लाइव टीवी

बुलंदशहर हिंसा: परिवार का दावा- अखलाक लिंचिंग के अहम गवाह थे इंस्पेक्टर सुबोध, इसलिए हुई हत्या
Bulandshahr News in Hindi

News18Hindi
Updated: December 6, 2018, 9:12 AM IST
बुलंदशहर हिंसा: परिवार का दावा- अखलाक लिंचिंग के अहम गवाह थे इंस्पेक्टर सुबोध, इसलिए हुई हत्या
इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह (फाइल)

साल 2015 में ग्रेटर नोएडा के दादरी में भीड़ ने मोहम्मद अखलाक और उनके बेटे पर घर में घुसकर हमला कर दिया था, इसमें अखलाक की मौत हो गई थी. इस केस में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार गवाह नंबर-7 थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2018, 9:12 AM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के स्याना गांव में सोमवार को गोकशी की अफवाह में फैली हिंसा के बाद इलाके के हालात तनावपूर्ण हैं. इस बीच हिंसा में मारे गए पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का बहुचर्चित अखलाक लिंचिंग केस से कनेक्शन सामने आया है. पीड़ित परिवार का दावा है कि इंस्पेक्टर सुबोध गोकशी के शक में हुए मोहम्मद अखलाक की पीट-पीटकर हत्या (मॉब लिंचिंग) मामले में जांच अधिकारी और अहम गवाह रह चुके हैं.

बुलंदशहर हिंसा के बाद गोकशी को लेकर ताबड़तोड़ छापे, शिक्षक भर्ती में सीबीआई की FIR

बता दें कि साल 2015 में ग्रेटर नोएडा के दादरी में भीड़ ने मोहम्मद अखलाक और उनके बेटे पर घर में घुसकर हमला कर दिया था, जिसमें अखलाक को काफी चोटें आईं. उन्हीं चोटों की वजह से अखलाक की मौत हो गई थी. इस केस में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार गवाह नंबर-7 थे.

पीड़ित परिवार की ओर से केस की पैरवी कर रहे यूसुफ सैफी ने कहा, 'इंस्पेक्टर सुबोध कुमार ने 28 सितंबर 2015 से 9 नवंबर 2015 तक मामले की जांच की थी. हालांकि, जांच के दौरान ही उनका वाराणसी तबादला कर दिया गया था. उनके तबादले के बाद अखलाक मर्डर केस में दूसरे जांच अधिकारी ने मार्च 2016 में चार्जशीट दाखिल की थी.'



बुलंदशहर हिंसा का पूरा VIDEO: मारो...मारो... चिल्लाते हुए पत्थर फेंक रही थी भीड़

इस मामले में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर पीड़ित परिवार से मुलाकात करने वाले हैं. सीएम योगी पहले ही इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद, असाधारण पेंशन और परिवार के एक सदस्य के सरकारी नौकरी देने की घोषणा कर चुके हैं.

वहीं, इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की बहन ने अपने भाई के नाम पर शहीद स्मारक बनाए जाने की भी मांग की है.

बुलंदशहर हिंसा का पूरा VIDEO: 'उपद्रवी' सुमित को गोली लगने के बाद हुई इंस्पेक्टर की हत्या

उधर, इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आ चुकी है. इसके मुताबिक, उनकी मौत गोली लगने से हुई. सुबोध सिंह को बांयी आंख की भौं के पास गोली लगी. यह गोली 0.32 की थी. फिलहाल मामले की जांच जारी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बुलंदशहर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2018, 8:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,709

     
  • कुल केस

    6,412

     
  • ठीक हुए

    503

     
  • मृत्यु

    199

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 10 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,685

     
  • कुल केस

    1,604,072

    +788
  • ठीक हुए

    356,656

     
  • मृत्यु

    95,731

    +38
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर