लाइव टीवी

बुलंदशहर: जेल में बनाया Radio station, रेडियो जॉकी बन कैदी सुना रहे मनपसंद गाने!

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 30, 2019, 5:44 PM IST
बुलंदशहर: जेल में बनाया Radio station, रेडियो जॉकी बन कैदी सुना रहे मनपसंद गाने!
बुलंदशहर जिला कारागार में रेडियो स्टेशन

जिला कारागार (district jail) में कैदियों के लिए रेडियो स्टेशन (Radio Station) के आलावा लाइब्रेरी (Library) और ई-क्लास (E-Class) की भी व्यवस्था की गई है जिसमें टीवी स्क्रीन (TV screen) के माध्यम से कैदियों को पढ़ाया भी जा रहा है.

  • Share this:
बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिला कारागार (District Prison) के कैदियों को तनावमुक्त रखने के लिए बुलंदशहर जेल (Bulandshahar Jail) प्रशासन ने एक अनूठी पहल करते हुए कारागार में रेडियो स्टेशन (Radio station) बनाया गया सिर्फ इतना ही नहीं इस रेडियो स्टेशन को ऑपरेट करने का काम भी जेल में बंद कैदी ही कर रहे हैं. कैदी ही रेडियो जॉकी (Radio jockey) बनकर अन्य कैदियों के मनपसंद गाने सुना रहे हैं. ये रेडियो स्टेशन कारागार में बंद कैदियों के मनोरंजन का केंद्र बना हुआ है.

तनाव से दूर रखने की है कोशिश
जेल प्रशासन द्वारा जिला कारागार में रेडियो स्टेशन बनाने का मक़सद कारागार में निरुद्ध कैदियों को तनाव मुक्त रखना है. जेल अधीक्षक ओपी कटियार (Jail Superintendent OP Katiyar) के मुताबिक, कारागार में निरुद्ध कैदियों का बाहरी दुनिया से संपर्क टूट जाता है और वह अपने केस, माहौल और परिवार को याद कर तनाव में आ जाते हैं. इस तनाव को दूर करने के उद्देश्य से ही इस रेडियो स्टेशन का निमार्ण कराया गया है, ताकि अपने मन पसंदीदा गानों को सुनकर कैदी तनाव मुक्त रहें और साथ ही समय-समय पर रेडियो के माध्यम से कैदियों को देश के इतिहास, धार्मिक ज्ञान और ऐतिहासिक धरोहरों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी. जिससे तनाव दूर करने के साथ कैदियों का ज्ञानवर्धन भी किया जा सके. इस रेडियो स्टेशन से को कैदी काफी पसंद कर रहे हैं.

कैदियों के लिए लाइब्रेरी और ई-क्लास की भी व्यवस्था

जिला कारागार में कैदियों के लिए लाइब्रेरी (Library) और ई-क्लास (E-Class) की भी व्यवस्था की गई है, जिसमें टीवी स्क्रीन के माध्यम से कैदियों को पढ़ाया भी जा रहा है. जिला कारागार पहुंचे जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार (District Magistrate Ravindra Kumar) ने भी रेडियो स्टेशन का मुआयना किया और जेल अधीक्षक ओपी कटियार व जेल सुधार कार्यकर्ता प्रदीप रघुनंदन की इस पहल के लिए उनकी तारीफ़ के साथ-साथ यह सलाह भी दी कि रेडियो स्टेशन पर फिल्मी गानों के साथ ऐतिहासिक घटनाओं की जानकारी भी कैदियों को दी जाए. जिनसे कैदियों में देश भक्ति की भावनाओं का प्रसार किया जा सके.

(अली शरर की रिपोर्ट )

ये भी पढ़ें - हमीरपुर: शासन के आदेश के बाद .303 रायफल से आखिरी सलामी डीआईजी दीपक कुमार को !
Loading...



खुलासा: बिहार के गैंग ने ऑफिसर बन यूपी पुलिस के इंस्पेक्टरों को लगाया चूना!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुलंदशहर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 4:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...