लाइव टीवी

CM योगी ने किया 'गंगा यात्रा' का शुभारंभ, बोले- कानपुर में गंगा साफ हो सकती है तो दिल्ली में यमुना क्यों नहीं?

News18Hindi
Updated: January 27, 2020, 6:30 PM IST
CM योगी ने किया 'गंगा यात्रा' का शुभारंभ, बोले- कानपुर में गंगा साफ हो सकती है तो दिल्ली में यमुना क्यों नहीं?
कानपुर में गंगा साफ हो सकती है तो दिल्ली में यमुना क्यों नहीं?

सीएम योगी ने कहा, गंगा यात्रा के प्रति हम सब अपने दायित्वों का निर्वहन कर सकें. इसी विश्वास के साथ 'गंगा यात्रा' शुभारंभ के इस अवसर पर मैं आप सबका अभिनंदन और स्वागत करता हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 6:30 PM IST
  • Share this:
बिजनौर. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को बिजनौर से गंगा यात्रा (Ganga Yatra) का शुभारंभ किया. पांच दिन तक चलने वाली यह यात्रा दो रूट से निकाली जा रही है. जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि कानपुर में गंगा पूरी तरह से प्रदूषित थी. कानपुर से आगे गंगा नाला बनकर रह गई थी. प्रधानमंत्री के प्रयासों से कानपुर से आगे गंगा निर्मल हो गई है. उन्होंने कहा कि अगर कानपुर में गंगा साफ हो सकती है तो दिल्ली में यमुना क्यों नहीं? इससे पहले बिजनौर में सीएम योगी ने गंगा का आचमन करते हुए इस यात्रा की शुरुआत की. मुख्यमंत्री ने यात्रा को पूजा-अर्चना के बाद हरी झंडी दिखाई. सीएम से पहले संत-महंतों ने गंगा पूजन किया.

हम सब अपने दायित्वों का करें निर्वहन

सीएम योगी ने कहा, "गंगा यात्रा के प्रति हम सब अपने दायित्वों का निर्वहन कर सकें. इसी विश्वास के साथ 'गंगा यात्रा' शुभारंभ के इस अवसर पर मैं आप सबका अभिनंदन और स्वागत करता हूं." उन्होंने कहा कि आप इतनी भीषण शीतलहर में पिछले तीन-चार घंटों से यहां पर हैं, यह माता गंगा के प्रति हमारे दायित्वों को प्रदर्शित करता है. आपका उत्साह और उमंग, मां गंगा के प्रति आपकी कृतज्ञता दिखाता है.

बिजनौर में गंगा का आचमन करते सीएम योगी
बिजनौर में गंगा का आचमन करते सीएम योगी


 शव को गंगा जी में बहा देने से मुक्ति नहीं मिलती

जनसभा को संबोधित करते हुए योगी आगे कहते हैं कि प्रदेश में कांवड़ यात्रा के लिए हम पुष्प-वर्षा करने की व्यवस्था भी करने जा रहे हैं. मुझे प्रसन्नता है कि सभी लोगों ने मिलकर जिस विश्वास के साथ 'गंगा यात्रा' के कार्यक्रम को बढ़ाया है, उसी विश्वास के साथ सभी परम्पराएं आगे बढ़नी चाहिए. उन्होंने कहा कि किसी व्यक्ति या पशु के शव को गंगा जी में बहा देने से मुक्ति नहीं मिलने वाली है, इससे नदी प्रदूषित होती है. कोई गंदा नाला गंगा जी में न गिरे, यह हर नागरिक का दायित्व है. इसलिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में गंगा सुरक्षा समिति का गठन हो. वहीं हर गांव में गंगा मैदान, गंगा तालाब हों और हर नगर निकाय में गंगा पार्क हो ताकि हम सब मां गंगा के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर सकें.

फलदार वृक्ष लगाने पर मिलेगा अनुदानपांच दिनों तक चलने वाली गंगा यात्रा के मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 'गंगा यात्रा' का शुभारंभ इस दृष्टि के साथ किया गया है कि यदि कोई व्यक्ति अपनी खेती योग्य जमीन में फलदार वृक्ष लगाना चाहेगा तो सरकार उसे 3 वर्षों तक हर माह अनुदान देगी और फलों को विश्व के बाजारों में पहुंचाने में भी सहयोग करेगी.

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बलिया में किया शुभारंभ
राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बलिया में किया शुभारंभ


पीएम मोदी-सीएम योगी को बधाई- गवर्नर आनंदीबेन

बलिया में यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने यात्रा का शुभारंभ बलिया में किया. राज्यपाल ने दुग्धाभिषेक के अलावा गंगा आरती भी की. इस दौरान यात्रा के रथ पर सुशील मोदी और सूर्य प्रताप शाही भी सवार हुए. इस मौके पर आनंदीबेन पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार ने नदियों को बचाने का संकल्प लिया है और गंगा यात्रा के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नमामि गंगे व गंगा यात्रा के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बधाई के पात्र हैं.

ये भी पढ़ें:

रामपुर से सपा सांसद आजम खान के खिलाफ जारी हुआ वारंट, जयाप्रदा पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बिजनौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 5:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर