Bulandshahr: महिला डॉक्टर अंतुल तेवतिया कोरोना को हराने में जुटीं, अपनी कमाई से गांव-गांव बांट रहीं दवाईयां

गांव-गांव दवाओं कर रहीं डॉ अंतुल तेवतिया

गांव-गांव दवाओं कर रहीं डॉ अंतुल तेवतिया

Bulandshahr News: डॉक्टर का कहना है कि गांव में कोरोना की बीमारी में बढ़ोतरी हो रही है, जिसके चलते गांव के लोग समय पर दवाई नहीं ले पा रहे थे. इसके बाद 40 हजार लोगों को दवाएं वितरण करने का लक्ष्य बनाया और गांव में दवा का वितरण शुरू कर दिया.

  • Share this:

बुलंदशहर. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के इस दौर में जब कुछ लोग आपदा को अवसर के तौर पर लेते हुए कालाबाजारी करने में जुटे हैं, वहीं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जनपद बुलंदशहर (Bulandshahr) में एक महिला डॉक्टर अंतुल तेवतिया (Dr Antul Tewatia) ने कोरोना को हारने के लिए सब कुछ दांव पर लगा दिया है. बीजेपी समर्थित जिला पंचायत सदस्य डॉ अंतुल  गांव-गांव जाकर सभी लोगों को कोरोना की दवाइयां एवं ऑक्सी मीटर एवं भाप लेने के लिए मशीनों का वितरण किया.

वार्ड नंबर 8 से भाजपा समर्थित नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य महिला नेता डॉ अंतुल तेवतिया ने अनोखी पहल शुरू की है. डॉक्टर का कहना है कि गांव में कोरोना की बीमारी में बढ़ोतरी हो रही है, जिसके चलते गांव के लोग समय पर दवाई नहीं ले पा रहे थे. इसके बाद 40 हजार लोगों को दवाएं वितरण करने का लक्ष्य बनाया और गांव में दवा का वितरण शुरू कर दिया. अब तक लगभग 3 लाख से अधिक की दवाई निशुल्क वितरित कर चुकीं है. साथ ही हेल्पलाइन नंबर भी सोशल मीडिया पर जारी किया है. यदि किसी को दवा की जरूरत है तो वह पूरे बुलंदशहर जनपद में कहीं से भी फोन करके बता सकता है और उस व्यक्ति के घर तक फ्री ऑफ कॉस्ट दवा मुहैया कराई जाएगी. साथ ही जब 40 हजार का लक्ष्य पूरा हो जाएगा तो आगे भी लोगों को दवाइयां बांटने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है.

डॉ अंतुल ने कहा कि महामारी में सभी लोगों को अपना-अपना योगदान देना चाहिए। सभी लोगों से हाथ जोड़कर अपील भी की है कि जरूरत पड़ने पर अपने-अपने घरों से निकले और सोशल डिस्टेंस के साथ कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन करें।.यदि अगर किसी व्यक्ति को स्वास्थ्य के प्रति कोई समस्या आती है तो हम लोग सब उसके साथ हैं. दवाओं के साथ-साथ खाने-पीने के सामान की भी व्यवस्था की जाएगी. डॉक्टर अंतुल तेवतिया पेशे से एमबीबीएस सर्जन हैं और उनका हॉस्पिटल भी है. हॉस्पिटल की कमाई हुई धनराशि से वह सभी लोगों को फ्री ऑफ कॉस्ट कोरोना काल में दवाएं उपलब्ध करा रही हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज