लाइव टीवी
Elec-widget

नोएडा के बाद बुलंदशहर में सामने आया होमगार्ड भत्ता घोटाला, FIR दर्ज

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 28, 2019, 10:48 AM IST
नोएडा के बाद बुलंदशहर में सामने आया होमगार्ड भत्ता घोटाला, FIR दर्ज
बुलंदशहर में सामने आया होमगार्ड भत्ता घोटाला (प्रतीकात्‍मक फोटो)

एक हफ्ते पहले जनपद गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddh Nagar) में होमगार्डों (Homeguards) की कथित तौर पर फर्जी हाजिरी लगाकर सरकार को करोड़ों रुपये की चपत लगाने का मामला सामने आया था.

  • Share this:
बुलंदशहर. यूपी के नोएडा के बाद बुलंदशहर (Bulandshahr) में होमगार्ड फर्जी मस्टररोल घोटाला (Homeguards Duty Scam) सामने आया है. जांच के बाद घोटाले की बात सामने आई है. जिसके बाद एसएसपी संतोष कुमार के आदेश पर नगर कोतवाली में कई जिम्मेदारों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. दरअसल शिकायत मिलने के बाद बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने एसपी सिटी अतुल कुमार की जांच सौंपी थी. एसएसपी की ओर से दावा किया गया कि 7 थानों के होमगार्डो की ड्यूटी में बड़ा घोटाला मिला है. जबकि 100 से अधिक होमगार्डों का फर्जी तरीक़े से मानदेय लेने का मामला सामने आया है.

घोटालेबाजों के खिलाफ केस दर्ज

अभी भी 20 थानों की जांच रिपोर्ट आनी बाक़ी है, जिसके बाद कई जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई होना तय माना जा रहा है. हालांकि एसएसपी ने अभी एफआईआर में दर्ज अभियुक्तों के नाम नहीं बताए हैं. मगर एसएसपी की ओर से दावा किया जा रहा है कि इसमें शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. इससे पहले नोएडा में होमगार्ड की फर्जी तैनाती दिखाकर वेतन निकालने वाले घोटालेबाजों द्वारा सुबूतों (Evidence) को नष्ट करने के आरोप में पांच लोगों की गिरफ़्तारी किया गया था. मामले में डीजीपी ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने कहा था कि सुनियोजित तरीके से सुबूतों को नष्ट करने के लिए आग लगाई गई.

बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह
बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह


यह है पूरा मामला

एक हफ्ते पहले जनपद गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddh Nagar) में होमगार्डों (Homeguards) की कथित तौर पर फर्जी हाजिरी लगाकर सरकार को करोड़ों रुपये की चपत लगाने का मामला सामने आया था. इसके बाद इस मामले में शासन स्तर की एक समिति ने जांच शुरू कर दी है. मामले में जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) ने अपनी खुद की जांच के बाद होमगार्ड विभाग के अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा लिखने की संस्तुति की थी, लेकिन शासन ने अपने स्तर से भी जांच कराने का निर्णय लिया. अब इस मामले की जांच चार सदस्यीय टीम कर रही है.

(रिपोर्ट- सैय्यद अली शरर)
Loading...

ये भी पढ़ें:

देवरिया: शराब दुकान के मुनीम की गोली मारकर हत्या

यूपी BJP ने घोषित किए 59 जिला-महानगर अध्यक्ष, पुराने चेहरों पर फिर जताया भरोसा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुलंदशहर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 10:36 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...