बुलंदशहर के लड़के ने नोएडा में बैठी दुल्हन से की ऑनलाइन शादी, वीडियो कॉल कर कहा निकाह कुबूल है

दूल्हा बुलंदशहर के पॉटरी नगरी खुर्जा का रहने वाला है. (सांकेतिक फोटो)

दूल्हा बुलंदशहर के पॉटरी नगरी खुर्जा का रहने वाला है. (सांकेतिक फोटो)

लॉकडाउन-2 के पहने दिन 15 अप्रैल को खुर्जा के मोहल्ला पंजाबियान निवासी आरिफ की बारात गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddha Nagar) जनपद के जारचा में जानी थी.

  • Share this:
नोएडा. कोरोना वायरस (Corona virus) के चलते पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) है. देश की सारी यातायात सुविधाएं बंद हैं. लोगों को घर से बाहर निकलने पर मनाही है. इसका असर शादी समारोह पर भी पड़ रहा है. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में एक ऐसा ही मामला सामने आया है. बुलंदशहर के दूल्हे ने लॉकडाउन की वजह से नोएडा की रहने वाली दुल्हन से वीडियो कॉलिंग कर निकाह किया है.



जानकारी के मुताबिक, दूल्हा बुलंदशहर के पॉटरी नगरी खुर्जा का रहने वाला है. उसने लॉकडाउन और  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान को सफल बनाने के लिए ऑनलाइन निकाह किया है. उसने नोएडा में रहने वाली दुल्हन को वीडियो कॉल कर के बोला कि निकाह कुबूल है... कुबूल है...कुबूल है.



15 अप्रैल को बारात लेकर नोएडा जाना था

हिन्दुस्तान अखबार के मुताबिक, लॉकडाउन-2 को अब 3 मई के लिए बढ़ा दिया गया है. लॉकडाउन-2 के पहने दिन 15 अप्रैल को खुर्जा के मोहल्ला पंजाबियान निवासी आरिफ की बारात गौतमबुद्ध नगर जनपद के जारचा में जानी थी. लेकिन पीएम मोदी द्वारा लॉकडाउन-2 की घोषणा करने के बाद आरिफ ने ऑनलाइन निकाह करने का फैसला ले लिया. आरिफ के परिवार वालों ने काजी को घर पर बुलाया और वीडियो कॉलिंग के माध्य से निकाह की रस्में पूरी हुईं. दो अलग-अलग शहरों में बैठे दूल्हा-दुल्हन ने खुशी-खुशी वीडियो कॉल पर बोल दिया कि निकाह कुबूल है, कुबूल है, कुबूल है. खास बात यह है कि निकाह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कियाा गया.
पटना में भी ऑनलाइन हुई थी शादी



बता दें कि कुछ दिन पहले इसी तरह की शादी पटना में हुई थी. दरअसल, दूल्हा यूपी के गाजियाबाद में स्थित साहिबाबाद में बैठा था, वहीं दुल्हन पटना की थी. दोनों के बीच काजी ने ऑनलाइन निकाह करवाया, क्योंकि लॉकडाउन के कारण न बारात आई और न ही शादी की कोई तैयारी की जा सकी. चूंकि निकाह तय समय पर ही कराया जाना था. इसलिए वर और वधू पक्ष ने ऑनलाइन सुविधा के इस जमाने में तकनीक के सहारे शादी कराने का फैसला लिया.



गाजियाबाद से आने वाली थी बारात

पटना के समनपुरा के रहने वाले मरहूम हाजी मुहम्मद अलाउद्दीन की बेटी सादिया नसरीन का निकाह साहिबाबाद निवासी सैमुदुल हसन के बेटे दानिश रजा के साथ 23 मार्च को होना था. शादी की सारी तैयारियां हो चुकी थीं. पटना के हारून नगर में कम्युनिटी हॉल भी बुक हो चुका था. नाते-रिश्तेदारों को निमंत्रण भी जा चुका था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण पटना में लॉकडाउन हो गया और गाजियाबाद में भी. ऐसे में दोनों परिवारों ने तकनीक के जमाने मे ऑनलाइन शादी का फैसला लिया.



ये भी पढ़ें- 



बिहार में मुस्लिम संगठनों का ऐलान- रमजान के महीने में घर में ही पढ़ें नमाज



तेजप्रताप ने पटना में शुरू की लालू की रसोई, रोजाना 500 लोगों को खिलाएंगे खाना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज