बुलंदशहर: प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम ने बच्चों को पढ़ाया

गौरतलब है कि बुलंदशहर के सरकारी स्कूलों से लगातार आने वाली बदहाल तस्वीरों के बाद जिलाधिकारी स्कूलों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं. डीएम को शिक्षा की गुणवत्ता में कई खामियां मिलीं जिन्हें डीएम ने दूर करने के निर्देश दिए.


Updated: July 10, 2018, 4:37 PM IST

Updated: July 10, 2018, 4:37 PM IST
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के डीएम अनुज कुमार झा मंगलवार को कमालपुर क्षेत्र के एक प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे. डीएम ने चाक उठाकर ब्लैकबोर्ड पर कई सवाल लिखे जिनका बच्चों ने सही जवाब दिया. डीएम को शिक्षा की गुणवत्ता में कई खामियां मिलीं जिन्हें डीएम ने दूर करने के निर्देश दिए. गौरतलब है कि बुलंदशहर के सरकारी स्कूलों से लगातार आने वाली बदहाल तस्वीरों के बाद जिलाधिकारी स्कूलों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं.

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने चाक उठा कर ब्लक बोर्ड पर कई सवाल लिखे जिनका बच्चों ने सही जवाब दिया. जिलाधिकारी निरीक्षण के दौरान बच्चों की कक्षा में एक अध्यापक की भूमिका में नजर आए. उन्होंने ब्लैक बोर्ड पर एक संख्या अंकित करते हुए बच्चों से गुणा करने को कहा, जिसका अधिकतर बच्चों ने सही उत्तर दिया.

जिलाधिकारी ने बच्चों से पहाड़ा भी सुना और सामान्य ज्ञान के अन्तर्गत कक्षा 4 एवं 5 के बच्चों से 5 पौधों एवं 5 पहाडों के नामों की जानकारी ली. बच्चों ने इन प्रश्नों के सही उत्तर दिए. जिलाधिकारी ने इसी तरह से दूसरी कक्षाओं में शिक्षा की गुणवत्ता परखी. निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा प्रधानाध्यापक को समस्त बच्चों को यूनिफार्म उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए.

प्रधानाध्यापक द्वारा बताया गया कि 122 बच्चों को यूनिफार्म उपलब्ध कराने के लिए धनराशि प्राप्त हो चुकी है और शेष बच्चों के यूनिफार्म के लिए मांग की जा रही है. निरीक्षण के दौरान विद्यालय का प्रांगण, स्वच्छ शौचालय, रसोई एवं आंगनबाड़ी केन्द्र पर विशेष सफाई एवं विभिन्न प्रकार की शिक्षा से संबंधित सचित्र वाल पेंटिंग की अच्छी व्यवस्था पाई गई.

इसी विद्यालय परिसर में पुराने जर्जर भवन का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने बीएसए को निर्देशित करते हुए कहा कि नियमानुसार भवन को ध्वस्त किए जाने का प्रस्ताव प्रस्तुत करें. विद्यालय में एक अतिरिक्त कक्ष की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुए डीएम ने एक कक्ष के निर्माण के आदेश दिए. वर्तमान में विद्यालय तीन कक्षों में संचालित है. निरीक्षण के समय बीएसए अमरीश कुमार उपस्थित रहे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर