अपना शहर चुनें

States

बिजनौर पुलिस का दावा- 'लव जिहाद' का मामला, किशोरी बोली- बर्थडे पार्टी से लौट रहे थे

बिजनौर के एसपी देहात संजय कुमार
बिजनौर के एसपी देहात संजय कुमार

बिजनौर (Bijnor): धामपुर पुलिस का कहना है कि किशोरी का अपहरण कर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया गया. आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं दूसरी तरफ मामले में किशोरी का कहना है कि वह तो बर्थडे पार्टी से लौट रही थी, पहले चोर समझकर लोगों ने रोक लिया. फिर थाने ले गए. धर्म परिवर्तन जैसी कोई बात नहीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 25, 2020, 11:43 AM IST
  • Share this:
बिजनौर. लव जिहाद (Love Jihad) पर कानून बनने के बाद राज्य सरकार के सरकारी नुमाईंदे ताबड़तोड़ मुकदमे दर्ज करने में लगे हैं. बिजनौर में अब तक लव जिहाद के नाम पर 2 मुकदमे दर्ज हो गए है. इस बीच एक मामले में पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठ रहे हैं. धामपुर पुलिस का कहना है कि किशोरी लड़की  का अपहरण कर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया गया. मामले में आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है. वहीं दूसरी तरफ मामले में किशोरी का कहना है कि वह तो बर्थडे पार्टी से लौट रही थी, पहले चोर समझकर लोगों ने रोक लिया. फिर थाने ले गए. धर्म परिवर्तन जैसी कोई बात नहीं.

ग्राम प्रधान ने बताई और ही कहानी

बिजनौर जनपद के धामपुर के गांव बेरखेड़ा के ग्राम प्रधान मोहम्मद इस्माइल ने बताया कि सोनू उर्फ साकिब पास के ही गांव नसीरपुर में अपने दोस्त के यहां बर्थ डे पार्टी में गया था. बर्थ डे पार्टी में महज़ 16 साल की दलित युवती भी शामिल होने आई थी. ग्राम प्रधान की माने तो बर्थ डे पार्टी में रात दस बजे के करीब युवती को ग्रामीणों ने रास्ते में घेर लिया. कुछ ग्रामीण युवको ने युवती पर दबाव बनाया की कहां से आ रही है? दरअसल गांव में कुछ बैट्री भी चोरी हुए थे. पूछताछ में युवती सोनू उर्फ़ साकिब को जानती थी, उसी दौरान साकिब को बुला लिया गया और फिर मौके से पुलिस को फोन कर दिया गया. पुलिस रात को ही सोनू उर्फ़ साकिब को थाने ले आई और फिर लड़की के पिता की तहरीर पर पुलिस ने लव जिहाद का रूप देकर सोनू के खिलाफ धारा 363 /366 व 18 पॉक्सो एक्ट व 3 (2) व एससी/एसटी एक्ट धारा 3/5 (1) उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश, 2020 के तहत थाना धामपुर में मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज दिया है.



किशोरी बोली- चोर समझकर पकड़ा, धर्म परिवर्तन जैसी बात नहीं
मामले में किशोरी ने कहा कि मैं देर रात बर्थडे पार्टी से लौट रही थी तो कुछ लोगों ने चोर समझकर पकड़ लिया. मुझे और एक लड़का और था, उसे मारा पीटा और थाने ले गए. थाने से मेरे पिता मुझे छुड़ा लाए. क्या तुम्हारे साथ किसी तरह कोई धर्म परिवर्तन की कोशिश की गई? इस पर लड़की ने साफ इंकार किया.

वहीं मामले में किशोरी और मां की माने तो बर्थ डे पार्टी से वह रात को घर आ रही थी. ग्रामीणों ने जबरन चोर समझकर पकड़ लिया. इसके बाद साकिब को पुलिस थाने ले गई. किशोरी की मां की माने तो सोनू उर्फ़ साकिब बाद में आया था धर्म परिवर्तन जैसी बात को मां ने नकारा है.



एसपी देहात बोले- लड़की का हुआ था अपहरण, धर्म परिवर्तन का बनाया दबाव

मामले में एसपी देहात संजय कुमार कहते हैं धामपुर थाना क्षेत्र में कई दिनों से एक किशोरी अपहृत हुई थी, उस मामले में केस दर्ज किया गया है. पता चला है कि सोनू उर्फ़ साकिब ने अपना नाम बदलकर नाबालिग युवती को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया और अपहरण करके ले गया. फिर वह धर्म परिवर्तन का दबाव डाल रहा था. लड़की किसी तरह उसकी चंगुल से बचकर निकल आई. अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है. धर्म परिवर्तन जैसी संगीन धाराओं में केस पंजीकृत कर जेल भेज दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज