Home /News /uttar-pradesh /

Inside Story: बीजेपी नेताओं ने बताया यूपी में क्यों नाराज़ हैं ब्राह्मण, जेपी नड्डा के सामने रखी अपनी मांग

Inside Story: बीजेपी नेताओं ने बताया यूपी में क्यों नाराज़ हैं ब्राह्मण, जेपी नड्डा के सामने रखी अपनी मांग

बीजेपी के प्रमुख ब्राह्मण नेताओं ने सोमवार को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की और 15 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा.

बीजेपी के प्रमुख ब्राह्मण नेताओं ने सोमवार को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की और 15 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा.

Brahmins in UP Chunav: सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान के साथ बैठक में बीजेपी के कई नेताओं ने राज्य सरकार की कार्यशैली से जुड़े कई मुद्दों को लेकर नाराजगी जताई. बैठक में अजय मिश्रा टेनी का मसला भी जोर-शोर से उठाया गया.

अधिक पढ़ें ...

पवन गौड़
नई दिल्ली. बीजेपी उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (UP Chunav) से पहले ब्राह्मणों (Brahmins in UP) की नाराजगी दूर करके उन्हें फिर से अपने साथ करने की लगातार जुटी हुई है. इसी के लिए केंद्रीय मंत्री और यूपी चुनाव के प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान (Dhramendra Pradhan) के घर रविवार को यूपी के सभी ब्राह्मण मंत्रियों की बैठक हुई. उसके बाद आज बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से भी कुछ ब्राह्मण नेताओं ने मुलाकात की और अपनी मांग रखी. रविवार को हुई बैठक में कई नेताओं ने राज्य सरकार और अधिकारियों की कार्यशैली पर नाराजगी भी ज़ाहिर की थी, जिसके बाद बीजेपी नेतृत्व द्वारा उस पर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है.

सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान के साथ बैठक में बीजेपी के कई नेताओं ने राज्य सरकार की कार्यशैली से जुड़े कई मुद्दों को लेकर नाराजगी जताई. बैठक में अजय मिश्रा टेनी का मसला भी जोर-शोर से उठाया गया. इस बैठक में मौजूद यूपी के डिप्टी सीएम ने कहा था कि सिर्फ़ सरकार के कार्यक्रमों को लेकर यहां मौजूद नेता अपना फीडबैक दें, लेकिन चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने सभी से खुलकर फीडबैक मांगा और नाराजगी के सारे मुद्दों पर जानकारी मांगी.

धर्मेंद्र प्रधान के ग्रीन सिग्नल के बाद कई नेताओं ने खुलकर अपनी भड़ास निकाली. अजय मिश्रा टेनी का मसला प्रमुखता से उठाया गया. हिंदू युवा वाहिनी के दखल को लेकर भी काफी ऐतराज जताया गया.

ये भी पढ़ें- पीयूष जैन पर अब ED भी कसेगी शिंकजा, रडार पर दुबई और मुंबई के आलीशान फ्लैट

इसके बाद धर्मेंद्र प्रधान ने चार नेताओं की एक समिति बनाई है, जिसके अध्यक्ष राज्यसभा सांसद और पूर्व वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ला होंगे. सदस्य के तौर पर नोयडा सांसद महेश शर्मा, युवा मोर्चा के पूर्व महामंत्री अभिजात मिश्रा व गुजरात से सांसद राम भाई मुकारिया होंगे.

ये भी पढ़ें- ओमिक्रॉन के बीच चुनावी रैलियों पर वरुण गांधी का तंज- रात में कर्फ्यू और दिन में लाखों की रैली समझ से परे

इस समिति के सदस्यों के साथ कई अन्य ब्राह्मण नेताओ ने आज बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाक़ात की. मुलाक़ात में नेताओं ने अपनी मांगों को बीजेपी अध्यक्ष के सामने रखा. समिति ने नड्डा को लगभग अस्सी ब्राह्मण संगठनों का मांग पत्र दिया. इसके साथ ही मंत्री ब्रजेश पाठक ने 15 सूत्रीय मांग पत्र नड्डा को सौंपा. मांग पत्र में शाहजहांपुर में परशुराम जन्म स्थली को पर्यटन स्थल का दर्जा देने की मांग के साथ-साथ लखनऊ में चौराहे का परशुराम के नाम पर करने की मांग की है.

इसके बाद ही आज इस समिति की पहली बैठक केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के आवास पर बुलाई गई, जिसमें इन सभी मांगो पर चर्चा के साथ-साथ आगे किस तरह से चुनाव में विप्र वर्ग को साधना है उस पर चर्चा हुई.

Tags: BJP, Jp nadda, UP Brahmin Voters, UP chunav, UP Election 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर