बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज की गिरफ्तारी को यूपी पुलिस ने बताया अफवाह

योगेश राज ने एक वीडियो भी शेयर किया था, जिसमें वह खुद को बेकसूर बता रहा है. वहीं दूसरी तरफ शहर में सोशल मीडिया पर योगेश के समर्थन में जमकर भड़काऊ पोस्ट शेयर की जा रही हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 2:40 PM IST
बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज की गिरफ्तारी को यूपी पुलिस ने बताया अफवाह
योगेश राज इस मामले में मुख्य आरोपी है.
News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 2:40 PM IST
बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है. सूत्रों के अनुसार, बुलंदशहर के पास से ही योगेश राज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. हालांकि बुलंदशहर पुलिस ने ट्वीट कर इस खबर को गलत बताया है.

बता दें कि फरारी के दौरान ही योगेश राज ने एक वीडियो भी शेयर किया था, जिसमें वह खुद को बेकसूर बता रहा है. वहीं दूसरी तरफ शहर में सोशल मीडिया पर योगेश के समर्थन में जमकर भड़काऊ पोस्ट शेयर की जा रही हैं.



पुलिस के लिए चुनौतीः बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज ने जारी किया VIDEO
Loading...

बता दें एसएसपी खुद योगेश राज की तलाश में आधा दर्जन टीमों के साथ छापेमारी कर रहे थे. आईजी मेरठ जोन और एडीजी भी जिले में कैंप कर रहे हैं.

योगेश राज से पहले यूपी पुलिस ने अभी तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. बुधवार को योगेश राज का एक वीडियो वॉट्सऐप पर वायरल हुआ. इस वीडियो में योगेश राज खुद को निर्दोष बता रहा है.


इस मुलाकात के दौरान प्रदेश के डीजीपी ओ पी सिंह भी मौजूद थे. मुलाकात के बाद सिंह ने पत्रकारों को बताया कि मुख्यमंत्री ने सरकार की ओर से परिवारजनों को आश्वासन दिया है कि परिवार एक अभिन्न अंग बनकर रहेगा और दिवंगत राठौर के दोनों बच्चों की पढाई में कोई रुकावट नहीं आएगी.

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री पहले ही सरकार की ओर से राठौर के परिवार को 40 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा कर चुके हैं. चूंकि दिवंगत इंस्पेक्टर के माता-पिता जीवित नहीं हैं इसलिए उन्हें मिलने वाली दस लाख रुपये की राशि भी पत्नी और बच्चों को मिलेगी.

सिंह ने बताया कि बच्चों की पढाई के संबंध में तय किया गया है कि इसके लिए बैंक से लिए गए लोन का भुगतान सरकार की ओर से किया जाएगा.

शहीद के बड़े बेटे श्रेय ने बताया कि मुख्यमंत्री की ओर से पूरा आश्वासन मिला है कि न्याय मिलेगा. जो भी आरोपी हैं, उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी. संकट की इस घड़ी में वह हमारे साथ हैं और रहेंगे.

मामले की जांच कहां तक पहुंची, इस सवाल पर डीजीपी ने कहा कि जब जांच पूरी हो जाएगी तो जानकारी दी जाएगी.


रिपोर्ट: ऋषभ मणि त्रिपाठी


ये भी पढ़ें: 


Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->