होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

भगवान राम-सीता के विवाह महोत्सव पर मंडराया कोरोना का खतरा, जनकपुर जाने वाली बारात करनी पड़ी रद्द

भगवान राम-सीता के विवाह महोत्सव पर मंडराया कोरोना का खतरा, जनकपुर जाने वाली बारात करनी पड़ी रद्द

अयोध्या से नेपाल के जनकपुर निकले वाली श्रीराम की बारात का नजारा. (फाइल फोटो)

अयोध्या से नेपाल के जनकपुर निकले वाली श्रीराम की बारात का नजारा. (फाइल फोटो)

अयोध्या (Ayodhya) से एक बड़ी खबर आ रही है. यहां धर्म यात्रा महासंघ और विश्व हिंदू परिषद (Vishwa Hindu Parishad) के बैनर तले अयोध्या से नेपाल (Nepal) के जनकपुर के लिए निकलने वाली श्री राम बरात यात्रा को इस बार कोरोना संक्रमण (Corona infection) के कारण स्थगित करना पड़ा है.

अधिक पढ़ें ...
अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) से एक बड़ी खबर आ रही है. यहां धर्म यात्रा महासंघ और विश्व हिंदू परिषद (Vishwa Hindu Parishad) के बैनर तले अयोध्या से नेपाल (Nepal) के जनकपुर के लिए निकलने वाली श्री राम बारात यात्रा को इस बार कोरोना संक्रमण (Corona infection) के कारण स्थगित करना पड़ा है. राम मंदिर निर्माण के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद लोगों में उत्साह था कि इस साल भगवान राम की बारात धूमधाम से अयोध्या से माता सीता के धाम जनकपुर जाएगी, लेकिन लेकिन कोरोना कॉल को देखते हुए अब इस यात्रा को रद्द कर दिया गया है.



विगत कई वर्षों से धर्म यात्रा महासंघ विश्व हिंदू परिषद के बैनर तले अयोध्या से भगवान राम की बारात यात्रा जनकपुर जाती थी, जिसमें बड़ी संख्या में संत समाज शामिल होता था. ढोल नगाड़ों की धुन पर नाचते गाते बराती अयोध्या से माता सीता की नगरी जाते नेपाल में जनकपुर जाते थे. वहां धूमधाम से विवाह होता था,  लेकिन इस बार कोरोना काल के चलते सारा उत्साह फीका पड़ गया.

UP: धरने पर बैठी BJP विधायक की बहू, बोलीं- न्याय नहीं मिला तो सीएम योगी से करुंगी मुलाकात

विश्व हिंदू परिषद के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद के संरक्षण में अयोध्या से भगवान श्री राम की बरात जनकपुर जाती रही है. 2019 में राम जन्म भूमि पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद राम भक्तों में आस जगी थी. अयोध्या से जनकपुर जाने वाली बारात यात्रा भव्य और दिव्य हो उसकी तैयारी उसी समय से शुरू कर दी गई थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण सारी योजना फैल हो गई.

संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने बताया कि राम विवाह महोत्सव की तैयारी रामलला के पक्ष में फैसला आने के बाद पिछले वर्ष ही शुरू की कर दी गई थी, लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुए इस वर्ष यह यात्रा स्थगित की गई है. संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने राम भक्तों से अपील भी है कि लोग अपने घरों में आनंद पूर्वक राम विवाह महोत्सव मनाये. इस महामारी से बचने का एक ही उपाय है कि लोग अपने घरों में रहें. आवश्यकता अनुसार ही निकले.

आपके शहर से (अयोध्या)

अयोध्या
अयोध्या

Tags: Ayodhya ram mandir, India nepal, Lord rama, Up news in hindi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर