लाइव टीवी

बुलंदशहर हिंसा: जीतू फौजी बोला- मैं वहां था लेकिन न मैंने गोली मारी और न मैं भगोड़ा
Bulandshahr News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 9, 2018, 9:14 PM IST

जीतू फौजी ने कहा कि मैं वहां पर था लेकिन मैंने ऐसा कुछ नहीं किया है. न ही मैंने किसी को गोली मारी है. जो बोल रहे हैं कि भगोड़ा हूं, मैं कोई भगोड़ा नहीं हूं.

  • Share this:
बुलन्दशहर हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या में गिरफ्तार आरोपी जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है. कोर्ट से जेल ले जाने के दौरान जीतू फौजी ने पुलिस पर उसके घर में तोड़फोड़ करने के आरोप लगाए. वहीं कहा कि वह भगोड़ा नहीं है, न ही किसी को उसने गोली मारी है.

बुलंदशहर: इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या में आरोपी जीतू फौजी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

जीतू फौजी ने कहा, 'मैं वहां पर था लेकिन मैंने ऐसा कुछ नहीं किया है. न ही मैंने किसी को गोली मारी है. जो बोल रहे हैं कि भगोड़ा हूं, मैं कोई भगोड़ा नहीं हूं. मैंने 7 तारीख को हाजिरी रिपोर्ट दी है.'

उसने पुलिस पर आरोप लगाया, 'उसके घर पर जाकर तोड़फोड़ की गई. मैं कोई आतंकी नहीं हूं. जो भी पूछताछ करनी थी, मेरे को बुलाना था. मुझे फंसाया गया है. आतंकियों की तरह इन्होंने मेरे घर पर तोड़फोड़ की है.'



इससे पहले क्राइम ब्रांच की टीम जीतू फौजी से कई घंटों की पूछताछ के बाद जिला अस्पताल में मेडिकल करवाकर भारी सुरक्षा में कोर्ट लेकर पहुंची थी. देर रात राष्ट्रीय राइफल 22 ने यूपी एसटीएफ को मेरठ में जीतू फौजी को सौंपा था. इसके बाद जीतू फौजी को लेकर यूपी एसटीएफ की टीम रविवार सुबह बुलंदशहर पहुंची.

बुलंदशहर हिंसा: कौन बोल रहा सच?- जीतू फौजी का STF को दिया बयान या उसकी पत्नी का दावा

एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने बताया कि बुलंदशहर मामले में आर्मी के जवान जितेंद्र मलिक को गिरफ्तार कर लिया गया है. आर्मी ने उसे 12.50 बजे हैंडओवर किया है. मामले की शुरुआती जांच हो गई है. उसे बुलंदशहर भेज दिया गया है.

एसएसपी ने कहा कि जीतू ने स्वीकार किया है कि घटनास्थल पर जब भीड़ इकट्ठा होनी शुरू हुई तो वह मौके पर मौजूद था. उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच में यह बात सही निकली है.

एसटीएफ एसएसपी ने इसके बाद कहा कि ये अभी साफ नहीं हुआ है कि जीतू ने ही इंस्पेक्टर को गोली मारी या सुमित ने. उसने बयान दिया है कि वह गांव वालों के साथ घटनास्थल पर गया था लेकिन उसने पुलिस पर पत्थर फेंकने की बात से इंकार किया है. मामले में उसके मोबाइल की फॉरेंसिक जांच कराई जा रही है.

ये भी पढ़ें: 

बुलंदशहर हिंसा: जीतू फौजी से मिलने पहुंचा उसका भाई, नहीं मिली अनुमति

लखनऊ: शिवपाल की ‘जनाक्रोश रैली' में मंच साझा करने पहुंचे मुलायम सिंह यादव

सीएम योगी के बयान के बाद रामपुर के हनुमान मंदिर पर वाल्मीकि समाज ने ठोका दावा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुलंदशहर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2018, 7:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर