बुलंदशहर: नहर में गिरी तेज रफ्तार कार, एक ही परिवार के चार लोग घायल

स्थानीय लोगों ने बताया कि कार तेज रफ्तार में थी. यहां डिवाइडर नहीं होने के कारण अचानक नहर में जा गिरी. कार में एक ही परिवार के चार लोग सवार थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 17, 2018, 5:14 PM IST
बुलंदशहर: नहर में गिरी तेज रफ्तार कार, एक ही परिवार के चार लोग घायल
नहर से निकली जाती दुर्घटनाग्रस्त कार. Photo: News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 17, 2018, 5:14 PM IST
बुलंदशहर में रविवार को एक तेज रफ्तार कार नहर में जा गिरी. दुर्घटना में कार में सवार एक ही परिवार के चार लोग घायल हो गए. घटना अनूपशहर- अलीगढ़ रोड पर सूरजपुर मखैना नहर के पास घटी. स्थानीय लोगों ने बताया कि नहर पर डिवाइडर नहीं होने के कारण आए दिन यहां हादसे होते रहते हैं. अब तक जिला प्रशासन की तरफ से किसी भी घटना पर कोई सबक नहीं लिया है.

स्थानीय लोगों ने बताया कि कार तेज रफ्तार में थी. यहां डिवाइडर नहीं होने के कारण अचानक नहर में जा गिरी. कार में एक ही परिवार के चार लोग सवार थे. घटना के फौरन बाद स्थानीय लोग मौके पर पहुंच गए, जिन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद चारों लोगों को कार से सुरक्षित बाहर निकाल लिया. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन से कार को नहर से बाहर निकलवाया.

जानकारी के अनुसार चारों लोगों को हल्की चोटें आई हैं, सभी सुरक्षित हैं. उधर लोगों ने मांग की है कि नहर पर डिवाइडर जल्द से जल्द बनवाया जाए ताकि आगे कोई हादसा न हो.

सहारनपुर: टूटी पटरी से गुजरती रहीं ट्रेनें, टला बड़ा हादसा

उधर सहारनपुर रेलवे स्टेशन पर रेल अधिकारियों में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 3 पर पटरी टूटने की सूचना मिली. सूचना मिलते ही आनन-फानन में रेलवे के अधिकारी सीनियर सेक्शन इंजीनियर के साथ मौके पर पहुंचे और पटरी का बारीकी से निरिक्षण किया. चौंकाने वाली बात ये रही कि टूटी हुई पटरी से शालीमार एक्सप्रेस ट्रेन समेत कई ट्रेनें गुजर गई. गनीमत रही कि स्टेशन होने के चलते सभी ट्रेने रुककर धीमी गति से निकल गईं, जिससे न सिर्फ एक बड़ा हादसा होने से टल गया, बल्कि रेलवे अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली है.

हालांकि पता चलने पर बाद में अधिकारियों ने इंजीनियरों की मदद से टूटी पटरी को मरम्मत करा दिया. बताया जा रहा है कि जैसे ही ट्रेन तीन नंबर प्लेटफार्म के पास पटरी से होकर गुजरी तो प्लेटफार्म नंबर 5 पर खड़ी लखनऊ-चंडीगढ़ सदभावना एक्सप्रेस के गार्ड की नजर टूटे हुए ट्रैक पर पड़ गई, जिसके बाद गार्ड राजकुमार ने इसकी सूचना रेलवे अधिकारियों को दी.

ट्रैक टूटने की सुचना मिलते ही रेलवे अधिकारियों में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में रेलवे अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर टूटी हुई पटरी का बारीकी से निरीक्षण किया. जिसके बाद सीनियर सेक्शन इंजिनियर की टीम को मौके पर बुलाया गया. इस दौरान प्लेटफार्म नंबर तीन पर आने वाली सभी ट्रेनों को दूसरी लाइनों पर डायवर्ट कर दिया गया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर