लाइव टीवी
Elec-widget

RSS प्रमुख को बनाया जाए मंदिर निर्माण ट्रस्ट का अध्यक्ष: महंत परमहंस

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 25, 2019, 3:04 PM IST
RSS प्रमुख को बनाया जाए मंदिर निर्माण ट्रस्ट का अध्यक्ष: महंत परमहंस
संत परमहंस ने मोहन भागवत को अध्यक्ष बनाए जाने की मांग की है. (फाइल फोटो)

संत परमहंस महाराज (Saint paramhans maharaj) ने संवाददाताओं से कहा कि ऐसी व्यवस्था होनी चाहिये ताकि जो भी व्यक्ति संघ प्रमुख बने, वह स्वत: ही ट्रस्ट का अध्यक्ष बन जाए.

  • Share this:
भदोही. राम जन्म भूमि न्यास के वरिष्ठ पदाधिकारियों पर गम्भीर आरोप लगाने वाले महंत परमहंस महाराज (Mahant Paramhans Maharaj) ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये बनने वाले ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाने की वकालत की है. तपस्वी जी की छावनी के महंत परमहंस महाराज ने सोमवार को कहा कि राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास (Nritya Gopal Das) और पूर्व सांसद राम विलास वेदांती की सोच बहुत छोटी है और इन दोनों ने बहुत बड़ा घोटाला किया है. लिहाजा सरकार संघ प्रमुख मोहन भागवत को मंदिर निर्माण के बनने वाले ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाये.

भदोही के सीतामढ़ी स्थित सीता समाहित स्थल पहुंचे संत परमहंस ने संवाददाताओं से कहा कि यह पदेन व्यवस्था होनी चाहिये ताकि जो भी व्यक्ति संघ प्रमुख बने, वह स्वत: ही ट्रस्ट का अध्यक्ष बन जाए और संघ परिवार को ही मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी भी सौंप दी जाए. उन्होंने आरोप लगाया कि उच्चतम न्यायालय द्वारा मंदिर निर्माण के लिये ट्रस्ट बनाये जाने का सरकार को आदेश के बाद महंत नृत्य गोपाल दास ने पद के लालच में अपने ट्रस्ट के जरिये मंदिर निर्माण की बात की. दूसरी ओर, पूर्व सांसद राम विलास विलास वेदांती ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाने का यह कहते हुए विरोध किया कि नाथ सम्प्रदाय मंदिर निर्माण नहीं कर सकता.

महंत नृत्य गोपाल दास और वेदांती का विरोध किया
महंत रामदास ने कहा कि उन्होंने जब महंत नृत्य गोपाल दास और वेदांती का विरोध किया तो उनके गुंडों ने उन पर हमला किया और अयोध्या छोड़ने के लिये मजबूर कर दिया. गौरतलब है कि राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास के प्रति कथित अपमानजनक टिप्पणी से नाराज उनके भक्तों ने गत 15 नवम्बर को महंत परमहंस के कक्ष पर धावा बोल दिया था. इस घटना के बाद वह अयोध्या से काशी चले गये थे.


(इनपुट- भाषा)

ये भी पढ़ें-
Loading...

अभी भी BJP के साथ रहने के पक्ष में शिवसेना के 15 से 20 विधायक

महाराष्ट्र: विधायकों को दूसरी जगह शिफ्ट करने की तैयारी कर रही है शिवसेना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भदोही से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 3:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com