बुलंदशहर हिंसा: जिला प्रशासन ने 3 आरोपियों पर लगाई NSA
Bulandshahr News in Hindi

गौरतलब है कि पिछले महीने हुई भीड़ हिंसा की इस घटना में स्थानीय कोतवाल सुबोध कुमार सिंह और एक युवक की मौत हो गई थी. पुलिस ने इस मामले में 27 को नामजद व 50 से 60 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

  • Share this:
बुलंदशहर हिंसा मामले में जिला प्रशासन ने जेल में बंद तीन आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की है. जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि सोमवार को पुलिस रिपोर्ट के आधार पर आरोपी अजहर निवासी कैथवाला, नदीम उर्फ नदीमुद्दीन और महबूब अली निवासी चौधरियान, थाना स्याना अपने साथियों के साथ गोकशी में संलिप्त पाए गए हैं. उन्होंने कहा कि गांव महाब और नयाबांस में इन लोगों के इस कृत्य से लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची. विरोध स्वरूप लोगों ने हिंसात्मक प्रदर्शन किया. साथ ही, पुलिस पर लाठी, डंडों, कुल्हाड़ी आदि से प्रहार कर व गोली मारकर इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या कर दी थी.

बुलंदशहर हिंसा: जेल में बंद आरोपी के नाम से लगाए गए मकर संक्रांति की शुभकामना वाले पोस्टर

संभावना है कि आरोपी जेल से छूटने के बाद साक्ष्यों से छेड़छाड़ कर सकते हैं. इसलिए तीनों आरोपियों को एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम) में निरुद्ध किया गया है. गौरतलब है कि पिछले महीने हुई भीड़ हिंसा की इस घटना में स्थानीय कोतवाल सुबोध कुमार सिंह और एक युवक की मौत हो गई थी. पुलिस ने इस मामले में 27 को नामजद व 50 से 60 अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. पवन कुमार के साथ अब तक कुल 35 आरोपी जेल जा चुके हैं. उधर शिखर समेत करीब 50 आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं.



जिलाधिकारी अनुज कुमार झा

एक महीने बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज

आपको बता दें कि बुलंदशहर में भीड़ के हमले में इंस्पेक्टर सुबोध के अलावा एक अन्य युवक की मौत हो गई थी. चौधरी ने यह भी बताया कि इंस्पेक्टर ने आत्मरक्षा में गोली चलाई थी, जिसमें सुमित नाम के युवक की मौत हो गई थी. उसकी उम्र 20 साल के करीब थी. पुलिस सूत्रों के अनुसार 'वीडियो फुटेज’ और कुछ लोगों की गवाही के आधार पर इंस्पेक्टर की हत्या में प्रशांत नट को संदिग्ध पाया गया था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

(रिपोर्ट- सैय्यद अली शरर)

ये भी पढ़ें:

OPINION: महागठबंधन में मायावती हो सकती हैं 2019 का प्रधानमंत्री फेस

कुंंभ के पहले शाही स्नान में स्‍मृति ईरानी ने लगाई डुबकी, मोदी ने शेयर किया वीडियो

प्रयागराज कुंभ 2019: मकर संक्रांति पर पहला शाही स्नान, करोड़ों ने लगाई आस्था की डुबकी

ऐसे शुरू हुई अखिलेश यादव और डिंपल की प्रेम कहानी!

सुर्खियां: कुंभ पहुंचे कोटि-कोटि देव, यूपी में एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट का सख्त रुख

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज