लाइव टीवी

अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले यशस्वी ने मां को फोन कर कही थी ये बात?

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 5, 2020, 12:03 PM IST
अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले यशस्वी ने मां को फोन कर कही थी ये बात?
यशस्वी जायसवाल मौजूदा वर्ल्ड कप में तीन अर्धशतक और एक शतक लगा चुके हैं. (फाइल फोटो)

यशस्वी (Yashasvi Jaiswal) की मां कंचन जायसवाल ने बताया कि पाकिस्तान (Pakistan) से मैच से पहले यशस्वी ने उन्हें फोन किया था. इस दौरान वो बस यही बार-बार कह रहा था कि मुझे इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करना ही है. मां, मुझे वर्ल्ड कप जीतना है

  • Share this:
भदोही. मंगलवार को खेले गए अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप (U-19 Cricket World Cup) के सेमीफाइनल में भारत (Team India) ने पाकिस्तान (Pakistan) पर धमाकेदार जीत दर्ज की. इस मैच में उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के भदोही (Bhadohi) जनपद के रहने वाले यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) ने पाकिस्तान के खिलाफ नाबाद शतक जड़ा. यशस्वी की नॉट आउट सेंचुरी के बाद भदोही में उनके घर पर जश्न का माहौल है. उनके परिजन यशस्वी के इस अच्छे प्रदर्शन को लेकर बेहद खुश हैं.

दरअसल यशस्वी जायसवाल भदोही जनपद के सुरियावा कस्बे के रहने वाले हैं. पाकिस्तान के खिलाफ यशस्वी ने सेमीफाइनल मैच में बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हुए अपना शतक पूरा किया और टीम को जीत दिलाई. भदोही स्थित यशस्वी के घर में उनकी इस शानदार पारी के बाद खुशी का माहौल है. उनके परिजनों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया. यशस्वी के पिता और उनकी मां का कहना है कि यशस्वी के शानदार प्रदर्शन से वे बेहद खुश हैं. वो चाहते हैं कि भारतीय टीम अंडर-19 वर्ल्ड कप जीते.

'बेटा फाइनल जीत कर आना'
बता दें कि यशस्वी लंबे संघर्ष के बाद इस मुकाम पर पहुंचे हैं. एक समय था, जब यशस्वी मुंबई में गोलगप्पे बेचकर अपना खर्च निकालते थे. आज जिस तरह से यशस्वी अंडर-19 टीम में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, उससे उनके परिजन बेहद खुश हैं. यशस्वी के पिता भूपेंद्र जायसवाल ने कहा कि यशस्वी के प्रदर्शन से वो बहुत खुश हैं. उन्होंने कहा है कि बेटा फाइनल जीत कर आना, विश्व कप लेकर घर आना. उन्होंने कहा कि मेरा बेटा दबाव में बहुत अच्छी तरह खेलता है. मुकाबला पाकिस्तान से हो या किसी अन्य टीम से, वो अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देता है. वो चाहते हैं कि सेमीफाइनल की तरह ही फाइनल में भी यशस्वी शतक जड़े और विश्व कप जीतकर देश और परिवार का नाम रोशन करे.

Bhadohi Yashasvi
अंडर-19 क्रिकेटर यशस्वी जायसवाल के पिता भूपेंद्र और मां कंचन


'बार-बार कह रहा था मां मुझे वर्ल्ड कप जीतना है'
वहीं यशस्वी की मां कंचन जायसवाल कहती हैं कि बेटा अपनी प्रतिभा से देश और हमारा नाम रोशन कर रहा है. हम बस यही चाहते हैं कि वो सीनियर टीम में आए. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान से मैच से पहले यशस्वी ने उन्हें फोन किया था. इस दौरान वो बस यही बार-बार कह रहा था कि मुझे इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करना ही है. मां, मुझे वर्ल्ड कप जीतना है.(इनपुट: दिनेश पटेल)

ये भी पढ़ें:

बलरामपुर: कोरोना वायरस के संदेह में चीन से लौटा एक छात्र अस्पताल में भर्ती

बरेली: 300 करोड़ से ज्यादा रुपये गबन कर चिटफंड कंपनी फरार, FIR

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 10:25 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर