बुलंदशहर: दो साधुओं की हत्या का आरोपी गिरफ्तार, न्यायिक हिरासत में भेजा गया

बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

पुलिस (Police) का दावा है कि हिरासत में लिया गया आरोपी मुरारी लंबे समय से भांग के नशे का आदी है. आरोपी पर दो दिन पहले साधुओं का चिमटा चुराने का भी आरोप लगा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2020, 7:42 PM IST
  • Share this:
बुलंदशहर. महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की मॉब लिंचिंग के बाद उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में भी दो साधुओं की हत्या (Murder) कर दी गई. पुलिस (Police) ने मंगलवार को हत्या के आरोपी मुरारी को गिरफ्तार कर लिया है. उसे फिलहाल न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. इस बीच पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया गया हथियार बरामद कर लिया है. सर्कल ऑफिसर कोतवाली अतुल चौबे ने यह जानकारी दी. दरअसल, बुलंदशहर के अनूपशहर इलाके में दो साधुओं की हत्या मंदिर परिसर में सोते वक्त धारदार हथियार से हमला करके कर दी गई थी.



नशे का आदी है आरोपी युवक

मंगलवार को पगोना गांव में घटना के बाद बुलंदशहर एसएसपी समेत पुलिस के तमाम आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और साक्ष्य इकट्‌ठे किए. पुलिस का दावा है कि हिरासत में लिया गया आरोपी मुरारी लंबे समय से भांग के नशे का आदी है. आरोपी पर दो दिन पहले साधुओं का चिमटा चुराने का आरोप लगा था. इसी बात को लेकर साधुओं और आरोपी मुरारी के बीच कहासुनी हुई थी. इस दौरान आरोपी मुरारी ने दोनों साधुओं को अंजाम भुगत लेने की धमकी भी दी थी. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपी अभी नशे की हालत में है. दोनों संतों के शवों का पोस्टमॉर्टम कराया जा चुका है. घटनास्थल की फॉरेंसिक जांच भी कराई गई है.


हत्या को कैसे अंजाम दिया?

आरोपी मुरारी ने बताया कि पहले उसने भांग खाई और फिर मंदिर में आया. वहां उसने सो रहे साधुओं पर लाठी से वार करना शुरू कर दिया. अधिकारी ने कहा कि अभी तक की जांच में चिमटे की चोरी का ही मुद्दा सामने आया है. एसपी ने बताया कि जब राजू को गिरफ्तार किया गया तो वह काफी नशे में था और अर्ध-नग्न था.





महाराष्ट्र में साधुओं की पीटकर हत्या की गई थी

इससे पहले महाराष्ट्र के पालघर में 16-17 अप्रैल की रात दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. ग्रामीणों ने चोर होने के शक में तीनों की पिटाई की थी. मौके पर पुलिसकर्मी भी बेबस नजर आए थे. मामले में 100 से अधिक लोग गिरफ्तार किए गए हैं.



ये भी पढ़ें: बुलंदशहर में साधुओं की हत्या: नाराज अयोध्या के संत बोले- लॉकडाउन के बाद हम खुद करेंगे जांच
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज