परशुराम मंदिर का बोर्ड लगा कर MLA ने कब्जा की जमीन, प्रशासन ने चलाया बुलडोजर

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा  (File photo)

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (File photo)

ज्ञानपुर से विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) और उनकी पत्नी और बेटे के खिलाफ उनके रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी की एक शिकायत पर संपत्ति हड़पने सहित कई गंभीर आरोपों के तहत चार अगस्त को एक मामला दर्ज किया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 19, 2020, 10:30 AM IST
  • Share this:


भदोही. उत्तर प्रदेश में भदोही जिला प्रशासन ने शुक्रवार को करीब 10 करोड़ रुपये मूल्य की सरकारी भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त कराया. विधायक विजय मिश्रा ने भूमि का कथित तौर पर अतिक्रमण कर रखा था. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘विधायक ने भूमि पर परशुराम मंदिर का बोर्ड लगा कर 10 करोड़ रुपये मूल्य की इस सरकारी परिसंपत्ति का अतिक्रमण कर रखा था. जिला प्रशासन की एक टीम ने बुलडोजरों की मदद से वहां अवैध निर्माण को ध्वस्त किया.’’



भारतीय जनता पार्टी के विधायक रवींद्र नाथ त्रिपाठी ने मिश्रा द्वारा सरकारी भूमि का कथित तौर पर अतिक्रमण किए जाने के बारे में एक शिकायत दर्ज कराई थी. मिश्रा, निशाद पार्टी से विधायक हैं. ज्ञानपुर के तहसीलदार देवेंद्र यादव ने बताया राष्ट्रीय राजमार्ग-2 से लगी इस भूमि का मूल्य 10 करोड़ रुपये से अधिक है. उन्होंने बताया कि प्रशासन ने भूमि हड़पने को लेकर मिश्रा को 5.70 लाख रुपये जुर्माना भरने का नोटिस भेजा है.


ज्ञानपुर से विधायक विजय मिश्रा और उनकी पत्नी और बेटे के खिलाफ उनके रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी की एक शिकायत पर संपत्ति हड़पने सहित कई गंभीर आरोपों के तहत चार अगस्त को एक मामला दर्ज किया गया था. विजय मिश्रा इस समय आगरा जेल में कैद हैं. उन्हें पुलिस ने 14 अगस्त को मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया था. पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि मिश्रा की पत्नी रामलली मिश्रा और बेटा विष्णु मिश्रा फरार हैं. पुलिस ने विष्णु के खिलाफ एक लुकआउट नोटिस जारी किया है, ताकि वह देश छोड़ कर नहीं भाग सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज