Home /News /uttar-pradesh /

bku arajnaitik chief rajesh singh warns farmers protest against yogi government if bjp not fullfil poll promises

BKU (अराजनैतिक) के प्रमुख राजेश सिंह ने दी BJP सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी, राकेश टिकैत पर भी साधा निशाना

राजेश चौहान ने कहा कि यह दूसरा संगठन महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत के सिद्धांतों पर बना है, जो किसानों के हित के लिए लड़ेगा.

राजेश चौहान ने कहा कि यह दूसरा संगठन महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत के सिद्धांतों पर बना है, जो किसानों के हित के लिए लड़ेगा.

भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार को बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है. राजेश चौहान ने कहा कि यह दूसरा संगठन महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत के सिद्धांतों पर बना है, जो किसानों के हित के लिए लड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

फतेहपुर. उत्तर प्रदेश के फतेहपुर पहुंचे भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार को बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है. राजेश चौहान ने कहा कि यह दूसरा संगठन महात्मा महेंद्र सिंह टिकैत के सिद्धांतों पर बना है, जो किसानों के हित के लिए लड़ेगा. बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में जो वादे किए थे, उसके लिए मुख्यंमत्री जी से मिलूंगा. अगर वह अपने घोषणापत्र को जल्द लागू नहीं करते तो देश व प्रदेश में बीजेपी के खिलाफ बहुत बड़ा आंदोलन करूंगा.

राजेश सिंह चौहान ने इसके साथ ही राकेश और नरेश टिकैत पर भी बड़ा प्रहार किया. उन्होंने कहा, ‘महात्मा टिकैत मेरे आदर्श थे, आदर्श हैं और आगे भी रहेंगे, लेकिन उनके पुत्रों ने उनकी विरासत को बेच दिया. विरासत पुत्र को जाती है, राजनीतिक दल व संगठन पुत्र को नहीं जाती है.’

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राकेश और नरेश टिकैत का मेरे ऊपर कोई एहसान नहीं है, जो एहसान है महात्मा टिकैत का है. उन्होंने राकेश टिकैत पर हमला बोलते हुए कहा कि ‘उनको संगठन में काम करने का मात्र 11 साल का अनुभव है, जबकि राजेश सिंह चौहान को संगठन में काम करने का एक्सपीरियंस 33 साल का है. अब 11 साल वाला सीनियर है, या 33 साल वाला सीनियर इसका निर्णय आप लीजिए.’

ये भी पढ़ें- तांत्रिक के इश्क में पड़ गई विवाहिता, दो साथियों के साथ मिलकर कर दी पति की हत्या

वहीं लखनऊ स्थित भारतीय किसान यूनियन कार्यालय पर बकाया बिजली के बिल को लेकर सवाल पर उन्होंने कहा कि मुझे मालूम नहीं था कि कार्यालय मेरे नाम से है. न मेरे नाम की आईडी है, न कोई हस्ताक्षर है. मुझे मीडिया के माध्यम से जानकारी हुई कि कार्यालय मेरे नाम पर है.

Tags: BKU, Farmer Protest, Fatehpur News, Yogi adityanath

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर