होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अमेरिका में पढ़ने वाली सुदीक्षा भाटी मौत मामला: दोनों युवक गिरफ्तार, बुलेट भी बरामद

अमेरिका में पढ़ने वाली सुदीक्षा भाटी मौत मामला: दोनों युवक गिरफ्तार, बुलेट भी बरामद

सुदीक्षा भाटी की रोड एक्सीडेंट में हुई थी मौत (फाइल फोटो)

सुदीक्षा भाटी की रोड एक्सीडेंट में हुई थी मौत (फाइल फोटो)

Bulandshahr Sudiksha Bhati Death Case: आरोपियों की गिरफ्तारी और बुलेट मोटरसाइकिल की बरामदगी के लिए एसआईटी ने 10 हजार से ...अधिक पढ़ें

    बुलंदशहर. अमेरिका में पढ़ने वाली होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी (Sudiksha Bhati Death Case) के मौत मामले में बुलंदशहर (Bulandshahr) एसआईटी की टीम ने बुलेट सवार दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही जिस बुलेट से हादसा हुआ था उसे भी बरामद कर लिया गया है. सूत्रों की माने तो पकड़े गए दोनों युवकों ने पुलिस को बताया है कि उन्होंने सुदीक्षा के साथ किसी भी तरह की छेड़खानी नहीं की थी. यह एक्सीडेंट एक ट्रक  के अचानक आमने आ जाने की वजह से ब्रेक लगाने की वजह से हुआ. जिससे सुदीक्षा जिस मोटरसाइकिल पर थी उसकी टक्कर हो गई. इस पूरे मामले को लेकर बुलंदशहर पुलिस रविवार को प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी.

    पुलिस करेगी प्रेस कांफ्रेंस

    मामले में बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा कि जो भी खुलासा होगा, वह प्रेस कॉन्फ्रेंस के वक्त बताया जाएगा. हालांकि इशारे में उन्होंने यह भी कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स में जैसा कुछ दिखाया गया, वैसा नहीं निकला है. गौरतलब है कि ग्रेटर नोएडा के डेरी स्केनर गांव निवासी स्कॉलर छात्रा सुदीक्षा भाटी की 10 अगस्त को बुलंदशहर के औरंगाबाद क्षेत्र में सड़क हादसे में मौत हो गई थी. मामले ने उस वक्त तूल पकड़ लिया था, जब परिजनों की ओर से छेड़छाड़ की वजह से मौत होने जैसी बातें कही.

    " isDesktop="true" id="3205282" >

    10 हजार से ज्यादा बुलेट बाइक को खंगाला

    उधर एसआईटी प्रभारी ने कहा कि पुलिस ने विशेष फोकस बुलंदशहर से स्याना के बीच पड़ने वाले गांवों की बुलेट मोटरसाइकिलों पर रखा. सीओ दीक्षा सिंह ने कहा कि काम मुश्किल था, लेकिन आरोपियों तक पहुंचने के लिए हम मेहनत से जुटे हुए थे, इसलिए हमें इसमें सफलता मिली. आरोपियों की तलाश में पुलिस ने 10 हजार से अधिक बुलेट बाइक को खंगाला था. पुलिस की कई टीमें इस पर काम कर रही थीं.

    Tags: Bulandshahr news, UP police

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें