बुलंदशहर वकील हत्याकांड: 80 लाख का लेनदेन और अजीज दोस्त के Lie Detector Test से इंकार ने बढ़ाया शक
Bulandshahr News in Hindi

बुलंदशहर वकील हत्याकांड: 80 लाख का लेनदेन और अजीज दोस्त के Lie Detector Test से इंकार ने बढ़ाया शक
बुलंदशहर के एसएसपी ने वकील हत्याकांड में जांच के तमाम पहलुओं से अवगत कराया

बुलंदशहर (Bulandshahr) के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि वकील धर्मेंद्र चौधरी हत्याकांड केस में विक्की और उसके दोनों नौकरों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. पूछताछ के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 1, 2020, 9:13 AM IST
  • Share this:
बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में 25 जुलाई से लापता वकील धर्मेंद्र चौधरी (Advocate Dharmendra Chaudhary) की हत्या (Murder) हो गई है. पुलिस ने उसका शव बरामद किया है. कोतवाली खुर्जा क्षेत्र से लापता वकील धर्मेंद्र चौधरी का शव पुलिस ने फैक्ट्री से बरामद किया है. पुलिस की जांच में हत्या के पीछे करीब 80 लाख की रकम ब्याज पर देने का मामला सामने आया है.

6 किलोमीटर दूर बाइक बरामद

मामले में एसएसपी संतोष कुमार सिंह (SSp Santosh Kumar Singh) ने जांच के तमाम पहलुओं को उजागर किया है. उन्होंने बताया 25 जुलाई की रात को लगभग 11 बजे के आसपास थाने पर वकील धर्मेंद्र चौधरी जो प्रॉपर्टी का काम करते थे, उनके गायब होने की सूचना परिवारवालों द्वारा दी गई. पुलिस लगतार उनकी तलाश में रात भर सर्च ऑपरेशन चलाती रही. अगले दिन सुबह 6 बजे के आसपास उनकी मोटरसाइकिल 6 किलोमीटर दूर सड़क किनारे गड्डे में मिली. उनके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की गई तो उनका मोबाइल भी उसी इलाके में 8.52 पर बंद हुआ पाया गया.



परिवार के लोग किसी पर शक जाहिर नहीं कर पा रहे थे 
लोगों को कई तरह की आशंका थी. परिवार के लोग किसी पर शक जाहिर नहीं कर पा रहे थे क्योंकि उस व्यक्ति का किसी से विवाद नहीं था. उन्होंने बताया कि इस संबंध में एक दर्जन से ज्यादा टीमें गठित की गईं. सर्विलांस की 3 टीमें बनाई गइें. एसओजी की टीमों को भेजा गया. कई संभावित राज्यों में टीमें भेजी गईं, जहां आशंका थी कि वह स्वत: जा सकते हैं.

मामले में कोई क्रिमिनल लिंक नहीं मिल रहा था

एसएसपी ने बताया कि तमाम तरह से जांच के बाद भी इस प्रकरण में कोई क्रिमिनल लिंक नहीं मिल रहा था. जो भी इनके मोबाइल की स्थिति थी, रूट की जांच की गई लेकिन सफलता नहीं मिली.

करीबी दोस्त विक्की के यहां खाना खाने गए थे

इस दौरान जांच में पता चला कि 25 जुलाई की रात 8.06 बजे ये धर्मेंद्र चौधरी अपने अभिन्न मित्र विवेक उर्फ विक्की के यहां खाना खाने गए थे. पता चला कि अक्सर ये लोग वहां पार्टी करते थे. विक्की लगातार पुलिस के साथ तलाश में भी लगा हुआ था. उसने पूछताछ में बताया कि उस रात जैसे ही ये लोग खाना खाने पहुंचे, एक मिनट बाद एक फोन आया और वकील धर्मेंद्र हैलो करते हुए बाहर निकले और कहा कि 5 मिनट में आ रहा हूं. विक्की का कहना है कि जब ये 2 घंटे तक नहीं आए तो उन लोगों ने खाना नहीं खाया. इसके बाद वह अपने दोनों नौकरों के साथ घर चला गया.

धर्मेंद्र की डायरी मिली तो घरवालों को दोस्त विक्की पर हुआ शक

एसएसपी ने बताया कि शहर के सभी सीसीटीवी खंगाले गए, धर्मेंद्र चौधरी की मोटरसाइकिल कहीं भी नहीं दिखी. वहीं विक्की ने जो टाइमिंग बताई गई, उसी अनुसार उसकी मोबाइल लोकेशन दुकान से घर की थी. उन्होंने बताया कि आखिरकार घरवालों को 27 जुलाई की रात को विक्की पर कुछ शक हुआ. उन्हें धर्मेंद्र की अलमारी से एक डायरी मिली, जिसमें करीब 70 से 80 लाख रुपए के लेनदेन का हिसाब था.

ब्याज का था 10 लाख बकाया

इसके बाद घरवालों ने बताया कि धर्मेंद्र चौधरी विक्की को 4 प्रतिशत ब्याज पर पैसे देते थे. डायरी से पता चला कि केवल एक-एक महीने का ब्याज जमा था. ब्याज करीब 10 लाख के आसपास हो गया था. लेकिन किसी भी टेक्निकल जांच में विक्की का लिंक नहीं दिख रहा था, बस ये प्रमाणित था कि आखिरी बार धर्मेंद्र विक्की के यहां गए थे.

विक्की ने लाइ डिटेक्टर टेस्ट के लिए पहले की हां फिर इनकार 

उन्होंने बताया कि इसके बाद हमने विक्की का लाइ डिटेक्टर टेंस्ट कराने का निर्णय लिया. विक्की तैयार भी हो गया. दिल्ली की लैब उन्हें भेजा गया, लेकिन वहां वह मुकर गए. उन्होंने कहा कि मुझे शुगर है. इसके बाद हमारा शक बढ़ गया. शुक्रवार रात को गोदाम में सर्च किया गया, 3 घंटे के प्रयास के बाद उसी गोदाम में एक गड्ढे से बदबू आ रही थी. वो सीमेंटेड था. उसे खुदवाया गया तो उसमें टाइल्स पड़ी थी, जैसे-जैसे हटती गई दुर्गंध बढ़ती गई.

विक्की और दो नौकर हिरासत में

विश्वास हो गया कि यहां शव है. इस दौरान वीडियोग्राफी कराते हुए शव को वहां से निकाला गया. मामले में विक्की और उसके दोनों नौकरों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. पूछताछ के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading