व्यक्ति भी इसमें गिरफ्तार हुआ है. भदोही जिले के शहर कोतवाली इलाके में क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने बंद पड़े वर्कशाॅप में छापा मारकर 9 ऑक्सीजन सिलेंडर बरामद किये है. इस सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस उपाधीक्षक प्रयांक ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि भदोही शहर के फत्तूपुर सालिमपुर में अनन्या नाम से बंद पड़े एक वर्कशाॅप में ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी की जा रही थी.

मुखबिर से सूचना मिलने पर भदोही क्राइम ब्रांच व शहर कोतवाली पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी की जहां 9 सिलेंडर बरामद हुआ है. जिसमें 6 सिलेंडर खाली तथा 3 सिलेंडर में ऑक्सीजन भरा हुआ था. वहीं आरोपियों के पास से पुलिस टीम ने 10,920 रूपया बरामद किया है. उन्होंने बताया कि कालाबाजारी करने वाले सुग्रीव कुमार मोदनवाल व श्याम गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है. इनके ऊपर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने 269, 270, 420, 120 बी व धारा 3 महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है.

कोविड प्रोटोकॉल को भूलकर UP में शुरू हुई 'कोरोना माई' की पूजा, कुशीनगर और वाराणसी में सामने आई तस्वीर

इससे पहले शनिवार को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने निर्देश में कहा है कि सभी जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करें कि मरीज और उसके परिजनों का किसी भी प्रकार उत्पीड़न न हो. संक्रमण से मुक्त हो चुके मरीजों को भी यदि चिकित्सकीय निगरानी को जरूरत है तो, उनकी मेडिकल कंडीशन के आधार पर एल-1 हॉस्पिटल में ऑक्सीजन युक्त बेड पर भर्ती करा कर सरकार के व्यय पर कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं.

शादी समारोह में वेटर बनकर लाखों के जेवरात ले उड़े बदमाश, जहरखुरानी की शिकार हुई महिलाएं

 शादी समारोह के दौरान जहरखुरानी की शिकार हुई महिलाएं

UP Crime News: यूपी के भदोही में एक शादी समारोह के दौरान महिलाओं को चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर खिलाया. बेहोश होने के बाद लाखों के जेवरात लेकर चंपत हो गए बदमाश. कई महिलाएं और बच्चे अस्पताल में भर्ती.

SHARE THIS:
भदोही. यूपी के भदोही जिले में एक वैवाहिक कार्यक्रम (Marriage Function) के दौरान शुक्रवार देर रात 7 महिलाएं और 2 बच्चे जहरखुरानी का शिकार हो गए. महिलाएं जिन्होंने सोने के जेवरात पहन रखी थी, उसको लेकर बदमाश फरार हो गए हैं. बेहोशी की हालत में सभी महिलाओं और बच्चों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है. मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया.

जानकारी के मुताबिक, गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के उत्सव मैरिज लॉन में तिवारीपुर बैदा गांव निवासी राजेन्द्र मिश्रा की भतीजी की शादी थी. उसमें शामिल होने के लिए घर की महिलाएं और कुछ रिश्तेदार पहुंचे हुए थे. देर रात जब शादी समारोह संपन्न हो रहा था उसी दौरान आशंका जताई जा रही है कि मैरिज लॉन के कमरे में बैठी महिलाओं को किसी ने चाय में कुछ नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया जिससे महिलाएं बेहोश हो गई. उसके बाद जेवरात लेकर बदमाश फरार हो गए हैं.

UP: राम जन्मभूमि विवाद पर फैसला सुनाने वाले HC के पूर्व जस्टिस डीवी शर्मा का निधन, CM योगी ने जताया शोक

सुबह विदाई के बाद जब महिलाओं को उठाया गया तो वह उठी नहीं तब परिजनों को घटना की जानकारी हुई. महिलाओ के परिजनों के मुताबिक अभी तक तीन सोने की चैन गायब है. परिजनों ने कहा कि जब महिलाएं होश में आएंगे तब और पता लगेगा कि और कौन-कौन से जेवरात गायब हुए हैं. लेकिन अभी तक 4 लाख रुपया के करीब के जेवरात गयाब होने का आरोप परिजनों ने लगाया है.

मामले में क्राइम ब्रांच समेत गोपीगंज कोतवाली पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है. मैरिज लॉन में लगे सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है. साथ ही कैटरिंग में लगे कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है. पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. एसपी ने बताया घटना सामने आने के बाद कई लोगों से हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

UP Chunav 2021: भदोही जिला पंचायत के 26 वार्डों में BJP को सिर्फ चार वार्डों में मिली जीत

भदोही में निर्वाचन अधिकारी के हाथ से प्रमाण-पत्र प्राप्त करता जिला पंचायत सदस्य.

भदोही (Bhadohi) जिला पंचायत चुनावों में बीजेपी (BJP) का जादू नहीं चल सका है. जिला पंचायत की 26 सीटों में केवल चार सीट ही बीजेपी को मिली है. सपा (SP) का इस चुनाव में दबदबा देखने को मिला है.

SHARE THIS:
भदोही. भदोही जिला पंचायत चुनावों में बीजेपी (BJP) का जादू नहीं चला. यहां के 26 वार्डों में भाजपा को मिली सिर्फ चार सीटों पर ही जीत, मिली है. जिला पंचायत चुनाव के आंकड़े बताते हैं कि जिले में भाजपा का आधार खिसकता जा रहा है. वहीं जिला पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Parti) समर्थित प्रत्याशियों का दबदबा देखने को मिला.

भाजपा ने जिन्हें नहीं दिया टिकट उन्होंने ने जीता चुनाव

भदोही जनपद में जिला पंचायत के 26 वार्डों पर काफी देर से परिणामों की घोषणा की गई जो परिणाम सामने आए उसमें भारतीय जनता पार्टी के चार प्रत्याशी, सपा समर्थित 10 प्रत्याशी, बसपा के तीन, निषाद पार्टी समर्थित एक और निर्दल 8 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है. इन सभी को प्रमाण-पत्र अपर जिला अधिकारी के द्वारा दिया गया है. वहीं आपको बता दें कि आठ निर्दल प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है इनमें ऐसे भी कई प्रत्यासी हैं जो भारतीय जनता पार्टी से टिकट मांग रहे थे, लेकिन पार्टी ने उनको टिकट नहीं दिया. उन्होंने पार्टी से बगावत कर चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की.



ज‍िला पंचायत सदस्‍य बनते ही BSP प्रत्‍याशी का कबूलनामा, 10 पर्सेंट कमीशन पर बेचता हूं काम

भदोही के भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी के भतीजे और भाई अनुरुद्ध त्रिपाठी और चंद्र भूषण त्रिपाठी, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद पाल और अंजनी शुक्ला उनमे शामिल है जिन्हें भाजपा ने टिकट नहीं दिया और उन्होंने जीत हासिल की. परिणामों की घोषणा के बाद अब जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर काबिज होने के लिए जोर आजमाइश का दौर जारी हो गया है. देखना है कि आने वाले दिनों में भदोही जनपद की जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर कौन काबिल होता है.

भदोही: बीजेपी नेता की कोरोना से मौत, विधायक ने इलाज में लापरवाही को लेकर सीएम को लिखा पत्र

बीजेपी नेता की मौत पर विधायक ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

Bhadohi Corona News: बीजेपी विधायक ने अस्पताल में तैनात डॉक्टर आशुतोष पर आरोप लगाया है कि उन्होंने ठीक तरीके से व्यवहार भी नहीं किया और गलत तरीके से बातें कीं.

SHARE THIS:
भदोही. उत्‍तर प्रदेश के भदोही जनपद में बीजेपी (BJP) के जिला महामंत्री लाल बहादुर मौर्या का निधन हो गया है. वह कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) थे. परिजनों ने बीजेपी विधायक दीनानाथ भास्कर (MLA Deenanath Bhaskar) से शिकायत की है कि अस्पताल में कई बार कहने के बाद भी मरीज को न तो आईसीयू में ले गए और न रेमडेसिविर इंजेक्शन दिया गया. मामले को गंभीरता से लेते हुए विधायक दीनानाथ भास्कर ने मुख्यमंत्री को मामले की जांच कराने को लेकर पत्र भेजा है. उन्होंने सीएम से अनुरोध किया है कि मामले की जांच कराई जाए.

विधायक दीनानाथ भास्कर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जो पत्र भेजा है, उसके मुताबिक उन्होंने कहा है कि बीजेपी के जिला महामंत्री लाल बहादुर मौर्या को 22 अप्रैल को महाराजा बलवंत सिंह L2 चिकित्सालय भदोही में भर्ती कराया गया था. 27 अप्रैल को उनकी मृत्यु हो गई. मौत के बाद वह मृतक के परिजनों के घर गए तो उनके बच्चों ने बताया कि जब उनके पिता की तबीयत अधिक बिगड़ने लगी तो उन्होंने कई बार आईसीयू में ले जाने और इंजेक्शन की मांग की, लेकिन वहां पर मौजूद डॉक्टर ने उनकी एक भी नहीं सुनी. साथ ही उन्होंने वहां पर तैनात डॉक्टर आशुतोष पर आरोप लगाया है कि उन्होंने ठीक तरीके से व्यवहार भी नहीं किया और गलत तरीके से बातें की हैं.

CMO ने कही जांच की बात
इस प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए भदोही जनपद की औराई विधानसभा से भाजपा के विधायक दीनानाथ भास्कर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजा है और इसके माध्यम से मांग की है कि जिला महामंत्री के इलाज की फाइल के अनुसार तथा उनके परिजनों के बयान के आधार पर मामले की जांच कराई जाए. इस प्रकरण में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर लक्ष्मी सिंह ने मामले में जांच की बात कही है.

भदोही: कोरोना मरीजों के लिए देवदूत बना यह हॉस्पिटल, फ्री में मुहैया करा रहा ऑक्सीजन सिलेंडर

भदोही में एक हॉस्पिटल फ्री रिफिल कर रहा ऑक्सीजन सिलिंडर

Bhadohi Oxygen Crisis: भदोही जनपद में ऑक्सीजन की भारी किल्लत है. ऐसे में भदोही शहर के न्यू श्रद्धा हॉस्पिटल के द्वारा लोगों को आक्सीजन उपलब्ध कराई जा रही है. अस्पतालों के अलावा आम लोगों को ऑक्सीजन दी जा रही है, वह भी पूरी तरह निशुल्क.

SHARE THIS:
भदोही. कोविड के बढ़ते संक्रमण (Corona Infection) के बीच मरीजों के लिए ऑक्सीजन (Medical Oxygen) सबसे महत्वपूर्ण हैं और इन दिनों ऑक्सीजन की भारी कमी से लोगों को जूझना पड़ रहा है. लेकिन इस बीच ऐसे भी कुछ लोग हैं जो ऑक्सीजन मुहैया कराकर गंभीर मरीजों की मदद कर रहे हैं. भदोही (Bhadohi) जनपद में एक हॉस्पिटल के संचालकों के द्वारा बड़ी संख्या में लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर रिफिल करवा कर निशुल्क दिए जा रहे हैं. जिससे कोविड के जो मरीज है उनको बड़ा लाभ मिल रहा है.

सभी क्षेत्रों से ऑक्सीजन की कमी की सूचना आ रही है. साथ ही तमाम लोग ऐसे हैं जो आपदा को अवसर बनाकर ऑक्सीजन ब्लैक तक कर रहे हैं. इस दौरान कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस मौके पर लोगों की मदद के लिए सामने आए हैं. भदोही जनपद में ऑक्सीजन की भारी किल्लत है. ऐसे में भदोही शहर के न्यू श्रद्धा हॉस्पिटल के द्वारा लोगों को आक्सीजन उपलब्ध कराई जा रही है. अस्पतालों के अलावा आम लोगों को ऑक्सीजन दी जा रही है, वह भी पूरी तरह निशुल्क.

अस्पतालों को ऑक्सीजन के लिए फ्री में इलाज की शर्त
अस्पतालों को दी जाने वाली ऑक्सीजन की सबसे खास बात यह है कि कोई भी अस्पताल निशुल्क प्राप्त की हुई ऑक्सीजन के बदले किसी मरीज से पैसे नहीं ले सकता यह शर्त रखी जा रही है. श्रद्धा हॉस्पिटल के चिकित्सक डॉक्टर महफूज आलम ने कहा कि लोगों की समस्याओं को देखते हुए यह कदम उठाया गया है, इसमें कई लोगों के द्वारा उनका सहयोग किया गया है.

बड़ी संख्या में सिलेंडर लेकर पहुंच रहे मरीजों के परिजन
आपको बता दें कि भदोही जिले में ऑक्सीजन के लिए लोगों को खासा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. कई कोरोना पॉजिटिव मरीज है जिनको ऑक्सीजन की जरूरत है. लोगों की परेशानियों को देखते हुए न्यू श्रद्धा हॉस्पिटल के संचालकों के द्वारा यह निर्णय लिया गया कि लोगों से खाली ऑक्सीजन सिलेंडर लिए जाएंगे और उनको रिफिल करा कर निशुल्क ऑक्सीजन दिया जाएगा. आज भारी मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर तरीफिल करके लोगों को दिए गए साथ ही कई अस्पताल के लोग भी इस मौके पर भरे सिलेंडर लेने पहुंचे लोगों का कहना है कि इस तरह की पहल से बड़ा लाभ कोविड के मरीजों को मिल रहा है. भरा ऑक्सीजन सिलेंडर लेने आये मरीज के परिजन अजय ने बताया कि कहीं ऑक्सीजन नहीं मिल रही थी. उसके बाद यहां का पता चला और आज ऑक्सीजन मिल गई है.
Load More News

More from Other District

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज